BREAKING NEWS

UPSC की तर्ज पर RPSC-RSSB की भर्ती होगी पूरी, CM गहलोत ने दिए निर्देश◾उत्तर प्रदेश में कोरोना के 5287 नए मामलों की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 3.48 लाख के पार पहुंची◾MI vs CSK IPL 2020 : चेन्नई सुपर किंग्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला, जानिये प्लेइंग XI◾कोरोना वायरस: अगले हफ्ते पुणे में शुरू होगा ऑक्सफोर्ड वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल◾पत्रकार राजीव शर्मा ने जासूसी कर डेढ़ साल में कमाए 40 लाख रुपये, हर जानकारी के बदले मिले 1000 डॉलर◾भारत को कोरोना से लड़ाई में ऐतिहासिक उपलब्धि, स्वस्थ मरीजों के मामले में अमेरिका को पीछे छोड़ बना शीर्ष◾चीन के लिए रक्षा संबंधी जासूसी करने वाले पत्रकार समेत एक चीनी महिला और नेपाली युवक गिरफ्तार◾कृषि बिल को लेकर चिदंबरम का बड़ा हमला : हर पार्टी तय करे कि वह किसानों के साथ है या भाजपा के साथ◾J&K में एक साल के लिए बिजली-पानी के बिल हुए आधे, व्यापारियों के लिए 1350 करोड़ के पैकेज का ऐलान ◾आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद राज्यपाल धनखड़ का ममता पर प्रहार, कहा - राज्य बना अवैध बम बनाने का घर◾जयपुर : ब्याज माफियाओं से परेशान होकर आभूषण व्यवसायी ने परिवार सहित लगाई फांसी ◾राहुल ने शेयर किया वीडियो, कहा- 'भारतीय राष्ट्रवाद क्रूरता और हिंसा का साथ नहीं दे सकता'◾कुलभूषण जाधव का प्रतिनिधित्व करने के लिए भारत की ''क्वींस काउंसल'' की मांग को पाक ने किया खारिज◾देश में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या 53 लाख के पार, 85 हजार से अधिक मरीजों ने गंवाई जान◾कंगना रनौत की याचिका जुर्माने के साथ खारिज की जानी चाहिए : बीएमसी ◾World Corona : विश्व में महामारी का कहर बरकरार, संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ 3 लाख के पार ◾एनआईए ने आतंकवादी अल-कायदा मॉड्यूल का किया भंडाफोड़, 9 लोग गिरफ्तार◾नहीं थम रहा महाराष्ट्र में कोरोना का कहर, बीते 24 घंटे में 21,656 नए केस, 405 की मौत ◾दिल्ली में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में 4,127 नए केस, 30 की मौत ◾अधीर रंजन चौधरी ने अनुराग ठाकुर पर की विवादित टिप्पणी, लोकसभा में हुआ जमकर हंगामा◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आज भारत बंद का ऐलान, डूटा सहित कई संगठनों का समर्थन

नई दिल्ली : विश्वविद्यालय के शिक्षकों, आदिवासियों, 13 प्वाइंट रोस्टर आदि मांगों को लेकर देशभर के शैक्षणिक संगठनों ने मंगलवार को भारत बंद का ऐलान किया है। इसी क्रम में दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के डूटा, जवाहरलाल नेहरू (जेएनयू), संविधान बचाओ संघर्ष समिति, राष्ट्रीय जनता दल, समाजवादी पार्टी, सीपीआई (माले) आदि करीब तीस संगठन संयुक्त रूप से केंद्र सरकार के खिलाफ मार्च करेंगे।

इसके लिए गुजरात, मध्यप्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश आदि कई राज्यों के शिक्षक दोपहर करीब 12 बजे मंडी हाउस में एकत्रित होकर जंतर-मंतर तक मार्च निकालेंगे। प्रदर्शन में शामिल हो रहे संगठनों के कार्यकर्ताओं का कहना है कि 13 प्वाइंट रोस्टर के माध्यम से मोदी सरकार द्वारा दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों के लिए संविधान प्रदत्त आरक्षण समाप्त किये जाने के विरुद्ध एकजुट होने की जरूरत है। इसलिए सभी प्रगतिशील संगठनों ने यह बंद कॉल किया है।

कुछ संगठनों ने अपने-अपने स्तर पर आदिवासियों को वनक्षेत्र से नकाले जाने के सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के विरुद्ध, 10 प्रतिशत असंवैधानिक सवर्ण आरक्षण के विरोध में, निजी क्षेत्र में आरक्षण, उच्च न्यायपालिका में आरक्षण, पिछड़े वर्ग को आबादी के अनुरूप 52 प्रतिशत आरक्षण, 2021 में राष्ट्रीय जनगणना में जाति जनगणना शामिल किये जाने, व 2013 के सर्वोच्च न्यायालय के ईवीएम के वोट गणना में विवाद की स्थिति में वीवीपैट पेपर ट्रेल को गिने जाने के आदेश का पालन 2019 चुनाव में शामिल किये जाने के मांग को लेकर इकट्ठा हो रहे हैं।