BREAKING NEWS

आज का राशिफल ( 30 अक्टूबर 2020 )◾आतंकवाद के खिलाफ जंग में भारत फ्रांस के साथ : PM मोदी◾PM मोदी आज से दो दिन के गुजरात दौरे पर, देश की पहली सी-प्लेन सेवा का करेंगे उद्घाटन◾CSK vs KKR ( IPL 2020 ) : रुतुराज और जडेजा ने चेन्नई सुपरकिंग्स को दिलाई जीत, मुंबई प्ले आफ में◾जम्मू कश्मीर के कुलगाम में आतंकी हमला, भाजपा के तीन कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या◾कांग्रेस 31 अक्टूबर को मनाएगी ‘किसान अधिकार दिवस’, जिला मुख्यालयों पर देगी धरना◾नीतीश की दोहरी चुनौती : NDA के भीतर पार्टी को शीर्ष स्थान पर रखना, सत्ता बरकरार रखना◾एस जयशंकर ने यूनान के विदेश मंत्री डेंडियास से वार्ता की◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾बिहार में NDA गठबंधन की मजबूत सरकार बनेगी : रविशंकर प्रसाद ◾पाकिस्तान का कबूलनामा, मंत्री फवाद चौधरी ने कहा- पुलवामा हमला इमरान सरकार की बड़ी उपलब्धि◾राहुल को घेरे जाने पर कांग्रेस का पलटवार - बिहार चुनाव में हार तय देखकर BJP को याद आया पाकिस्तान◾सपा का बसपा पर जोरदार हमला , कहा - मायावती ने खुद ही खोली अपनी पोल◾केशुभाई पटेल के निधन पर राष्ट्रपति कोविंद ने जताया शोक, कहा - देश ने एक महान नेता खोया◾बंबई उच्च न्यायालय ने केंद्र से पूछा - क्या 'अत्यधिक' मीडिया रिपोर्टिंग से न्याय बाधित होता है ? ◾दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण रोकने के लिए नया कानून लागू - 1 करोड़ का जुर्माना, 5 साल की जेल◾फ्रांस: नीस के गिरिजाघर में आतंकी ने किया चाकू से हमला, कम से कम दो लोगों की ली जान◾मोदी कैबिनेट ने लिए 3 बड़े अहम फैसले, खाद्यान्नों की पैकिंग जूट की बोरी में करना हुआ अनिवार्य◾मुंगेर हिंसा: EC ने लिया एक्शन, हटाए गए जिले के डीएम और एसपी, 7 दिन के अंदर मांगी रिपोर्ट ◾भाजपा सांसद मनोज तिवारी के हेलीकॉप्टर में तकनीकी खराबी की वजह से हुई इमरजेंसी लैंडिंग◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

मुख्यमंत्री ने विभिन्न जिलों के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया हवाई सर्वेक्षण, कोसी नदी के पूर्वी तटबंध का भी किया निरीक्षण

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज विभिन्न जिलों के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों एवं तटबंधों का हवाई सर्वेक्षण किया। मुख्यमंत्री ने बूढ़ी गंडक (समस्तीपुर, बेगूसराय, खगड़िया का क्षेत्र), कोसी (खगड़िया, भागलपुर, सहरसा, सुपौल का क्षेत्र), गंगा (भागलपुर एवं कटिहार का क्षेत्र), महानंदा (कटिहार, पूर्णिया एवं किशनगंज का क्षेत्र) परमान/कनकई (कटिहार, पूर्णिया एवं अररिया का क्षेत्र), कमला बलान/कोसी/करेह बागमती (मधुबनी, दरभंगा एवं समस्तीपुर का क्षेत्र) का हवाई सर्वेक्षण किया। 

कटिहार जिलान्तर्गत मुख्यमंत्री ने केवाला ग्राम से बाघमारा ग्राम तक बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य, लाभा चैकिया पहाड़पुर महानंदा दाया तटबंध, झौवा दिल्ली दिवानगंज महानंदा बायां तटबंध का भी हवाई सर्वेक्षण किया। साथ ही भागलपुर जिलान्तर्गत लत्तीपुर नारायणपुर जमींदारी बाॅध, इस्माइलपुर बिंद टोली तटबंध, ज्ञानीदास झल्लूदास टोला सुरक्षात्मक कार्य, टपुआ बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य का भी मुख्यमंत्री ने हवाई सर्वेक्षण किया।

 

मुख्यमंत्री ने पूर्णिया के चूनापुर हवाई अड्डा के काॅन्फ्रेंस हाॅल में पूर्णिया प्रमण्डल की आयुक्त एवं जिलाधिकारी के साथ संभावित बाढ़ एवं कोरोना संक्रमण की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की। समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने संभावित बाढ़ की स्थिति से निपटने हेतु की गयी तैयारी एवं कोरोना संक्रमण की अद्यतन स्थिति की जानकारी दी। 

समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुये कहा कि अभी इस क्षेत्र में नदियों का जलस्तर कम है लेकिन बाढ़ की संभावना सितम्बर माह तक बनी रहेगी। इसके लिये पूरी तैयारी एवं सतर्कता बनाये रखें। उन्होंने कहा कि जिलों में संभावित बाढ़ वाले क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण की जांच तेजी से करायें। एयरफोर्स स्टेशन पर कैम्प लगाकर सभी की टेस्टिंग करा दें।

समीक्षा के दौरान विधायक श्रीमती लेसी सिंह, मुख्य सचिव  दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव  चंचल कुमार, सचिव जल संसाधन  संजीव हंस, आयुक्त पूर्णिया प्रमण्डल श्रीमती सफीना एन, जिलाधिकारी पूर्णिया  राहुल कुमार, पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा, वायुसेना के वरीय अधिकारी सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। 

पूर्णिया के पश्चात मुख्यमंत्री ने सुपौल के वीरपुर पहुॅचकर कोसी नदी के पूर्वी तटबंध का निरीक्षण किया। तटबंध के स्पर संख्या-10 पिपराही, वीरपुर का निरीक्षण किया। 

निरीक्षण के दौरान बाढ़ से बचाव को लेकर विभिन्न बिन्दुओं पर संबंधित विभागीय अधिकारियों से चर्चा की और कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। चर्चा में मुख्यमंत्री को बताया गया कि सिल्टेशन के कारण ही बाॅध और स्पर पर दवाब बढ़ता है, जिस कारण से बाढ़ आती है। सुपौल जिलान्तर्गत 22 किलोमीटर के तटबंध क्षेत्र में कुल 50 स्पर तटबंध की सुरक्षा हेतु निर्माण किये गये हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि सभी स्पर एवं तटबंध का नियमित निरीक्षण करते रहें तथा आवश्यकतानुसार पुन:स्थापना का कार्य भी करते रहे।

निरीक्षण के क्रम में मुख्य सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, सचिव जल संसाधन संजीव हंस, जिलाधिकारी सुपौल, पुलिस अधीक्षक सुपौल सहित अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे।