BREAKING NEWS

ट्रेनों के निजीकरण पर रेलवे का बयान : नौकरियां नहीं जाएंगी, लेकिन काम बदल सकता है ◾तमिलनाडु में कोरोना मरीजों की संख्या एक लाख के पार ,बीते 24 घंटों में 4329 नये मामले और 64 लोगों की मौत◾पीएम के लेह दौरे पर बोले अधीर रंजन - सैनिकों का मनोबल बढ़ा लेकिन चीनी अतिक्रमण नकारे नहीं ◾दिल्ली में कोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में 2,520 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 94 हजार के पार◾महाराष्ट्र में कोरोना वायरस ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड , 6364 नये मामले आये सामने और 198 लोगों की मौत ◾मोदी की लद्दाख यात्रा पर तिलमिलाए चीन ने कहा - हमें विस्तारवादी कहना आधारहीन◾दिल्ली-NCR में 4.7 रिक्टर स्केल तीव्रता भूकंप के झटके, राजस्थान के अलवर में था भूकंप का केंद्र◾सीएम योगी का ऐलान - शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार को सरकारी नौकरी और एक करोड़ रुपये का मुआवजा ◾चीन से सीमा विवाद पर भारत के समर्थन में आया जापान, कहा- LAC की यथास्थिति बदलने के एकतरफा प्रयास का करेंगे विरोध◾पीएम मोदी ने गलवान घाटी झड़प में घायल सैनिकों से कहा- ‘आपने करारा जवाब दिया’◾लद्दाख में अतिक्रमण को लेकर राहुल ने ट्वीट किया वीडियो, कहा-कोई तो बोल रहा है झूठ◾लेह से चीन को PM मोदी का सख्त सन्देश, बोले- इतिहास गवाह है कि विस्तारवादी ताकतों को हमेशा मिली हार◾PM मोदी के लेह दौरे से तिलमिलाया ड्रैगन, कहा-कोई पक्ष हालात न बिगाड़े ◾चीन और पाकिस्तान से बिजली उपकरणों का आयात नहीं करेगा भारत ◾PM मोदी के लेह दौरे पर सियासत शुरू, मनीष तिवारी बोले- जब इंदिरा गई थीं तो पाक के दो टुकड़े किए थे◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 8 लाख के पार, सवा पांच लाख के करीब लोगों की मौत◾कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों को CM योगी ने दी श्रद्धांजलि, कहा-व्यर्थ नहीं जाएगा यह बलिदान ◾चीन के साथ तनाव के बीच PM मोदी का औचक लेह दौरा, अग्रिम पोस्ट पर जवानों से की मुलाकात◾देश में एक दिन में 20 हजार से अधिक कोरोना मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा सवा छह लाख के पार◾15 अगस्त को लॉन्च हो सकती है स्वदेशी कोरोना वैक्सीन COVAXIN, 7 जुलाई से शुरू होगा ह्यूमन ट्रायल◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जीडीपी बैक सीरीज पर सरकार का स्पष्टीकरण

सरकार ने सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) बैक सीरीज के डाटा को लेकर राजनीतिक स्तर पर हो रही बयानबाजी और मीडिया में आ रही खबरों के बीच बुधवार को स्पष्टीकरण जारी करते हुये कहा कि अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप आर्थिक आंकड़े को अद्यतन करने के लिए जीडीपी बैक सीरीज डाटा जारी किये गये।

 इस संबंध में जारी स्पष्टीकरण में कहा गया कि किसी भी अर्थव्यवस्था के लिए जीडीपी का अनुमान बहुत जटिल काम है क्योंकि इसमें कई मानक और तौर तरीके शामिल होते है जो अर्थव्यवस्था के प्रदर्शन का आकलन करते हैं। वैश्विक मानकीकरण और तुलनात्मकता के लिए दुनिया भर के देश संयुक्त राष्ट्र के राष्ट्रीय अकाउंट सिस्टम (एसएनए) का पालन कर रहे हैं।

सरकार ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक के इस संबंध में दिशा निर्देशों का भी उल्लेख किया है। इसमें कहा गया है कि राष्ट्रीय अकाउंट सिस्टम का नया संस्करण 2008 का है जो राष्ट्रीय अकाउंट के लिए सबसे नया अंतरराष्ट्रीय सांख्यिकी मानक है। संयुक्त राष्ट्र सांख्यिकी आयोग (यूएनएससी) ने वर्ष 2009 में इसको अपनाया और वर्ष 1993 में जारी राष्ट्रीय अकाउंट सिस्टम का स्थान लिया है। इसी के आधार पर वैश्विक स्तर पर आर्थिक और विकास के आंकड़ तय किये जा रहे हैं।

इसमें कहा गया है कि एसएनए में आधार वर्ष का भी उल्लेख किया गया है जिसमें नियमित अंतराल पर बदलाव किया जाता है ताकि आर्थिक माहौल, शोध के तौर-तरीके और आर्थिक आंकड़ के लिए उचित तरीके से जुटाये जा सके। उसने कहा कि अर्थव्यवस्था में ढांचागत बदलाव आ रहे हैं।

इसके मद्देजनर जीडीपी, औद्योगिक उत्पादन सूचकांक, उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आदि के लिए आधार वर्ष में नियमित अंतरात पर बदलाव करने की जरूरत होती है। सरकार ने कहा कि 30 जनवरी 2015 को जीडीपी के आधार वर्ष को 2004-05 से बदलकर 201।12 किया गया था जो एसएनए 2008 पर आधारित था। सरकार ने वर्ष 2018-19 के लिए जीडीपी के आंकड़ जारी किये जाने की तिथि भी बतायी है और कहा है कि इस संबंध में अंतिम आंकड़ 31 जनवरी 2022 को जारी किया जायेगा।