BREAKING NEWS

कोर्ट की अवमानना मामले में वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण दोषी करार◾जम्मू-कश्मीर : स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले श्रीनगर में आतंकवादी हमला, दो पुलिसकर्मी शहीद◾सुशांत मामले में बदले संजय राउत के सुर, कहा-अभिनेता के परिवार को मिले न्याय◾कोरोना वैक्सीन बनाने वाले देशों में से एक होगा भारत, सरकार को वितरण रणनीति बनाने की जरूरत : राहुल गांधी◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटे में 64 हजार 533 मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 25 लाख के करीब◾दुनियाभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या 2 करोड़ 7 लाख के पार, 7 लाख 52 हजार लोगों की मौत ◾LAC विवाद पर US ने दिया भारत का साथ, चीनी आक्रामकता की आलोचना करने वाला प्रस्ताव अमेरिकी सीनेट में पेश◾राजस्थान विधानसभा का सत्र आज से, BJP के अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ कांग्रेस लाएगी विश्वास प्रस्ताव◾स्वतंत्रता दिवस : कोरोना महामारी के बीच हर साल से अलग होगा समारोह, दिल्ली में की गई बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था ◾राजस्थान : विधायक दल की बैठक के बाद कांग्रेस ने कहा- सभी विधायकों ने भाजपा का षड्यंत्र विफल करने का लिया संकल्प ◾नहीं थम रहा महाराष्ट्र में कोरोना का कहर, संक्रमितों का आंकड़ा 5.60 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 11,813 नए केस◾आंध्र प्रदेश में कोरोना का प्रकोप जारी, 24 घंटों में 82 लोगों की मौत, 9996 नए मामले◾राजस्थान: विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री गहलोत बोले- कांग्रेस खुद लाएगी विश्वास प्रस्ताव ◾कोविड-19 : राहुल का PM मोदी पर वार, कहा- कोरोना की यह ‘संभली हुई स्थिति’ है तो ‘बिगड़ी स्थिति’ किसे कहेंगे ◾कोविड-19 : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में मृत्यु दर घटकर 1.96 % हुई, कुल 27 प्रतिशत लोग ही संक्रमित◾राजस्थान : CM आवास पर शुरू हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक, गहलोत से मिले पायलट◾राजस्थान की गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी BJP◾उत्तर प्रदेश में कोरोना के 4 हजार 603 नए मामले की पुष्टि, 50 लोगों की मौत◾रक्षा उत्पादन में घरेलू उद्योगों को पांच वर्षों में चार लाख करोड़ रूपये के दिए जायेंगे आर्डर: राजनाथ◾फेसलेस जांच और अपील से करदाताओं की शिकायतों का बोझ कम होगा, निष्पक्षता बढ़ेगी : सीतारमण ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कोरोना महामारी को अनदेखी कर रही सरकार : ललन कुमार

पटना : कांग्रेस नेता ललन कुमार ने नीतीश सरकार  पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा की बिहार में जिस तरह कोरोना महामारी की अनदेखी की जा रही है ऐसे में बिहार में लाखों लोगों की जान खतरे में है एक तरफ जहां एनडीए गठबंधन के सभी घटक दल चुनाव में अपना ध्यान केंद्रित कर बिहार की जनता को भगवान भरोसे छोड़ दिया है। दूसरी तरफ स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से हजारों लोग को कोरोनो वायरस के लक्षण होते हुए भी उनकी जांच नहीं हो पा रही है। ऐसे में जाने अनजाने लोग कोरोना वायरस  के संक्रमण को फैलाने को मजबूर हैं। 

ललन ने मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार से आग्रह करते हुए कहा कि आपकी पहली जिम्मेबारी आम जनता की जान माल की सुरक्षा करना है क्योंकि आम जनता के बदौलत ही आप मुख्यमंत्री है अगर आपके  शासन काल में जनता ही सुरक्षित नहीं रही तो आप किस पर शासन करेंगे समय सीमा के अन्दर चुनाव कराने की आपकी जिद कहीं बिहार के आम जनता पर भारी न पड़ जाय।  

ललन  ने बिहार के सभी राजनीतिक दलों से आह्वान किया है की दलीय हित को छोड़कर बिहार के आम जनता के हित में कोरोना महामारी से पीड़ित लोगों की समुचित जांच और और उचित इलाज के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलकर दबाव बनाने की पहल करें ताकी बिहार के आम जनों की जान माल की सुरक्षा हो सके। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछा कि राज्य में प्रति 10 लाख लोगों पर सिर्फ  2197 लोगों की ही जांच क्यों हो रही है।

ललन ने  नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सीईओ अमिताभ कांत के ट्वीट के हवाले से बताया कि प्रति 10 लाख लोगों पर बिहार में जहां सिर्फ 2197 लोगों की जांच हो पाती है वहीं आंध्रप्रदेश में प्रति 10 लाख लोगों पर 18597, दिल्ली में 32863, तमिलनाडु में 16663, असम में 13471, राजस्थान में 12243, पंजाब में 11138, हरियाणा में 10639, कर्नाटक में 10443, महाराष्ट्र में 8857, केरल में 7155, ओडिशा में 6449, छत्तीसगढ़ में 6407, गुजरात मे 6298, पश्चिम बंगाल में 5452, मध्यप्रदेश में 5133, झारखंड में 4416, उत्तर प्रदेश में 3798 तथा तेलंगाना में 2637 लोगों की जांच हो रही है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि ये आंकड़े बिहार सरकार की कोरोना संक्रमण की जांच संबंधी दावों की पोल खोलने वाला तथा सरकारी तैयारियों पर बड़ा सवाल खड़ा करता है। उन्होंने कहा कि यदि कोरोना जांच की संख्या बिहार सरकार ने बढ़ाई होती।