BREAKING NEWS

गृह मंत्री अमित शाह के कर्नाटक दौरे के दौरान सुरक्षा में सेंध, दो छात्र गिरफ्तार◾चुनाव कानून के उल्लंघन को लेकर उतर प्रदेश में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की समय सीमा बढ़ा दी गई ◾ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने असामाजिक आचरण के खिलाफ शुरू किया अभियान ◾US Banking Crisis: संकट में डूबे SVB को मिला सहारा, इस बड़े बैंक ने खरीदा ◾STT दर में सुधार के लिए वित्त मंत्री सीतारमण ने वित्त विधेयक में संशोधन पेश किया◾आकांक्षा दुबे Suicide केस में भोजपुरी सिंगर के खिलाफ मामला दर्ज, Actresss की मां ने की थी शिकायत◾अमृतपाल सिंह के नेपाल में छिपे होने की आशंका, भारत ने पड़ोसी देश से किया ये अनुरोध ◾मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पंजाब में फसल क्षति का आकलन एक सप्ताह में पूरा करने के दिए निर्देश◾बिहार की सियासत में हलचल, खरना का प्रसाद खाने भाजपा नेता के घर पहुंचे नीतीश, शुरू हुई नई चर्चा ◾राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू दो दिवसीय पश्चिम बंगाल दौरे पर कोलकाता पहुंचीं◾पिछले पांच सालों में ED ने धन शोधन निवारण अधिनियम के तहत 3,497 मामले दर्ज किए◾Rahul Gandhi के समर्थन में युवा कांग्रेस के सदस्यों ने किया प्रदर्शन ◾‘PF का पैसा भी अडानी को’ ... पीएम मोदी पर फिर बरसे राहुल, कहा: जांच से डर क्यों?◾राहुल और उद्धव ठाकरे मिलेंगे और अपने मतभेदों को दूर करने की कोशिश करेंगे◾वित्त विधेयक 2023 संसद से मंजूर, हंगामे के बीच राज्यसभा ने लौटाया◾CM Yogi ने कहा- 'सारस के लिए विकसित किये जाएं विशेष पार्क'◾इजराइल: PM नेतन्याहू ने रक्षा मंत्री को किया बर्खास्त, न्यायपालिका में बदलाव की योजना पर जताया था विरोध ◾ईडी की जांच में आईसीडीएस भर्ती में कुछ अनियमितताएं पाई गईं◾कर्नाटक उच्च न्यायालय ने दिया निर्देश- 'सरकारी कर्मियों के खिलाफ मुकदमे के लिए मंजूरी पर 6 महीने के भीतर फैसला करें'◾अमेरिका: नगर कीर्तन के दौरान गुरुद्वारे में चली गोलियां, दो घायल ◾

Jahangirpuri Violence: दिल्ली पुलिस करेगी स्थिति का मुआएना, भारी सुरक्षा-व्यवस्था में जल्द होगी कटौती?

राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी में 16 अप्रैल, शनिवार को हुई हिंसा के बाद अब इलाके का माहौल काफी स्थिर है। हिंसा के बाद दिल्ली पुलिस ने भारी संख्या में पुलिसबल को तैनात किया था। ऐसे में अब दिल्ली पुलिस की तरफ से जानकारी आ रही है कि वह जहांगीरपुरी इलाके में सुरक्षा व्यवस्था की मौजूदा स्थिति का आंकलन करने के बाद सुरक्षा बलों की तैनाती पर फैसला लेगी। 

बता दें कि जहांगीरपुरी के सी-ब्लॉक में हुई हिंसा के बाद माहौल अब काफी हद तक सही है। बीते रविवार को हिंदूओं और मुलसमानों ने मिलकर एकसाथ शांतिपूर्वक ढंग से तिरंगा यात्रा निकाली और पूरे समाज को शांति और सद्भाव का विशेष संदेश दिया।  


दिल्ली पुलिस उपायुक्त ने की स्थिति की समीक्षा 

दिल्ली पुलिस ने इस रैली को सुगम बनाने के लिए इलाके में भारी सुरक्षा तैनात की थी। पुलिस ने दोनों समुदायों के लगभग 50 लोगों को रैली में भाग लेने की अनुमति दी थी। इलाके से तिरंगा यात्रा निकले जाने के एक दिन बाद पुलिस उपायुक्त (उत्तर-पश्चिम) उषा रंगनानी ने कहा कि मौजूदा स्थिति के आधार पर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की जा रही है और उसके अनुसार ही हम एक निर्णय लेंगे और आवश्यक व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि फिलहाल इलाके में उपयुक्त और पर्याप्त संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। 

दिल्ली पुलिस के आला अधिकारी के मुताबिक, इलाके में चौबीसों घंटे 500 से अधिक पुलिस कर्मियों और अतिरिक्त बल की छह कंपनियों को तैनात किया गया है। अधिकारी ने कहा कि कुल 80 आंसू गैस गन पार्टी और वाटर कैनन तैनात किए गए हैं। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए पूरे इलाके में छत पर निगरानी के लिए ड्रोन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।  

ये है पूरा मामला 

गौरतलब है कि 16 अप्रैल को भगवान हनुमान के जन्मोत्सव पर शोभायात्रा निकाली जा रही थी, तभी दो समुदायों के मध्य झड़प हो गई, जिसके बाद पुलिस ने मामले में  हस्तक्षेप किया। लेकिन मामला हाथ से  निकलता चला गया और भीषण हिंसा का रूप अख्तियार कर लिया। इस हिंसा में आठ पुलिसकर्मी समेत एक स्थानीय व्यक्ति भी घायल हो गया था। पुलिस के अनुसार, दो समुदायों में झड़प हुई,  जिसके बाद दोनों पक्षों में पथराव शुरू हो गई थी। हिंसक भीड़ ने सड़क पर मौजूद वाहनों में आगजनी शुरू कर दी। इसके बाद मामले को संभालते हुए पुलिस ने अगले दिन से भारी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात कर दिया।