BREAKING NEWS

लोकसभा में कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने उठाया चुनावी बॉन्ड का मुद्दा◾साध्वी प्रज्ञा को रक्षा मंत्रालय की समिति में मिली जगह, कांग्रेस ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण◾दिल्ली : महाराष्ट्र में शिवसेना संग गठबंधन पर सीडब्ल्यूसी ने लगाई मुहर ◾महाराष्ट्र में सरकार गठन की प्रकिया 1 दिसंबर से पहले हो जाएगी पूरी : संजय राउत ◾दिल्ली : सोनिया गांधी के आवास पर सीडब्ल्यूसी की बैठक, महाराष्ट्र पर चर्चा की संभावना◾झारखंड विधानसभा चुनाव : पहले चरण में भाजपा के लिए सीटें बचाना हुआ मुश्किल , 'अपने' दे रहे कड़ी टक्कर ◾पेट्रोल, डीजल के दाम में वृद्धि पर लगा ब्रेक, देखें पूरी लिस्ट◾भारत को सौंपे गए तीन और राफेल विमान, पायलट-टेक्नीशियंस का प्रशिक्षण शुरू : सरकार◾भारत को सौंपे गए तीन और राफेल विमान, पायलट-टेक्नीशियंस का प्रशिक्षण शुरू : सरकार◾दिल्ली में निशुल्क यात्रा की योजना लागू होने के बाद से महिला यात्रियों की हिस्सेदारी 10 फीसदी बढ़ी ◾तीसहजारी कांड : दिल्ली पुलिस ने अदालत में दाखिल की प्रगति रिपोर्ट, SIT जांच में मांगा सहयोग◾लोकसभा से चिट फंड संशोधन विधेयक 2019 को मंजूरी◾महाराष्ट्र की राजनीतिक तस्वीर साफ हुई, जल्द बन सकती है शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस की सरकार ◾मंत्रिमंडल ने 1.2 लाख टन प्याज आयात की मंजूरी दी : सीतारमण◾NC, PDP ने कश्मीर में सामान्य हालात बताने पर केंद्र की आलोचना की◾पृथ्वी-2 मिसाइल का रात के समय सफलतापूर्वक परीक्षण ◾महाराष्ट्र में सरकार गठन पर जल्द मिलेगी गुड न्यूज : राउत ◾सकारात्मक चर्चा हुई, जल्द सरकार बनेगी : चव्हाण◾'हिटलर की बहन' वाले बयान पर बेदी का मुख्यमंत्री पर पलटवार◾यशवंत सिन्हा ने 22 से 25 नवंबर तक कश्मीर यात्रा की घोषणा की ◾

बिहार

कांग्रेस को अटलजी का उपहास भारी पड़ेगा : सुशील कुमार मोदी

पटना : भाजपा नेतृत्व वाले एनडीए का जनाधार आज बिहार, यूपी सहित सहित 20 राज्यों में काफी मजबूत हुआ है और16 राज्यों में हमारी सरकार है, इसलिए सोनिया गांधी किसी गलतफहमी में न रहें। 2004 में अटलजी की सरकार को दूसरा मौका न देने की जनता से जो चूक हुई, वह 2019 में हर्गिज नहीं दोहरायी जाएगी। पहले दौर के मतदान से हवा का रुख साफ हो गया है। जैसे हमने डोकलाम में चीन को बता दिया कि यह 1962 का भारत नहीं, वैसे ही इस बार कांग्रेस को समझा देंगे कि यह 2004 की भाजपा नहीं है।

15 साल में भाजपा न केवल दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी हो गई, बल्कि देश में पूर्वोत्तर,पश्चिम बंगाल और उड़ीसा से लेकर केरल तक पार्टी का प्रभाव बढ़ा। आज दलित, पिछड़ा,अतिपिछड़ा, किसान, महिला और युवाओं का हमें अपार समर्थन मिल रहा है।

रक्छा और विदेशी मामलों में ही नहीं, कश्मीर के अलगाववादियों और नक्सलियों के घरेलू मोर्चे तक हमारी सरकार ने बचाव की जगह घर में घुस कर मारने की जो नीति अपनायी,उसने लोगों का दिल जीत लिया। 2004 में यूपी-बिहार जैसे निर्णायक राज्यों में जहां हमारा संगठन कमजोर था, वहीं इन राज्यों में अब हमारी लोकप्रिय सरकारें हैं और कांग्रेस एक-एक सीट के लिए मोहताज है। आंध्र, महाराष्ट्र में कांग्रेस का किला ध्वस्त हो चुका है। सोनिया गांधी ने भारत रत्न वाजपेयी का उपहास करते हुए जो बयान दिया है, उसका जवाब जनता एनडीए सरकार को भारी बहुमत से सत्ता में लौटाकर देगी।