नई दिल्ली : जालियांबाद बाग हत्याकांड के 100 वर्ष पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान पंजाब के मुख्यमंत्री का न आना इस समारोह का अपमान है। यह सब राहुल गांधी के इशारे पर किया गया और बाद में पहुंच राहुल गांधी के कार्यक्रम में हिस्सा लिया। उक्त बातें भाजपा प्रदेश कार्यालय में रविवार को संवाददाताओं को संबोधित करते हुए नई दिल्ली की सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहीं। मीनाक्षी लेखी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमररिंदर सिंह पर राहुल गांधी के इशारे पर शहीदों के अपमान करने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कांग्रेस हमेशा शहीदों का अपमान करती रही है और उसने कभी संघीय ढांचे का भी सम्मान नहीं किया। मीनाक्षी लेखी ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह फौजी रहे हैं और हमें उनकी देशभक्ति पर रत्ती भर भी संदेह करने का हक नहीं है, लेकिन उनकी परिवार भक्ति ने देश के शहीदों का न केवल अपमान किया बल्कि प्रोटोकाल को भी तोड़ा है।

हमें अमरिंदर सिंह से कोई शिकायत नहीं है, लेकिन एक राज्य के मुख्यमंत्री को यह शोभा नहीं देता कि वह उपराष्ट्रपति के कार्यक्रम को भी किसी और के इशारे पर इस तरह बहिष्कृत करें। यह देश के संवैधानिक ढाचें को चुनौती देना है। मीनाक्षी लेखी ने राहुल गांधी पर सीधे हमला बोलते हुए कहा कि राहुल गांधी ने इस मामले में राजनीति करके अपने स्तर को गिराया है।