BREAKING NEWS

सीएए और एनआरसी के खिलाफ लखनऊ में महिलाओं का प्रदर्शन जारी◾NIA ने संभाली आतंकियों के साथ पकड़े गए DSP दविंदर सिंह मामले की जांच की जिम्मेदारी◾वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां से अपील, बोलीं- सोनिया गांधी की तरह दोषियों को माफ कर दें◾ट्रंप ने ईरान के 'सुप्रीम लीडर' को दी संभल कर बात करने की नसीहत◾ राजधानी में छाया कोहरा, दिल्ली आने वाली 20 ट्रेनें 2 से 5 घंटे तक लेट◾निर्भया : घटना के दिन नाबालिग होने का दावा करते हुए पवन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट◾PM मोदी ने मंत्रियों से कहा, कश्मीर में विकास का संदेश फैलाएं और गांवों का दौरा करें ◾भाजपा ने अब तक 8 पूर्वांचलियों पर लगाया दांव◾यूरोपीय संघ के उच्च प्रतिनिधि ने PM मोदी से भेंट की◾दिल्ली पुलिस आयुक्त को NSA के तहत मिला किसी को भी हिरासत में लेने का अधिकार◾न्यायालय से संपर्क करने से पहले राज्यपाल को सूचित करने की कोई जरूरत नहीं : येचुरी◾ममता ने एनपीआर,जनसंख्या पर केन्द्र की बैठक में नहीं लिया भाग◾सिंध में हिंदू समुदाय की लड़कियों के अपहरण को लेकर भारत ने पाक अधिकारी को किया तलब◾नड्डा का 20 जनवरी को निर्विरोध भाजपा अध्यक्ष चुना जाना तय◾हमें कश्मीर पर भारत के रुख को लेकर कोई शंका नहीं है : रूसी राजदूत◾IND vs AUS : भारत की दमदार वापसी, ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराया, सीरीज में बराबरी◾दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए 48 और नामांकन दाखिल◾राउत को इंदिरा गांधी के बारे में टिप्पणी नहीं करनी चाहिए थी : पवार◾कश्मीर में शहीद सलारिया का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार, दो महीने की बेटी ने दी मुखाग्नि ◾बुलेट ट्रेन परियोजना के लिये भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया के खिलाफ याचिकाओं पर न्यायालय करेगा सुनवाई ◾

शराब की तस्करी कम होने से घरेलू कलह में आई कमी

दक्षिणी दिल्ली: अवैध देसी शराब सिर्फ स्वास्थ्य पर ही प्रभाव नहीं डालती है, बल्कि परिवार के सौहार्द को भी प्रभावित करती है। इसकी बानगी संगम विहार जैसे जेजे क्लस्टर के इलाकों में देखी जा सकती है, जहां अवैध शराब की तस्करी पर लगाम लगाने के बाद घरेलू कलह के मामले स्वतः कम हो गए। दरअसल, संगम विहार, नेब सराय और फतेहपुर बेरी जैसे सीमावर्ती इलाकों में पुलिस ने अवैध शराब की तस्करी रोकने के लिए विशेष टीमों का गठन किया हुआ है, जहां पुलिस की टीमें सिर्फ लग्जरी कार पर ही नहीं, बल्कि एंबुलेंस से लेकर साइकिल और स्कूटर तक पर निगरानी रखती हैं। जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जिले में अवैध शराब की तस्करी के कई नए तरीके देखने को मिले हैं।

यहां जहां वाट्सएप पर ऑर्डर लेकर पिज्जा की तर्ज पर अवैध शराब घर-घर तक पहुंचाई जाती रही है, तो वहीं शादियों में अवैध शराब की आपूर्ति करने के लिए लग्जरी कार में सज-धज कर लड़के निकलते हैं, जिससे पकड़े जाने पर वह खुद को बाराती घोषित कर सके। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नववर्ष की लिहाज से जिले में अवैध शराब की सप्लाई को लेकर कड़ी निगरानी बरती जा रही है। खासकर, संगम विहार में एसएचओ उपेंद्र सिंह, नेब सराय में एसएचओ कुलदीप सिंह की टीम पिकेटिंग लगाकर तस्करों पर नजर बनाए हुए हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि संगम विहार थाना पुलिस ने अकेले इस वर्ष अक्टूबर तक 50 से अधिक एक्साइज के मामले पकड़े हैं, जिसमें 5877 लीटर अवैध शराब मिली है।

इसके अलावा एक मामले में तो अवैध शराब की तस्करी करने वाले दो लड़के बकायदा कानून की पढ़ाई कर रहे थे। दोनों आरोपी अंग्रेजी शराब की अवैध बोतलें बरामद हुई थीं। वहीं नेब सराय थाना पुलिस ने एक्साइज एक्ट में इस वर्ष 38 मामले दर्ज किए हैं, जिसमें तीन हजार लीटर से अधिक अवैध शराब की बोतलें बरामद की गई हैं। एसएचओ कुलदीप सिंह की टीम ने इस वर्ष 40 से अधिक आरोपियों को पकड़ा है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि नववर्ष से पहले अवैध शराब की मांग बढ़ जाती है, जिसमें बदमाश नई नई तरकीबों को इजाद करते हैं। पुलिस को आशंका है कि इस वर्ष वह पुलिस से बचने के लिए खुद एंबुलेंस जैसी दिखने वाली गाड़ी में शराब की तस्करी कर सकते हैं, इसलिए पुलिस ऐसी गाड़ियों पर भी निगरानी रखेगी। दक्षिणी जिला पुलिस उपायुक्त रोमिल बानिया ने बताया कि दूसरे राज्यों व जिलों की पुलिस से बातचीत करके अवैध शराब की तस्करी को रोकने के लिए पुलिस प्रयासरत है।

देश की हर छोटी-बड़ी खबर जानने के लिए पढ़े पंजाब केसरी अख़बार। - रवि भूषण द्विवेदी