BREAKING NEWS

महाराष्ट्र में अमित शाह ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के लिए नेहरू को ठहराया जिम्मेदार◾राज बब्बर बोले-अन्य विपक्षी पार्टियां डरी हुई हैं केवल कांग्रेस ही बीजेपी को टक्कर दे सकती है◾अक्षरधाम मंदिर के पास पुलिस वाहन पर 4 अज्ञात बदमाशों ने की गोलीबारी◾मॉब लिंचिंग की घटनाओं को लेकर थरूर ने केंद्र पर उठाए सवाल, बोले-पिछले 6 वर्षों में क्या देखा◾बलोच, सिंधी और पख्तून समूहों को PM मोदी और डोनाल्ड ट्रंप से मदद की आस◾ह्यूस्टन में PM मोदी ने ऊर्जा कंपनियों के 17 सीईओ से की वार्ता, अमेरिका से LNG पर करार◾VIDEO : ह्यूस्टन में कश्मीरी पंडितों से मिले PM मोदी, बोले- जो आपने कष्ट झेला वो कम नहीं है◾ह्यूस्टन में PM मोदी ने पेश की स्वच्छता की मिसाल, गिरा हुआ फूल खुद उठा कर सबको चौंकाया, देखें VIDEO◾भारतीय अमेरिकी समुदाय ने कहा- PM नरेंद्र मोदी की यात्रा ह्यूस्टन के लिए बड़ी बात◾अयोध्या के विवादित ढांचा को ढहाए जाने के मामले में कल्याण सिह को समन जारी◾‘Howdy Modi’ के लिए ह्यूस्टन तैयार, 50 हजार टिकट बिके ◾‘Howdy Modi’ कार्यक्रम के लिए PM मोदी पहुंचे ह्यूस्टन◾प्रधानमंत्री का ह्यूस्टन दौरा : भारत, अमेरिका ऊर्जा सहयोग बढ़ाएंगे ◾क्या किसी प्रधानमंत्री को ऐसे बोलना चाहिए : पाक को लेकर मोदी के बयान पर पवार ने पूछा◾कश्मीर पर भारत की निंदा करने के लिये पाकिस्तान सबसे ‘अयोग्य’ : थरूर◾राजीव कुमार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज ◾AAP ने अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने में देरी पर ‘धोखा दिवस’ मनाया ◾ शिवसेना, भाजपा को महाराष्ट्र चुनावों में 220 से ज्यादा सीटें जीतने का भरोसा◾आधारहीन है रिहाई के लिए मीरवाइज द्वारा बॉन्ड पर दस्तखत करने की रिपोर्ट : हुर्रियत ◾TOP 20 NEWS 21 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾

व्यापार

जीएसटी संग्रह ने बनाया रिकार्ड

नई दिल्ली : माल एवं सेवाकर (जीएसटी) संग्रह चालू वित्त वर्ष के आखिरी महीने मार्च में बढ़कर 1.06 लाख करोड़ रुपये के रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया। इस के साथ ही 2018-19 में जीएसटी संग्रह 11.77 लाख करोड़ रुपये के स्तर को छू गया है। यह सरकार द्वारा चालू वित्त वर्ष में जीएसटी से प्राप्ति के लिये निर्धारित 11.47 लाख करोड़ रुपये के लक्ष्य से अधिक है। देश में जीएसटी व्यवस्था लागू होने के बाद यह (मार्च में संग्रह) अब तक की सबसे अधिक वसूली है। इससे पहले, फरवरी महीने में 97,247 करोड़ रुपये का जीएसटी संग्रह हुआ था। जीएसटी अनुपालन में सुधार के साथ रिटर्न की संख्या बढ़ने से जीएसटी संग्रह में तेजी आई है। मार्च में मासिक रिटर्न या जीएसटीआर-3 बी भरने वालों की संख्या 75.95 लाख रही। यह आंकड़ा भी जीएसटी लागू होने के बाद सबसे अधिक है।

जीएसटी व्यवस्था लागू होने के बाद से मार्च 2019 में सबसे ज्यादा GST संग्रह हुआ और पूरे वित्त वर्ष में चौथी बार वसूली का आंकड़ा एक लाख करोड़ रुपये के पार गया। जीएसटी संग्रह में मार्च 2018 की तुलना में 15.6 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। एक साल पहले मार्च में जीएसटी संग्रह 92,167 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान कुल GST संग्रह 11.77 लाख करोड़ रुपये से थोड़ा अधिक रहा, जो कि सरकार के संशोधित बजट अनुमान 11.47 लाख करोड़ रुपये से अधिक है।

उल्लेखनीय है कि सरकार ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिये GST संग्रह का लक्ष्य 13.71 लाख करोड़ रुपये से घटाकर 11.47 लाख करोड़ रुपये कर दिया था। मार्च में समाप्त वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान, GST संग्रह अप्रैल में 1.03 लाख करोड़ रुपये, मई में 94,016 करोड़ रुपये, जून में 95,610 करोड़ रुपये, जुलाई में 96,483 करोड़ रुपये, अगस्त में 93,960 करोड़ रुपये, सितंबर में 94,442 करोड़ रुपये, अक्टूबर में 1,00,710 करोड़ रुपये, नवंबर में 97,637 करोड़ रुपये, दिसंबर में 94,725 करोड़ रुपये, जनवरी 2019 में 1.02 लाख करोड़ रुपये और फरवरी 2019 में 97,247 करोड़ रुपये और आखिरी महीने मार्च में रिकार्ड 1.06 लाख करोड रुपये रहा है। अब नये वित्त वर्ष 2019- 20 के लिये जीएसटी संग्रह का लक्ष्य 13.71 लाख करोड़ रुपये रखा गया है।