BREAKING NEWS

गुजरात में कोरोना के 376 नये मामले सामने आये, संक्रमितों की संख्या बढ़कर 15205 हुई ◾पड़ोसी देश नेपाल की राजनीतिक हालात पर बारीकी से नजर रख रहा है भारत◾कोरोना वायरस : आर्थिक संकट के बीच पंजाब सरकार ने केंद्र से मांगी 51,102 करोड रुपये की राजकोषीय सहायता◾चीन, भारत को अपने मतभेद बातचीत के जरिये सुलझाने चाहिए : चीनी राजदूत◾महाराष्ट्र : 24 घंटे में कोरोना से 105 लोगों की गई जान, मरीजों की संख्या 57 हजार के करीब◾उत्तर - मध्य भारत में भयंकर गर्मी का प्रकोप , लगातार दूसरे दिन दिल्ली में पारा 47 डिग्री के पार◾नक्शा विवाद में नेपाल ने अपने कदम पीछे खींचे, भारत के हिस्सों को नक्शे में दिखाने का प्रस्ताव वापस◾भारत-चीन के बीच सीमा विवाद पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने की मध्यस्थता की पेशकश◾चीन के साथ तनातनी पर रविशंकर प्रसाद बोले - नरेंद्र मोदी के भारत को कोई भी आंख नहीं दिखा सकता◾LAC पर भारत के साथ तनातनी के बीच चीन का बड़ा बयान , कहा - हालात ‘‘पूरी तरह स्थिर और नियंत्रण-योग्य’’ ◾बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 792 नए मामले आए सामने, अब तक कुल 303 लोगों की मौत ◾प्रियंका ने CM योगी से किया सवाल, क्या मजदूरों को बंधुआ बनाना चाहती है सरकार?◾राहुल के 'लॉकडाउन' को विफल बताने वाले आरोपों को केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने बताया झूठ◾वायुसेना में शामिल हुई लड़ाकू विमान तेजस की दूसरी स्क्वाड्रन, इजरायल की मिसाइल से है लैस◾केन्द्र और महाराष्ट्र सरकार के विवाद में पिस रहे लाखों प्रवासी श्रमिक : मायावती ◾कोरोना संकट के बीच CM उद्धव ठाकरे ने बुलाई सहयोगी दलों की बैठक◾राहुल गांधी से बोले एक्सपर्ट- 2021 तक रहेगा कोरोना, आर्थिक गतिविधियों पर लोगों में विश्वास पैदा करने की जरूरत◾देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा डेढ़ लाख के पार, अब तक 4 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾राजस्थान में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7600 के पार, अब तक 172 लोगों की मौत हुई ◾Covid-19 : राहुल गांधी आज सुबह प्रसिद्ध स्वास्थ्य पेशेवरों के साथ करेंगे चर्चा ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

2.80 लाख सीसीटीवी लगाने वाला दिल्ली विश्व का पहला शहर : जैन

नई दिल्ली : लोक निर्माण मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली देश का नहीं दुनिया का पहला शहर है जहां पर इतनी बड़ी संख्या में सीसीटीवी कैमरे सरकारी मार पर लगाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इससे पहले लंदन में सरकारी तौर पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे, मगर उनकी संख्या बहुत कम है, वह भी कई साल में लगाए गए। जैन दिल्ली विधानसभा में सरकार की सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने की योजना पर सत्ता पक्ष द्वारा कराई गई चर्चा में अपना वक्तव्य दे रहे थे। 

जैन ने सरकार की योजना का जिक्र करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार ने पूरी राजधानी में 2.80 लाख सीसीटीवी कैमरे लगवाने की दिशा में कदम बढ़ा दिया है। पहले फेज में 1.40 लाख सीसीटीवी लगाए जा रहे हैं और सोमवार को दूसरे फेज में अतिरिक्त 1.40 लाख सीसीटीवी कैमरों लिए सरकार ने निविदा जारी की कर दी है। निविदा जारी होने के एक साल के भीतर सभी कैमरे लग जाएंगे। इसके बाद पूरी दुनिया में पहली बार किसी शहर पर इतने बड़े पैमाने पर सीसीटीवी से नजर रखी जा सकेगी। 

चर्चा में हिस्सा लेते हुए मंत्री जैन ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे में लगने वाली बिजली का खर्च दिल्ली सरकार देगी। फिलहाल जिस तरह के कैमरे लगाए जा रहे हैं, उसमें एक कैमरे में प्रतिमाह 6 यूनिट बिजली खर्च होगी। वहीं, सीसीटीवी के एक पैनल पर 20 यूनिट का खर्चा आएगा। एक पैनल से चार सीसीटीवी कैमरे जुड़े होंगे। इस लिहाज से महीने में कुल 44 यूनिट बिजली का खर्च आएगा।

वाई-फाई से युक्त सारे कैमरे वायरलेस

सत्येंद्र जैन ने बताया कि अत्याधुनिक तकनीक के एचडी कैमरों की रिकॉर्डिंग एक महीने तक सुरक्षित रखी जा सकेगी। वहीं 50 मीटर के दायरे की तस्वीरे साफ-सुथरी होंगी। वाई-फाई से युक्त सारे कैमरे वायरलेस हैं। अगर किसी कैमरे में कोई खराबी आती है तो तुरंत इसकी सूचना दिल्ली पुलिस के साथ पीडब्ल्यूडी, लगाने वाली कंपनी व आरडब्ल्यूए के पास चली जाएगी। कंपनी पांच साल तक कैमरों को रखरखाव करेगी।

छोटे-छोटे अपराधों में आ रही है कमी : मनीष सिसोदिया 

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सदन में बताया कि सीसीटीवी कैमरों को आम दिल्लीवाले अपनी सुरक्षा के लिए बेहतर कदम मान रहे हैं। अपना अनुभव साझा करते हुए सिसोदिया ने कहा कि वह जहां-जहां इस बारे में बात करते हैं, वहां के लोगों का मानना है कि बड़े ही नहीं, छोटे-छोटे अपराधों में भी इससे कमी आई है। एक उदाहरण देते हुए सिसोदि़या ने बताया कि अभी एक मंदिर कमेटी की तरफ बताया गया कि कैमरे लगने से ऐसा पहली बार हुआ कि जन्माष्टमी के दौरान उनके मंदिर में चप्पल चोरी नहीं हुईं। जिन स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लग गए हैं उनकेग बच्चे बताते हैं कि अब उनकी पेंसिल गुम नहीं होती है। उन्होंने कहा कि इलाकों में तैनात पुलिस वाले भी कैमरों को लेकर खुश हैं।

विधायकों ने दिया धन्यवाद

अल्पकालिक चर्चा की शुरुआत करते हुए विधायक जरनैल सिंह ने दिल्ली सरकार को इस महत्वाकांक्षी योजना के लिए बधाई दी। साथ ही उम्मीद जताई कि कैमरों के लगने से दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता होगी। दूसरे विधायकों में अखिलेश पति त्रिपाठी, मदन लाल, भावना गौड़, सोमनाथ भारती आदि ने भी अपने विचार रखे।