BREAKING NEWS

कन्हैया ने मोदी सरकार पर बोला हमला, कहा - देश पर वर्तमान में शासन करने वाले अंग्रेजों के साथ चाय पे चर्चा किया करते थे◾CAA के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पास करेगा तेलंगाना◾शाहीन बाग में बड़ी संख्या में जुटे प्रदर्शनकारी, लेकिन आपसी मतभेद ज्यादा, प्रदर्शन कम◾PAK में गुतारेस की J&K पर की गई टिप्पणी के बाद भारत ने कहा - जम्मू कश्मीर देश का अभिन्न हिस्सा ◾मतभेदों को सुलझाने के लिए कमलनाथ और सिंधिया इस हफ्ते कर सकते है मुलाकात◾अमेरिका राष्ट्रपति की अहमदाबाद यात्रा से पहले AIMC ने जारी किये ‘नमस्ते ट्रंप’ वाले पोस्टर ◾इस साल राज्यसभा में विपक्षी ताकत होगी कम ◾23 फरवरी से 23 मार्च तक उनका दल चलाएगा देशव्यापी अभियान - गोपाल राय◾पश्चिम बंगाल में निर्माणाधीन पुल का गर्डर ढहने से दो की मौत, सात जख्मी ◾कच्चे तेल पर कोरोना वायरस का असर, और घट सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम◾बाबूलाल मरांडी सोमवार को BJP होंगे शामिल, कई वरिष्ठ भाजपा नेता समारोह में हो सकते हैं उपस्थित◾लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर भीषण हादसा , ट्रक और वैन में टक्कर के बाद लगी आग , 7 लोग जिंदा जले◾वित्त मंत्रालय ने व्यापार पर कोरोना वायरस के असर के आकलन के लिये मंगलवार को बुलायी बैठक ◾कोरोना वायरस मामले को लेकर भारतीय राजदूत ने कहा - चीन की हरसंभव मदद करेगा भारत◾NIA को मिली बड़ी कामयाबी : सीमा पार कारोबार के जरिए आतंकवाद के वित्तपोषण के मिले सबूत◾दिल्ली CM शपथ ग्रहण समारोह दिखे कई ‘‘लिटिल केजरीवाल’’◾TOP 20 NEWS 16 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में समर्थकों ने कहा : देश की राजनीति में बदलाव का होना चाहिए◾PM मोदी ने काशी महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखा कर रवाना, जानिये इस ट्रेन की खासियतें ◾PM मोदी ने वाराणसी में 'काशी एक रूप अनेक' कार्यक्रम का किया शुभारंभ◾

दिल्ली अग्निशमन सेवा विभाग में 32 फीसदी पद खाली

दिल्ली अग्निशमन सेवा (डीएफएस) कर्मचारियों की कमी से जूझ रहा है। यहां महज एक महीने पहले हुई नियुक्तियों के बावजूद 32 प्रतिशत से ज्यादा सीट खाली है। सूचना का अधिकार (आरटीआई) अधिनियम के जरिए जुटाए गए आंकड़ों के अनुसार, डीएफएस में फायरमैन के लिए कुल स्वीकृत पद 2,367 थे, जिसमें से 1,598 पदों पर नियुक्ति की गई, जबकि 769 पद खाली रह गए। 1598 नवनियुक्त फायरमैन में से 500 नई नियुक्तियां थी। 

आरटीआई जवाब के अनुसार, 'दिल्ली अग्निशमन सेवा का प्रशासनिक नियंत्रण दिल्ली सरकार के पास है, इसकी वेबसाइट के अनुसार, विभाग के लिए भर्ती करने वाली एजेंसियां संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) और दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (डीएसएसएसबी) है।'

एक वरिष्ठ अग्निशमन अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, 'फायरमैन विभाग के महत्वपूर्ण कर्मचारी होते हैं। 500 नए नियुक्त कर्मचारियों का प्रशिक्षण पूरा हो चुका है और वे विभाग में शामिल हो गए हैं।' आरटीआई जवाब के अनुसार, डीएफएस अग्निशमन कर्मचारी विभाग भी लोगों की कमी से जूझ रहा है। अग्निशमन विभाग (फायर फाइटिंग सेक्शन) के कुल 3,127 पदों में से 913 पद रिक्त हैं। मुख्य अग्निशमन अधिकारी के पांच स्वीकृत पदों में से, तीन पद रिक्त हैं। 

आरटीआई जवाब के अनुसार, 'संचार विभाग में भी स्थिति अच्छी नहीं है। रेडियो टेलीफोन आपरेटरों के 100 स्वीकृत पदों में से कुल 65 पद रिक्त हैं। संचार अधिकारी के दो पद और वायरलेस अधिकारी के एक पद भी रिक्त पड़े हैं।' डीएफएस अधिकारियों ने कहा कि विभाग मौजूद संसाधन में अपना काम कर रही है और मौजूद कर्मचारियों को दिल्ली के 61 अग्निशमन स्टेशनों में काम पर लगाया गया है। 

अधिकारी ने कहा, 'आदर्श रूप में एक वाहन में छह लोग होते हैं। लेकिन मौजूदा समय में हम चार के साथ काम कर रहे हैं। जहां कहीं भी आग की बड़ी घटना होती है, हमें हर बार ज्यादा वाहनों को भेजना होता है।' दिल्ली में 2019 में आग दुर्घटना के कई मामले सामने आए, जिसमें करोलबाग में लगी आग की घटना में 17 लोगों की मौत हो गई थी। डीएफएस की स्थापना 1942 में हुई थी। स्थापना के समय उसके पास 14 उपकरणों के साथ चार अग्निशमन स्टेशन थे। विभाग में उस वक्त कुल 186 कर्मचारी काम करते थे।