BREAKING NEWS

महाराष्ट्र: प्रदर्शन के बाद PMC के जमाकर्ता हिरासत में, CM उद्घव ने मदद का दिलाया भरोसा◾नागरिकता कानून वापस लेने के लिए याचिका दायर करेगी BJP की सहयोगी असम गण परिषद◾वीर सावरकर पर बयान देकर मुश्किल में फंसे राहुल, पोते रंजीत ने की कार्रवाई की मांग◾सावरकर वाले बयान पर कांग्रेस पर हमलावर हुई मायावती, कहा- अब भी शिवसेना के साथ क्यों, यह आपका दोहरा चरित्र नहीं?◾नेपाल के सिंधुपलचौक में यात्रियों से भरी बस दुर्घटनाग्रस्त, 14 लोगों की दर्दनाक मौत◾भारतीय मुसलमान घुसपैठिए और शरणार्थी नहीं, डरना नहीं चाहिए : रिजवी◾निर्भया के दोषियों को फांसी देना चाहती हैं इंटरनेशनल शूटर वर्तिका, अमित शाह को खून से लिखा खत ◾पश्चिम बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन, कई स्थानों पर सड़कें अवरुद्ध◾नागरिकता संशोधन बिल में बदलाव को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने दिए संकेत◾अनशन पर बैठीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल हुईं बेहोश, LNJP अस्पताल में भर्ती◾CAB के खिलाफ प्रदर्शनों के बाद आज गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू में ढील◾झारखंड विधानसभा चुनाव: देवघर में प्रत्याशियों की आस्था दांव पर◾ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾भाजपा ने किया कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन : किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का लगाया आरोप ◾कांग्रेस जवाब दे कि न्यायालय में उसने भगवान राम के अस्तित्व पर क्यों सवाल उठाए : ईरानी◾

बिहार

जलवायु परिवर्तन का गरीबों, महिलाओं और कृषि पर सर्वाधिक असर : सुशील

 sushil modi

बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जलवायु परिवर्तन के संभावित खतरे के प्रति चिंता व्यक्त करते हुये आज कहा कि इसका सर्वाधिक असर गरीबों, महिलाओं और कृषि क्षेत्र पर पड़ रहा है। 

श्री मोदी ने यहां बिहार विधानमंडल के सेंट्रल हॉल में आयोजित ‘राज्य में जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न आपदाजनक स्थिति पर विमर्श’ के लिए आयोजित बैठक में कहा कि जलवायु परिवर्तन का सर्वाधिक असर गरीबों, महिलाओं और कृषि क्षेत्र पर पड़ रहा है। 

उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार के निर्देश पर जलवायु परिवर्तन के मद्देनजर राज्य कार्ययोजना तैयार की जा रही है, जिससे 10 विभाग कृषि, मत्स्य संसाधन, जल संसाधन, आपदा प्रबंधन, नगर विकास, परिवहन, ऊर्जा, स्वास्थ्य, उद्योग और खनन सम्बद्ध हैं। बिहार में पर्यावरण एवं वन विभाग का नाम पहले ही बदल कर ‘ पर्यावरण, वन व जलवायु परिवर्तन ’ विभाग कर दिया गया है। 

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार के ‘जल शक्ति अभियान’ के तहत बिहार के 12 जिलों के 30 प्रखंड को शामिल किया गया था, जिसका मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर राज्य के सभी 38 जिलों में विस्तार कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पहले ही सभी जलह्मोतों को चिन्हित और उनकी पहचान कर उनके पुनर्स्थापन और उड़ही का निर्णय लिया है। 

श्री मोदी ने कहा कि बिहार में 01 से 15 अगस्त 2019 के बीच ‘वन महोत्सव’ का आयोजन कर सघन पौधारोपण के तहत 1.75 करोड़ पौधे लगाए जायेंगे। इस दौरान ग्रामीण विकास विभाग महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) के तहत 50 लाख और वन विभाग अपनी विभिन्न योजनाओं के तहत 1.25 करोड़ पौधारोपण करेगा। जितने भी पौधे लगाए जायेंगे वे चार फुट लम्बे और दो वर्ष पुराने होंगे। 

शहरी क्षेत्रों में गैबियन के बीच पौधे लगाए जायेंगे तथा बाद में भी उनकी देखरेख एवं पानी देने की व्यवस्था की जायेगी। 

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि वन विभाग ने निर्णय लिया है कि सड़क एवं अन्य निर्माण के दौरान अब कोई पेड़ काटा नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि राजधानी पटना के सगुना मोड़ के पास एक एजेंसी के माध्यम से पेड़ के प्रत्यारोपण का प्रयोग किया जा रहा है।