BREAKING NEWS

खतौली सीट पर फैल हुई BJP की रणनीति, रालोद प्रत्याशी मदन भैया ने भाजपा को इतने वोटों से पछाड़ा, देखें पूरा समीकरण ◾गुजरात में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद भूपेंद्र पटेल फिर से संभालेंगे मुख्यमंत्री पद, 12 दिसंबर को लेंगे शपथ ◾HP: 'मोदी लहर' में फैल हुए 'जयराम ठाकुर', कहा- मैं जनादेश का करता हूं सम्मान...राज्यपाल को सौंप रहा हूं इस्तीफा ◾ संजय सिंह ने कहा- 10 साल में राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल किया, गुजरात के लोगों के शुक्रगुजार हैं ◾Gujarat Election: EVM में गड़बड़ी का आरोप लगाकर कांग्रेस प्रत्याशी भरत सोलंकी ने की आत्महत्या की कोशिश◾गुजरात चुनाव : AAP के मुख्यमंत्री पद के चेहरे इसुदान गढ़वी की हार, भाजपा को 18,000 मतों से मिली शिकस्त ◾मोदी गढ़ में फिर 'डबल इंजन' सरकार, शाह ने कहा- गुजरात की जनता ने 'फ्री की रेवड़ी' और 'खोखले वादों' को नकारा◾Gujarat: 'कमल' की जीत पर बोले पवार- गुजरात में चल गया 'मोदी मेजिक'... लेकिन 2024 में नहीं चलेगा ◾Tata स्टील को सुप्रीम कोर्ट से लगा बड़ा झटका, जानिए 35000 करोड़ का क्या है मामला◾Mainpuri: डिंपल यादव ने किया बड़ा फेर- बदल, जीत दर्ज कर ले गई लोकसभा सीट◾अखिलेश यादव ने शिवपाल को दिया समाजवादी पार्टी का झंडा, सपा में प्रसपा के विलय की तेज हुई अटकलें ◾'भारत जोड़ो यात्रा' पहुंचेगी पश्चिम बंगाल में..., राहुल औऱ प्रियंका निभाएंगे अहम भूमिका, जानें पूरी रणनीति◾आजम खान के गढ़ में हुआ बड़ा उलटफेर, रामपुर किला ढहाने की ओर भाजपा◾राजधानी में दिलदहला देने वाली घटना, एक नाले से सूटकेस में बंद महिला का मिला शव, जानें पुलिस ने क्या कहा◾गुजरात में BJP को मिली रिकॉर्ड तोड़ जीत, अब 12 दिसंबर को होगा शपथ ग्रहण◾Gujarat Election Result: गुजरात जीत पर राजनाथ सिंह, बोले- जनता करती है पीएम मोदी पर विश्वास◾CM नीतीश कुमार के लिए नन्हे से बच्चे ने गाया गीत, लगा दो आग गुलशन में, मेरे सरकार आए हैं◾Himachal Result: हिमाचल में BJP की हार का कारण बने ये बड़े मुद्दे, बड़े चेहरे भी हो गए फेल◾मैनपुरी सीट पर 'डिंपल' ने लहराया परचम, शिवपाल ने कहा- नेताजी के विकास की वजह से 'सपा' ने तोड़ा रिकार्ड◾हिमाचल में चला 'हाथ का पंजा', हरियाणा के पूर्व सीएम हुड्डा ने कहा- कांग्रेस राज्य में बनाएगी सरकार◾

31 मई को कई शहरों में हो सकती है पेट्रोल-डीजल की किल्लत, जाने क्यों?

देशभर में ईंधन के दामों में बढ़ोतरी के बीच सरकार ने हाल ही में पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी को कम कर दिया। सरकार के इस फैसले ने आम लोगों भले ही राहत दी हो लेकिन, पेट्रोलियम डीलर्स को नाराज कर दिया। जिसके चलते पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने 31 मई को सरकार के इस फैसले के खिलाफ विरोध करने का ऐलान किया है। 

पेट्रोलियम डीलर्स ने 31 मई यानी मंगलवार को सरकारी तेल कंपनियों (OMCs) से डीजल-पेट्रोल नहीं खरीदने का निर्णय लिया है। पेट्रोल पंप चलाने वालों का कहना है कि अचानक दाम में भारी कटौती कर देने से उन्हें नुकसान हुआ है। वहीं कुछ शहरों में डीलर्स ने मंगलवार को डीजल-पेट्रोल नहीं बेचने का फैसला किया है। जिसका सीधा असर आम आदमी पर पड़ने वाला है।

इन मांगों को लेकर विरोध

पेट्रोलियम डीलर्स सरकार से कमीशन बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। डीलर्स का कहना है कि डीजल और पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी में अचानक कटौती करने से उन्हें नुकसान उठाना पड़ा है। सरकार ने जैसे ही ड्यूटी कम की, डीजल और पेट्रोल दोनों की खुदरा कीमतें एक झटके में कम हो गईं। 

डीलर्स का कहना है कि उन्होंने एक दिन पहले अधिक कीमत पर डीजल और पेट्रोल का स्टॉक खरीदा था। ड्यूटी में कमी के बाद उन्हें कम भाव पर बेचना पड़ गया इसके अलावा डीलर्स ये भी कह रहे हैं कि साल 2017 के बाद मार्जिन में कोई बदलाव नहीं किया गया है, इससे भी उन्हें नुकसान हो रहा है।

राजस्थान पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन ने अपनी मांगों काे लेकर 31 मई को 3 घंटे डीजल एवं पेट्रोल बिक्री काे बंद करने की घोषणा की। एसोसिएशन ने डीलर मार्जिन में वृद्धि करने, पूरे राजस्थान में पेट्रोल-डीजल के मूल्य एक होने, एक्साइज ड्यूटी में कमी कर पूर्व में तय गई प्राइसिंग के अनुरूप करने सहित अन्य मांगों को लेकर राजस्थान पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन द्वारा यह निर्णय लिया गया।

ऑल हरियाणा पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन तेल कंपनियों द्वारा कमीशन न बढ़ाए जाने का विरोध कर रही है। इस संबंध में एसोसिएशन पदाधिकारियों ने कहा कि सरकार और तेल कंपनियों की मनमानी से पंप डीलर्स को करोड़ों रुपये का घाटा हो रहा है। पिछले पांच साल से पंप डीलर्स का कमीशन तेल कंपनियों द्वारा नहीं बढ़ाया गया है, जबकि नियमानुसार हर छह महीने के बाद डीलर कमीशन बढ़ जाना चाहिए। इस संबंध में तेल कंपनियों ने लिखित में हमें दे रखा है।

राजस्थान और हरियाणा की तरह महाराष्ट्र- तमिलनाडु समेत कई राज्यों के डीलर्स ने इन मांगों को लेकर मंगलवार को डीजल-पेट्रोल न खरीदने और न ही बेचने का ऐलान किया है। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने एक सप्ताह पहले ही जनता को राहत देते हुए पेट्रोल पर 8 रुपए और डीजल पर 6 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी घटाने का फैसला किया था।