BREAKING NEWS

अमेरिका ने हाफिज सईद की पूर्व में हुई गिरफ्तारियों को बताया 'दिखावा', कहा- गतिविधियों पर कोई फर्क नहीं पड़ा◾योगी सरकार को प्रियंका गांधी से डर क्यों लगता है : सुरजेवाला ◾नवजोत सिंह सिद्धू के पूर्व विभाग से महत्वपूर्ण फाइलें गायब◾प्रियंका गांधी ने गेस्ट हाउस में बिताई रात, प्रशासन से दूसरे दौर की बातचीत भी नाकाम◾चंद्रकांत पाटिल का दावा : चुनाव से पहले विपक्ष के कई नेता BJP होंगे शामिल◾एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग का सफल परीक्षण◾सोनभद्र जाने पर अड़ीं प्रियंका गांधी ,जमानत लेने से किया इनकार, बोलीं- जेल जाने को तैयार हूं◾योगी सरकार ने की प्रियंका की ‘गैरकानूनी गिरफ्तारी’, राज्य सरकार में अपराधियों को संरक्षण : कांग्रेस ◾जारी रहेगी MS Dhoni की धूम, मैनेजर बोले - माही की अभी संन्यास लेने की कोई योजना नहीं◾कर्नाटक : विधानसभा विश्वास प्रस्ताव पर मतदान के बिना सोमवार तक स्थगित ◾रॉबर्ट वाड्रा ने BJP सरकार की आलोचना की ,कहा - लोकतंत्र को तानाशाही में न बदलें◾सोनभद्र गोलीकांड : प्रियंका गांधी हिरासत में, कई जगह कांग्रेस का प्रदर्शन ◾किसी विधायक ने मुझसे सुरक्षा नहीं मांगी है : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष◾कर्नाटक में जारी सत्ता का संघर्ष एक बार फिर शीर्ष अदालत की चौखट पर◾Sensex में साल की दूसरी बड़ी गिरावट, निवेशकों ने दो दिन में गंवाये 3.79 लाख करोड़ रुपये ◾ कुमारस्वामी ने स्पीकर से फ्लोर टेस्ट की डेट सोमवार तक बढ़ाने की अपील की , भाजपा बोली- हम तैयार नहीं◾Top 20 News 19 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾चुनाव याचिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नोटिस जारी ◾BJP विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए आतुर है, क्योंकि वह विधायकों को खरीद चुकी : सिद्धारमैया ◾सोनभद्र में पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को रोका, धरने पर बैठीं◾

बिहार

हर तरह के जल ह्मोतों के लिए तत्काल कानून बनाये सरकार : मार्क्सवादी लेनिनवादी

भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी लेनिनवादी) ने बिहार सरकार से तत्काल सभी तरह के जल ह्मोतों-जल निकायों के संरक्षण और सम्बर्धन के लिये प्रभावी कानून बनाने की मांग की है। भाकपा-माले पोलित ब्यूरो सदस्य और मिथिलांचल प्रभारी धीरेन्द्र झा ने आज यहां पार्टी कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा राज्य में जल ह्मोतों के संरक्षण को लेकर आहूत विधायकों-विधान परिषद सदस्यों की विशेष बैठक का स्वागत करते हुए कहा कि यह देर से उठाया गया लेकिन बहुत जरूरी कदम है। 

सरकार को मत्रबूत इच्छाशक्ति प्रदर्शित करते हुए बिहार के भविष्य के लिये इस कार्ययोजना को आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि दरभंगा प्रमंडल से इसकी शुरुआत होनी चाहिए क्योंकि सबसे ज्यादा तालाब और जल ह्मोत यहां हैं जिसका बड़ पैमाने पर भूमाफियाओं-दबंगों ने कब्जा कर उसका नामोनिशान मिटा दिया है। 

माले नेता ने कहा कि राज्य में तत्काल तमाम तरह के जल ह्मोतों-जल निकायों के संरक्षण और संवर्धन के लिये प्रभावी कानून बनाना जरूरी है और इसकी पहचान का आधार अंग्रेजों के समय हुए भूमि सर्वे और साठ-सत्तर के दशक में हुए सर्वे को बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि निजी तालाब के भी जल भंडारण वाले हिस्से को भरने पर कानूनी रोक लगे, तालाबों-मरी हुई नदियों की जमीन का हुए बंदोबस्ती भी सरकार खारित्र करें। आहर, पाइन, नाला,चौर, झील आदि के रखरखाव को भी कानून में समाहित किया जाय।

झा ने इस बात पर जोर देते हुए मांग की है कि इसको अंजाम देने के लिए विशेष कार्यबल का गठन किया जाए और इसकी शुरुआत दरभंगा और तिरहुत प्रमंडल से हो क्योंकि ये दोनों प्रमंडल जल ह्मोतों-जल निकायों का सबसे बड़ भंडार है। इस दिशा में जल्द ही एक विशेष राज्य स्तरीय सम्मेलन दरभंगा में आहूत किया जाएगा। जिसमे देश के जाने माने जल विशेषज्ञों को बुलाया जाएगा। 

संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए भाकपा माले राज्य स्थायी समिति के सदस्य और दरभंगा त्रिला के सचिव बैद्यनाथ यादव ने दरभंगा त्रिला के जर्जर तटबंधों के प्रति चिंता जाहिर करते हुए बाढ़ से निपटने की तैयारी को लेकर प्रशासन की सुस्ती की आलोचना की और युद्धस्तर पर तैयारी खासकर नाव का प्रबंध करने की मांग की है। 

श्री यादव ने कहा कि 30 जुलाई को कोलकाता में विराट वामपंथी कार्यकर्ता सम्मेलन होगा जिसमें दरभंगा त्रिला से 1000 से ज्यादा वामपंथी कार्यकर्ता भाग लेंगे। इस मौके पर पार्टी के वरिष्ठ नेता लक्ष्मी पासवान मौजूद थे।