BREAKING NEWS

नागरिकता विधेयक के खिलाफ जारी प्रदर्शनों के बीच मुख्यमंत्री के घर पर किया गया पथराव ◾नागरिकता संशोधन विधेयक को निकट भविष्य में अदालत में चुनौती दी जाएगी : सिंघवी ◾नागरिकता विधेयक को संसद की मंजूरी मिलने पर भाजपा ने खुशी जताई ◾सुप्रीम कोर्ट में खारिज हो जाएगा CAB : चिदंबरम ◾नागरिकता विधेयक पारित होना संवैधानिक इतिहास का काला दिन : सोनिया गांधी◾मोदी सरकार की बड़ी जीत, नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में हुआ पास◾ राज्यसभा में अमित शाह बोले- CAB मुसलमानों को नुकसान पहुंचाने वाला नहीं◾कांग्रेस का दावा- ‘भारत बचाओ रैली’ मोदी सरकार के अस्त की शुरुआत ◾राज्यसभा में शिवसेना का भाजपा पर कटाक्ष, कहा- आप जिस स्कूल में पढ़ रहे हो, हम वहां के हेडमास्टर हैं◾CM उद्धव ठाकरे बोले- महाराष्ट्र को GST मुआवजा सहित कुल 15,558 करोड़ रुपये का बकाया जल्द जारी करे केन्द्र◾TOP 20 NEWS 11 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾कपिल सिब्बल ने राज्यसभा में कहा- विभाजन के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताने पर माफी मांगें अमित शाह◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ असम में भड़की हिंसा, पुलिस ने चलाई रबड़ की गोलियां◾चिदंबरम ने CAB को बताया 'हिन्दुत्व का एजेंडा', कानूनी परीक्षण में नहीं टिकने का जताया भरोसा◾इसरो ने किया डिफेंस सैटेलाइट रीसैट-2BR1 लॉन्च, सेना की बढ़ेगी ताकत ◾हैदराबाद एनकाउंटर: सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए पूर्व न्यायाधीश को नियुक्त करने का रखा प्रस्ताव ◾पाकिस्तान : हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवाद वित्तपोषण के आरोप तय◾मनमोहन सिंह की सलाह पर लाया गया है नागरिकता संशोधन विधेयक : भाजपा◾कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और संविधान विरूद्ध◾राज्यसभा में नागरिकता बिल पेश, अमित शाह बोले- भारतीय मुस्लिम भारतीय थे, हैं और रहेंगे◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

दिल्ली में प्रदूषण से निपटने के लिए सभी एजेंसियों को साथ मिलकर काम करना होगा : जावड़ेकर

 prakash javadekar

केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार को सभी एजेंसियों से राष्ट्रीय राजधानी की खराब हो रही वायु गुणवत्ता और प्रदूषण से निपटने के लिए 'मिलकर काम' करने को कहा। 

लगातार चौथे दिन दिल्ली पर जहरीले धूमकोहरे (स्मॉग) की चादर छाई रही। वायु प्रदूषण की हालत इतनी खराब है कि हवा की गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में बनी हुई है। 

यहां एक संवाददाता सम्मेलन में जावड़ेकर ने कहा कि अभी विभिन्न एजेंसियों का एक-दूसरे पर दोषारोपण करने का समय नहीं है। 

उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली का प्रदूषण सिर्फ इस शहर की दिक्कत नहीं है.....दिल्ली की हवा 1990 के दशक से ही खराब हो रही है। परिस्थिति बदलने के बाद रोज नयी चुनौतियां सामने आ रही हैं। हमने औद्योगिक प्रदूषण, विनिर्माण मलबा और धूल आदि कम करने की दिशा में काम किया है। काम लगातार जारी है।’’ 

केन्द्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘लेकिन सभी को साथ मिलकर काम करना चाहिए। पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, दिल्ली सरकार, तीनों एमसीडी और एनडीएमसी, डीडीए और अन्य एजेंसियों का सहयोग इससे निपटने के लिए जरूरी है। सभी को मिलकर काम करना होगा।’’ 

उन्होंने कहा कि सरकार ‘वायु प्रदूषण के मुद्दे को लेकर बहुत गंभीर है।’ 

मंत्री ने कहा कि वायु प्रदूषण ऐसा मुद्दा है जिससे सभी एजेंसियों को मिलकर निपटना चाहिए। यह समय एक दूसरे पर दोषारोपण का नहीं है। हम प्रदूषण के मुद्दे पर बेहद गंभीर हैं। 

राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) शाम चार बजे 463 था और द्वारका सेक्टर आठ सबसे अधिक प्रदूषित क्षेत्र रहा, जहां एक्यूआई 495 था। वायु गुणवत्ता की निगरानी करने वाले अधिकतर स्टेशनों ने एक्यूआई 450 से अधिक दर्ज किया। 

पास के फरीदाबाद (450), गाजियाबाद (475), ग्रेटर नोएडा (445), गुरुग्राम (461) और नोएडा (474) में भी वायु गुणवत्ता बेहद गंभीर रही।