BREAKING NEWS

EC ने रैली-रोड शो पर लगी पाबंदी को 31 जनवरी तक बढ़ाया, दूसरे तरीकों से प्रचार करने पर दी गई ढील ◾गृहमंत्री शाह ने कैराना में मांगे घर-घर BJP के लिए वोट, पलायन कराने वालों पर साधा निशाना ◾ चन्नी और सिद्धू दोनों पंजाब के लिए निकम्मे हैं, कांग्रेस के अंदर की लड़ाई ही उनको चुनाव में सबक सिखाएगीः कैप्टन◾निर्वाचन आयोग : चुनाव वाले राज्यों के शीर्ष अधिकारियों से करेगा मुलाकात, कोविड की स्तिथि का लेंगे जायजा ◾ दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल पुलिस ने दर्ज की FIR , पूर्व सीएम बोले- हमने कोई अपराध नहीं किया◾पंजाब में नफरत का माहौल पैदा कर रही है कांग्रेस, गजेंद्र सिंह शेखावत ने EC से किया कार्रवाई का आग्रह◾बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी के साथ गठबंधन करेंगे ओवैसी, UP की सत्ता में आने के बाद बनाएंगे 2 CM◾ पिता मुलायम सिंह यादव की कर्मभूमि से लड़ेंगे अखिलेश चुनाव, सपा का आधिकारिक ऐलान◾जम्मू-कश्मीर : शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू, सेना ने रास्ते को किया सील ◾यदि BJP पणजी से किसी अच्छे उम्मीदवार को खड़ा करती है, तो चुनाव नहीं लड़ूंगा: उत्पल पर्रिकर ◾गोवा में BJP के लिए सिरदर्द बनेगा नेताओं का दर्द-ए-टिकट! अब पूर्व CM पार्सेकर छोड़ेंगे पार्टी◾ BSP ने जारी की दूसरे चरण के मतदान क्षेत्रों वाले 51 प्रत्याशियों की सूची, इन नामों पर लगी मोहर◾DM के साथ बैठक में बोले PM मोदी-आजादी के 75 साल बाद भी पीछे रह गए कई जिले◾पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा हुए कोरोना से संक्रमित, ट्वीट कर दी जानकारी ◾यूपी : गृहमंत्री शाह कैराना में करेंगे चुनाव प्रचार, काफी सुर्खियों में था यहां पलायन का मुद्दा ◾उत्तराखंड : टिकट नहीं मिलने से नाराज BJP नेताओं में असंतोष, पार्टी की एकजुटता तोड़ने की दी धमकी ◾मुंबई की 20 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 7 की मौत, 15 लोग घायल ◾UP में CM कैंडिडेट वाले बयान पर बोलीं प्रियंका-मैं चिढ़ गई थी, क्योंकि.....◾Today's Corona Update : 24 घंटे में 3.37 लाख से ज्यादा नए केस, 488 मरीजों की मौत ◾ UP विधानसभा चुनाव : बिजनौर और अमरोहा का दौरा कर पार्टी नेताओं को जीत का मंत्र देंगे नड्डा◾

BJP ने केजरीवाल की नाकामियों को उजागर करने के लिए झुग्गियों में ‘नमो सेवा केंद्र’ खोलने की बनाई योजना

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई की शहर में करीब 32 विधानसभा क्षेत्रों की झुग्गी बस्तियों में ‘नमो सेवा केंद्र’ खोलने की योजना है और इसी के साथ वह अगले साल की शुरुआत में होने वाले नगर निगम चुनावों के मद्देनजर अपने ‘‘झुग्गी सम्मान यात्रा’’ कार्यक्रम को मजबूत करना चाहती है। तीन नगर निगमों में 2007 से सत्तारूढ़ भाजपा ने विजय दशमी (15 अक्टूबर) पर ‘‘झुग्गी सम्मान यात्रा’’ शुरू की थी। 

इस यात्रा का मकसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में झुग्गी बस्तियों के निवासियों को जागरूक करना और शहर में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार की ‘‘नाकामियों को उजागर’’ करना है। भाजपा की दिल्ली इकाई के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया, ‘‘नमो सेवा केंद्रों का मकसद झुग्गी बस्तियों में रहने वाले लोगों को ‘उज्ज्वला योजना’, ‘जहां झुग्गी वहां मकान’ जैसी मोदी सरकार की योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए सीधी मदद पहुंचाना है।’’

भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष आदेश गुप्ता और अन्य नेताओं ने अब तक ‘‘झुग्गी सम्मान यात्रा’’ के तहत शहर भर के 17 विधानसभा क्षेत्रों में झुग्गी बस्तियों का दौरा किया है। पार्टी ने ऐसे 32 निर्वाचन क्षेत्रों की पहचान की है जहां झुग्गी बस्तियों में रहने वाले लोगों की घनी आबादी है।

पार्टी पदाधिकारी ने कहा, ‘‘इन दौरों पर मैंने देखा कि कई लोग मोदी सरकार की योजनाओं का लाभ उठा पाने में असमर्थ हैं और वे केजरीवाल सरकार में पानी की आपूर्ति, बिजली, सीवर और अन्य ऐसी सुविधाओं की कमी का सामना कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘स्थानीय लोगों को अधिकतम लाभ पहुंचाने के लिए इन केंद्रों के संचालन के वास्ते स्थानीय कुशल युवाओं को रोजगार देने की योजना है।’’

पार्टी नेताओं ने दावा किया कि ‘झुग्गी सम्मान यात्रा’ को शहर में झुग्गी बस्तियों में ‘‘शानदार प्रतिक्रिया’’ मिल रही है। दिल्ली भाजपा के उपाध्यक्ष आदित्य झा ने कहा, ‘‘हमने लोगों को उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन दिलाने और जन धन योजना जैसी अन्य योजनाओं में पंजीकरण कराने में मदद करना शुरू कर दिया है। महिलाओं को साड़ियों और राशन किट वितरित करके जरूरतमंद लोगों को तत्काल मदद मुहैया करायी जा रही है।’’

पार्टी की दिल्ली इकाई के कई नेताओं का मानना है कि पंजाब, उत्तराखंड और खासतौर से उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के नतीजों का शहर में नगर निगम के चुनावों के नतीजों पर असर पड़ेगा। एक अन्य नेता ने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के अच्छे प्रदर्शन से यहां हमारी संभावनाओं को बल मिलेगा जैसा कि 2017 के चुनावों में हुआ था जिसमें हमने तीन नगर निगमों में ‘आप’ (आम आदमी पार्टी) को हराया था।’’ पार्टी नेताओं ने बताया कि नगर निगम चुनावों के लिए रणनीति पर भाजपा की दिल्ली इकाई की कार्यकारी समिति की बैठक में सोमवार को चर्चा की जाएगी।