BREAKING NEWS

कपिल सिब्बल का प्रधानमंत्री पर वार, कहा-PM Cares Fund से प्रवासी मजदूरों को कितने रुपए दिए बताएं◾कोरोना संकट : दिल्ली सरकार ने राजस्व की कमी के कारण केंद्र से मांगी 5000 करोड़ रुपए की मदद ◾मन की बात में PM मोदी ने योग के महत्व का किया जिक्र, बोले- भारत की इस धरोहर को आशा से देख रहा है विश्व◾'मन की बात' में PM मोदी ने देशवासियों की सेवाशक्ति को कोरोना जंग में बताया सबसे बड़ी ताकत◾तमिलनाडु सरकार ने 30 जून तक बढ़ाया लॉकडाउन, सार्वजनिक परिवहन की आंशिक बहाली की दी अनुमति ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख 82 हजार के पार, महामारी से 5164 लोगों ने गंवाई जान ◾विश्व में कोरोना मरीजों का बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 60 लाख के पार◾महाराष्ट्र में लॉकडाउन बढ़ाए जाने के बाद शरद पवार ने CM उद्धव ठाकरे से की मुलाकात ◾दिल्ली में कोविड-19 के 1163 नए मामले की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 18 हजार को पार◾देशभर में 30 जून तक बढ़ा लॉकडाउन, 8 जून से रेस्टोरेंट, मॉल और धार्मिक स्थल खोलने की मिली अनुमति ◾लॉकडाउन, अनुच्छेद 370 खत्म करना, राम मंदिर ट्रस्ट बड़ी उपलब्धियों में शामिल : गृह मंत्रालय ◾हिन्दुस्तान में बहुत सारे लोग कष्ट में हैं और भाजपा सरकार जश्न मना रही है : प्रियंका गांधी वाड्रा ◾लद्दाख सीमा तनाव पर रक्षामंत्री बोले- चीन से डिप्लोमैटिक और मिलिट्री लेवल पर चल रही है बातचीत ◾लॉकडाउन 5.0 लागू करने पर पीएमओ में महामंथन, गृहमंत्री अमित शाह ने की पीएम मोदी से मुलाकात◾कोरोना के बढ़ते केसों से घबराएं नहीं, महामारी से चार कदम आगे है आपकी सरकार : CM केजरीवाल◾मोदी सरकार 2.0 की पहली वर्षगांठ पर कांग्रेस ने कसा तंज, ‘बेबस लोग, बेरहम सरकार’ का दिया नारा ◾मोदी जी की इच्छा शक्ति की वजह से सरकार ने साहसिक लड़ाई लड़ी एवं समय पर निर्णय लिये : नड्डा ◾कोविड-19 पर पीएम मोदी का आह्वान - 'लड़ाई लंबी है लेकिन हम विजय पथ पर चल पड़े हैं'◾दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को लेकर कांग्रेस, भाजपा के निशाने पर केजरीवाल सरकार◾राम मंदिर , सीएए, तीन तलाक, धारा 370 जैसे मुद्दों का हल दूसरे कार्यकाल की प्रमुख उपलब्धियां : PM मोदी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कोरोना वायरस के चलते JNU प्रशासन ने छात्रों को हॉस्टल खाली करने का दिया निर्देश

देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) के बढ़ते मामलों को लेकर केंद्र और राज्य सरकारें एहतियात के तौर पर कई कदम उठा रहीं है। सरकारें लगातार देशवासियों से सरक्षित रहने और घर से बेवजह बाहर न निकलने की हिदायत दे रही है। इसी बीच राजधानी दिल्ली में वायरस के प्रकोप को देखते हुए जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) प्रशासन ने छात्रों को हॉस्टल खाली करने का निर्देश दिया है। 

जेएनयू प्रशासन का यह निर्देश मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के उस बयान के बाद आया। जिसमें उन्होंने बताया था कि उप राज्यपाल अनिल बैजल ने सभी सरकारी विभागों, स्वायत्त निकायों और सार्वजनिक उपक्रमों की गतिविधियों को अलग-अलग बांटने और सभी गैर जरूरी सेवाएं स्थगित करने को कहा है। 

कोरोना वायरस : दिल्ली सरकार ने आदेश जारी कर निजी कंपनियों को 31 मार्च तक 'Work From Home' की दी अनुमति

यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कहा कि संस्थान तत्काल प्रभाव से 31 मार्च तक बंद रहेगा। निर्देश में कहा गया, ‘‘यूनिवर्सिटी में हॉस्टल, स्कूल और प्रशासन की सेवाओं सहित सभी गतिविधियां 31 मार्च तक निलंबित हैं। इसलिए सभी छात्रों को हॉस्टल को खाली करना होगा।’’ 

जेएनयू प्रशासन ने कहा कि सभी मूल्यांकन / परीक्षा / कक्षा प्रस्तुति गतिविधियों को 31 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। सभी शोधार्थियों के शोधप्रबंध जमा करने की समय सीमा को उचित रूप से बढ़ाया जाएगा। निर्देश में कहा गया, ‘‘छात्रों को हॉस्टल छोड़कर घर जाने में सुविधा के लिए अगले 48 घंटों तक मेस सुविधाएं उपलब्ध होंगी। 

उसके बाद 22 मार्च से 31 मार्च तक कोई भी मेस सुविधा और अन्य सेवाएं उपलब्ध नहीं होंगी।’’ यूनिवर्सिटी के विभिन्न स्कूलों/ विशेष केंद्रों में अनुसंधान प्रयोगशालाएं 31 मार्च तक यथासंभव हो बंद हो सकती हैं। निर्देश में कहा गया है,‘‘ अपने-अपने देश नहीं जा पाने वाले विदेशी छात्रों के लिए अंतर-हॉल प्रशासन आवश्यक व्यवस्था करेगा।’’