BREAKING NEWS

Covid-19 को लेकर PM मोदी की बड़ी बैठक, आवश्यक चिकित्सा उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने का दिया निर्देश◾जानिये क्यों, पीएम की 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील के बाद अलर्ट मोड पर है बिजली विभाग की कंपनियां◾तबलीगी जमातियों पर भड़के राज ठाकरे,कहा- ऐसे लोगों को गोली मार देनी चाहिए ◾PM मोदी ने अटल बिहारी बाजपेयी की कविता को शेयर करते हुए कहा- आओ दीया जलाएं◾देश में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, गौतम बुद्ध नगर में वायरस के 5 नए मामले आए सामने ◾PM मोदी की दीया अपील पर महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री ने दी प्रतिक्रिया, कहा- दोबारा सोचने की है जरुरत ◾बिजनौर के आइसोलेशन वार्ड में रखे गए जमातियों ने किया हंगामा, अंडे और बिरयानी की फरमाइश की◾दिल्ली : कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए गंगाराम अस्पताल के 108 स्वास्थ्यकर्मियों को किया गया क्वारनटीन◾प्रियंका ने किया योगी सरकार पर वार, कहा- स्वास्थ्यकर्मियों को सबसे ज्यादा सहयोग की है जरूरत◾देश में 2900 से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित, अब तक 68 की मौत◾कोविड-19 : अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 1,480 लोगों की मौत, इराक में 820 पॉजिटिव मामलों की पुष्टि◾राजस्थान : कोरोना संक्रमित 60 वर्षीय महिला की मौत, संक्रमण के 191 मामलों की पुष्टि◾जम्मू-कश्मीर में सेना के जवानों ने मुठभेड़ में 2 आतंकवादियों को मार गिराया, ऑपरेशन जारी◾कर्नाटक में कोरोना वायरस से 75 वर्षीय बुजुर्ग की मौत, राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 4 हुई ◾कोरोना वायरस दिल्ली में नहीं फैला, घबराने की जरूरत नहीं: केजरीवाल ◾कोविड-19 : राज्यों में संक्रमण के 500 से ज्यादा मामले आये सामने , इसके साथ ही संक्रमित लोगों की संख्या 3,000 पार ◾दुनिया भर के 180 से ज्यादा देशों में कोरोना का कहर जारी, अब तक 53448 लोगों की मौत, करीब 1015191 से ज्यादा लोग इससे संक्रमित◾देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के तेजी से बढ़ने का सिलसिला जारी, भारत में मौत का आंकड़ा 60 के पार◾गृह मंत्रालय का एक्शन, तबलीगी जमात से जुड़े 360 विदेशियों को ब्लैकलिस्ट में डालने की प्रक्रिया शुरू की ◾देश में 50 डॉक्टर व चिकित्साकर्मी कोविड-19 से संक्रमित : स्वास्थ्य मंत्रालय◾

भविष्य में जमा पर ब्याज बढ़ा सकते हैं बैंक

मुंबई : बैंकों द्वारा निकट भविष्य में जमा पर ब्याज दरें बढ़ाई जा सकती है। रेटिंग एजेंसी इक्रा की एक रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। इसमें कहा गया है कि पिछले कुछ माह के दौरान बैंकों में कर्ज राशि उसकी जमाओं से अधिक तेजी से बढ़ी है, जिससे ऋण-जमा अनुपात बढ़ा है। इससे उम्मीद है कि निकट भविष्य में बैंक जमा पर ब्याज दर बढ़ा सकते हैं। चालू वित्त वर्ष में पांच जनवरी तक बढ़ा हुआ कर्ज 2.02 लाख करोड़ रुपये रहा, जो कि इस दौरान 1.27  लाख करोड़ रुपये की जमाओं से अधिक रहा है। इक्रा की रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार ने हाल में पुनर्पूंजीकरण कार्यक्रम के तहत बैंकों में 88,139 करोड़ रुपये की पूंजी डाली है। इससे आगामी महीनों में सरकारी बैंकों की ऋण वृद्धि की रफ्तार बढ़ेगी।

इसमें कहा गया है कि बैंकों के पास अपनी अधिशेष एसएलआर होल्डिंग को घटाने और उसे बढ़े हुए कर्ज में लगाने का विकल्प है, लेकिन वे संभवत: ऐसा नहीं करेंगे। क्योंकि ऐसा होने पर बांड प्राप्ति ऊपर की ओर जाएगी जिससे बैंकों का ट्रेजरी नुकसान बढ़ेगा। 29 सितंबर, 2017 से 5 जनवरी, 2018 के दौरान बैंकों का बढ़ा हुआ कर्ज 1.85 लाख करोड़ रुपये रहा, जो 30,000 करोड़ रुपये की जमा वृद्धि की तुलना में कहीं अधिक है। रिपोर्ट में कहा गया है कि जमा में धीमी वृद्धि की वजह आम लोगों के पास करेंसी में लगातार बढ़ोतरी है, जो 29 सितंबर, 2017 से 5 जनवरी, 2018 के दौरान 1.36 लाख करोड़ रुपये बढ़ी। यह नोटबंदी से पहले का करीब 96 प्रतिशत बैठता है।

अधिक जानकारियों के लिए यहाँ क्लिक करें।