BREAKING NEWS

दिल्ली में हिंसा के लिए गृह मंत्री जिम्मेदार, कांग्रेस ने कहा- केवल 30 से 40 ट्रैक्टर लेकर उपद्रवी लाल किले में कैसे घुस पाए?◾हिंसा के बाद किसान आंदोलन में पड़ी दरार, दो संगठनों ने खुद को किया अलग◾26 जनवरी हिंसा: राकेश टिकैत, अन्य किसान नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज◾गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कानून-व्यवस्था की समीक्षा की ◾संयुक्त किसान मोर्चा की सफाई - असामाजिक तत्वों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को नष्ट करने की कोशिश की◾दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा के संबंध 200 लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी ◾BCCI प्रमुख सौरव गांगुली को सीने में दर्द, अपोलो हॉस्पिटल में कराया गया एडमिट ◾नेपाल में कोविड टीकाकरण का पहला चरण शुरू, भारत ने तोहफे में दी है 10 लाख वैक्सीन डोज◾ किसान ट्रैक्टर परेड: गणतंत्र दिवस पर हिंसा की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल◾दो दिवसीय दौरे पर केरल पहुंचे राहुल, मलप्पुरम में गर्ल्स स्कूल के भवन का किया उद्घाटन ◾किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश हुई कामयाब : हन्नान मोल्लाह◾किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा में 300 पुलिसकर्मी हुए घायल, क्राइम ब्रांच करेगी जांच◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : संयुक्त किसान मोर्चा ने बुलाई बैठक, सभी पहलुओं पर होगी चर्चा ◾DND फ्लाईओवर पर लगा भारी जाम, लाल किला मेट्रो स्टेशन की एंट्री व एग्जिट बंद ◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में 12 हजार नए केस, 137 मरीजों की हुई मौत ◾वीडियो वायरल होने के बाद बोले राकेश टिकैत-लाठी कोई हथियार नहीं◾विश्व में कोरोना का प्रकोप जारी, मरीजों का आंकड़ा 10 करोड़ से पार ◾किसानों की ट्रैक्टर परेड में बवाल, दिल्ली पुलिस ने हिंसा के मामले में 22 FIR दर्ज की ◾TOP 5 NEWS 27 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾राकांपा अध्यक्ष शरद पवार बोले- दिल्ली में जो कुछ हुआ, उसका समर्थन नहीं किया जा सकता ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

विदेशी महिला ने डॉक्टर को लगाया 30 लाख का चूना

पश्चिमी दिल्ली : पश्चिमी जिले के राजौरी गार्डन इलाके में विदेशी महिला ने डॉक्टर को कारोबार में करोड़ों का मुनाफा कराने का झांसा देकर उनसे 30 लाख रुपए ठग लिए। आरोपी महिला ने कैंसर की दवा बनाने वाली सीड की डील के नाम पर डॉक्टर को जाल में फंसाया। इसके बाद डॉक्टर से अलग-अलग चार अकाउंट में रकम जमा कराकर उससे 30 लाख ऐंठ लिए। पीड़ित डॉक्टर की शिकायत पर पुलिस ने शुक्रवार को मामला दर्जकर लिया। पुलिस मामले की जांच में साइबर सेल की मदद ले रही है। 

पुलिस को दिए बयान में पीड़ित डॉक्टर लवज्योत सिंह ने बताया कि वह राजौरी गार्डन के जे-ब्लॉक में रहता है। वह इलाके के नेहरू मार्केट में अपनी क्लीनिक चलाता है। उसकी पिछले दिनों खुद को यूके मूल की बताने वाली विनियन जॉनसन नाम की महिला से दोस्ती हुई थी। दोस्त होने के नाते महिला ने बताया कि वह फार्मा के कारोबार से जुड़ी है और इस वक्त वह कैंसर की दवा बनाने का काम कर रही है। इसके लिए वह भारत आनेवाली है और इस दवा में इस्तेमाल की जाने वाली कुछ सीड खरीदने वाली है। 

इस सीड का कारोबार करने में उसने करोड़ों रुपए का मुनाफा कमाने का झांसा दिया। इतना ही नहीं उसने डॉक्टर को भी इस करोबार से जुड़ने की बात कही और यह कहा कि वह भी सीड खरीद ले। यह सीड एक भारतीय ही मुहैया कराता है। वह उसका नंबर उसे देगी। विदेशी महिला ने यह भी बताया कि वह उसे कम कीमत पर माल मुहैया कराएगी और उसके सीड को वह संबंधित दवा कंपनी में सेल करवा देगी। इससे उसे करोड़ों का मुनाफा होगा, लेकिन सीड की डील महंगी होने के कारण डॉक्टर ने मना कर दिया। 

इसके बाद बीते 4 जुलाई को उसने मैसेज किया कि वह एक सूटकेस भेज रही है, उसमें कुछ नगदी और मोबाइल फोन है। वह उसे ले ले और उसी रकम से सीड खरीद ले। दोस्ती में यह सबकुछ चलता है। उसने डॉक्टर के साथ एक झूठी कारोबारी डील की और यह कहा कि इसमें से जो मुनाफा वह कमाएगा, उससे वह उसकी उधार की रकम दे देगा। इस तरह से उसने डॉक्टर को जाल में फंसा कर नगदी से भरा सूटकेस हासिल करने के नाम पर उससे पहले कस्टम तो बाद में इनकम टैक्स और अन्य दूसरे माध्यमों में चार से पांच किश्तों में दो से तीन लाख के बीच की रकम अलग-अलग बैंक में जमा करवा ली।

लिंक भेजकर ठगा

पुलिस के अनुसार, इसके बाद एक लिंक पीड़ित को भेजा और यह कहा कि इस लिंक में मांगी गई सूचना भरने के बाद रकम उसके अकाउंट में ट्रांसफर हो जाएगी। जब वह उस लिंक को भरने लगा तो उसमें यह मैसेज आया कि आपका अकाउंट इंटरनेशनल रकम नहीं ले सकता। इसके लिए आपको कुछ रकम जमा करानी होगी, फिर इस नाम पर रकम जमा कराई।

कोरियर भेजकर रकम ऐंठी

महिला ने कोरियर भेजकर एक सीड मुहैया कराई। इसके बाद उसकी जांच के लिए उसे बेंगुलुरू बुलवाया। वहां उसने एक व्यक्ति से मुलाकात की। उसने सीड को उम्दा क्वालिटी का बताते हुए कहा कि उसकी दोस्त विनियम जॉनसन मुंबई आ गई हैं, लेकिन उनके पास येलो कार्ड नहीं है। इसके लिए उन्हें कुछ रकम की जरूरत है। अगर रकम नहीं मुहैया कराओगे तो उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा। फिर डॉक्टर से रकम ऐंठी। इस तरह से डॉक्टर से कुल 30 लाख रुपए ठग लिए।