BREAKING NEWS

कार्यकर्ताओं से थरूर का वादा - बंद करूंगा एक लाइन की पंरपरा, क्षत्रपों को दूंगा बढ़ावा ◾कांग्रेस का अध्यक्ष मैं हूं? थरूर बोले- पार्टी को लेकर मेरा अपना दृष्टिकोण.... मैं हूं शशि पीछे नहीं हटूंगा ◾KCR द्वारा राष्ट्रीय पार्टी की औपचारिक घोषणा के बाद विमान खरीदेगा टीआरएस ◾अफगानिस्तान : धमाके में बिखर गए मासूमों के शरीर, काबुल के स्कूल में फिदायीन हमला ◾ अफगानिस्तान : धमाके में बिखर गए मासूमों के शरीर, काबूल के स्कूल में फिदायीन हमला ◾पंजाब : कांग्रेस ने भगवंत मान पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप, पूछा- क्या हुआ उन उपदेशों का ?◾CDS जनरल चौहान ने कार्यभार संभालने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से की मुलाकात ◾कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में नामांकन कर सबको चौंकाने वाले केएन त्रिपाठी कौन ? चुनाव को लेकर कितने गंभीर ◾इलाहाबाद HC ने मुख्यमंत्री योगी द्वारा दिए गए राजस्थान में आपत्तिजनक भाषण पर दायर याचिका को खारिज किया ◾खड़गे vs थरूर! कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर बोले मल्लिकार्जुन- मुझे पूरा विश्वास... मैं ही जीतूंगा◾कांग्रेस मुख्यालय में पहुंचे गहलोत, सचिन पायलट के समर्थकों ने की नारेबाजी◾Ankita Murder Case : अंकिता हत्याकांड में विशेष जांच दल को हाथ लगा बड़ा सबूत, SIT को मिला मोबाइल ?◾प्रमोद तिवारी का भाजपा पर तंज, कहा- अपनी आंख खोलो और देखो कांग्रेस में चुनाव होता है आपके यहां नहीं ◾हाथ पर हाथ धरी रह गई सपा, दफ्तर पर चल गया सरकार का बुल्डोजर◾गुजरात में बोले PM मोदी-21वीं सदी के भारत को देश के शहरों से मिलने वाली नई गति◾कौन होगा कांग्रेस का अध्यक्ष? गहलोत बोले- हम मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ खड़े, वह एक अनुभवी नेता है ◾कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव : थरूर, त्रिपाठी , खड़गे में कड़ा मुकाबला, असमंजस में बनी स्थिति साफ ◾SC ने संसद भवन के शेर की मूर्ति को लेके दायर याचिका कि खारिज, कहा- कानून का नहीं हुआ कोई उल्लंघन ◾रोचक बनी कांग्रेस अध्यक्ष की लड़ाई, खड़गे के समर्थन में उतरे गहलोत◾राहुल गांधी के फर्जी वीडियो वायरल करने पर कांग्रेस ने अशोक पंडित के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत◾

जुगराज सिंह के तौर पर हुई लाल किले पर झंडा फहराने वाले शख्स की पहचान,गांव छोड़कर भागे माता-पिता

गणतंत्र दिवस के दिन लाल किले की प्राचीर पर कथित तौर पर झंडा फहराने वाले युवक की पहचान जुगराज सिंह के रूप में हुई है। जुगराज पंजाब के तरनतारन जिले के गांव तारा सिंह का रहने वाला है। लाल किले एवं दिल्ली में हिंसा एवं उत्पात के खिलाफ दिल्ली पुलिस की कार्रवाई को देखते हुए जुगराज एवं उसके परिवार को आशंका है कि पुलिस उनके खिलाफ भी एक्शन ले सकती है। जैसे ही पुलिस द्वारा सख्ती किए जाने की भनक लगी जुगराज सिंह के पिता बलदेव सिंह अपनी पत्नी और तीन बेटियों के साथ घर से फरार हो गए हैं।

जुगराज के घर पर अब केवल उसके दादा-दादी हैं। जब जुगराज ने झंडा लगाया था तब उसके दादा मेहल सिंह ने कहा था, 'बारी कृपा है बाबे दी, बहोत सोहन है। एक दिन बाद जब उनसे अपने पोते के कृत्य के बारे में पूछा गया तो बोले, हम नहीं जानते कि क्या हुआ या कैसे हुआ, वह एक अच्छा लड़का है, जिसने हमें कभी भी शिकायत करने का कोई मौका नहीं दिया है। गांव के लोगों का कहना है कि इस घटना के बाद पुलिस कई बार जुगराज के घर आ चुकी है लेकिन उसे खाली हाथ लौटना पड़ा है। 

गांव के बुजुर्ग प्रेम सिंह ने बताया कि उन्होंने यह घटना टेलीविजन पर देखी थी। प्रेम सिंह ने जुगराज को एक परिश्रमी लड़का बताया। उन्होंने कहा, जुगराज ने जो किया वह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है लेकिन निर्दोष है, उसे नहीं पता कि लाल किले पर इस तरह से झंडा फहराने का दुष्परिणाम क्या हो सकता है। मैंने टेलीविजन पर देखा कि ये छंडे ट्रैक्टरों पर पहले से लगे थे। किसी ने झंडा थमाकर उसे लाल किले पर फहराने के लिए उकसाया होगा।

पुलिस के हवाले से कहा गया है कि लाल किले पर निशान साहिब झंडे को फहराने वाले युवक जुगराज की अलगाववादी या कोई आपराधिक पृष्ठभूमि नहीं है। उसके पिता बलदेव सिंह गुरुद्वारों पर निशान साहिब लगाते आए हैं, अपने पिता की तरह वह भी इस कार्य में निपुण है। उसके दादा मेहल सिंह का कहना है कि उनके पोते जुगराज ने तीन दिन पहले किसान आंदोलन में शामिल हुआ। खालड़ा पुलिस स्टेशन के एसएचओ समिंदरजीत सिंह का कहना है कि जुगराज का वीडियो क्लिप वायरल होने के बाद इस बात की जांच की गई कि कहीं परिवार का कोई आपराधिक रिकॉर्ड तो नहीं है।