BREAKING NEWS

आज का राशिफल (30 जनवरी 2022)◾सिर्फ मोदी को लगता है, चीन ने हमारी जमीन नहीं ली : राहुल गांधी◾BCCI ने भारतीय अंडर-19 महिला टीम के लिए 5 करोड़ के नकद पुरस्कार की घोषणा की◾भारतीय महिला टीम बनी अंडर-19 टी20 विश्व कप चैम्पियन, बधाइयों का लगा तांता◾बारिश भी नहीं डिगा सका बीटिंग रिट्रीट के जज्बे को, गणतंत्र दिवस समारोह का हुआ औपचारिक समापन◾दिल्ली में बारिश, अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री नीचे◾ओडिशा के मंत्री नब किशोर दास की गोली लगने से मौत, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री ने शोक जताया◾IND vs NZ : स्पिनरों के दबदबे के बीच भारत ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया, श्रृंखला 1-1 से बराबर◾हमीरपुर में दूषित जल पीने से बीमार पड़ने वालों की संख्या 535 हुई, मुख्यमंत्री ने रिपोर्ट मांगी◾प्रधानमंत्री मोदी : 'तकनीकी दशक बनाने का भारत का सपना होगा साकार'◾रामचरितमानस विवाद में घिरे स्वामी प्रसाद को अखिलेश ने बनाया राष्ट्रीय महासचिव, चाचा शिवपाल को भी मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾यूपी के मंत्री जितिन प्रसाद ने स्वामी प्रसाद मौर्य के रामचरितमानस बयान को बताया चुनावी रणनीति◾Air Asia Flight: एयर एशिया के विमान से टकराया पक्षी, लखनऊ एयरपोर्ट पर हुई इमरजेंसी लैंडिंग◾ सपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की लिस्ट में पार्टी नेताओं के नाम किए घोषित,विवादों में रहें स्वामी प्रसाद मौर्य को बनाया गया महासचिव◾पाकिस्तान की जनता पर टूटा दुखों का पहाड़, पेट्रोल, डीजल के दाम 35-35 रुपये लीटर बढ़े◾Gonda Crime : धारदार हथियार से की शिक्षक की हत्या, मिले कुछ महत्वपूर्ण सुराग ◾2024 के लिए कठिन क्यों है कांग्रेस का डगर, भारत जोड़ो यात्रा से लोगों में दिखा असर◾कांग्रेस पार्टी शुरु करेंगी हाथ से हाथ जोड़ो अभियान, केंद्र की खराब नीतियों से कराएगी अवगत◾Bharat Jodo Yatra: रणदीप सुरजेवाला ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होने से लोगों को रोका◾पाकिस्तान के बलूचिस्तान में खाई में गिरी बस, 41 की जलकर दर्दनाक मौत◾

दिल्ली : जज का महिला कर्मचारी संग अश्लील MMS वायरल , HC ने सस्पेंड कर सरकार को दिया ये आदेश

राउज एवेन्यू कोर्ट (Rouse Avenue Court) के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश (Additional Sessions Judge) का एक महिला स्टेनोग्राफर के साथ आपत्तिजनक वीडियो सामने आने के बाद न्यायपालिका पर सवाल खड़े हो गए है। मामले की सुनवाई करते हुए दिल्ली हाई कोर्ट ने दोनों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंडेड कर दिया है। इसके साथ सरकार ने सोशल मीडिया पर इस वीडियो को ब्लॉक करने का आदेश दिया है। महान्यायालय ने वीडियो पर स्वत: संज्ञान लेते हुए यह आदेश दिया है।

वीडियो में दिख रही महिला जज की स्टेनोग्राफर

इस वीडियो में आरोपी जज अपने केबिन में एक महिला के साथ आपत्तिजनक हालत में नजर आ रहा है। यह महिला उन्हीं के स्टाफ में काम करने वाली बताई गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वीडियो में दिख रही महिला जज की स्टेनोग्राफर है। 

आदेश जारी करते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा ने कहा कि वीडियो से व्यक्तियों के निजता के अधिकार को अपूरणीय क्षति होने की संभावना है। इसलिए इसे फैलने से रोकना चाहिए। साथ ही कोर्ट ने आरोपी जज और महिला स्टेनोग्राफर को भी सस्पेंड कर दिया है। कोर्ट ने इस वीडियो की जांच के लिए एक कमेटी भी गठित की है। जज के चेंबर में वीडियो कैसे बनाया गया, इसकी भी जांच की जाएगी।

वीडियो वायरल होने के बाद ही वकीलों ने जांच की मांग की

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोर्ट परिसर में जज और महिला स्टेनोग्राफर के बीच कुछ समय से इस तरह की हरकतों की चर्चा चल रही थी। संदेह है कि कोर्ट के कर्मचारियों ने सीसीटीवी फुटेज से वीडियो रिकॉर्ड किया और इस वीडियो को वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद ही वकीलों ने जांच की मांग की थी । किसी ने चीफ जस्टिस को वीडियो दे दिया और उन्होंने यह कार्रवाई करते हुए इसे गंभीरता से लिया।

वीडियो में दिख रही महिला ने इस वीडियो को फर्जी बताया। महिला ने वीडियो को वायरल होने से रोकने के लिए याचिका भी दायर की है। हाईकोर्ट ने महिला के खिलाफ भी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। मामले की जांच के लिए एक आयोग का गठन किया जा रहा है।