BREAKING NEWS

ED ने कश्मीर में आतंकवादियों से संबंधित छह संपत्तियां जब्त की ◾प्रदूषण पर राज्यसभा में भाजपा और आप में तकरार, केंद्र ने कहा ‘अच्छे’ दिन बढे◾केजरीवाल के दबाव में केंद्र ने अनधिकृत कॉलोनियों के निवासियों को दिया मालिकाना हक : आप◾मोदी की जीत आशाओं तथा अपेक्षाओं की जीत : रविशंकर प्रसाद ◾विकास के कार्य पूरे करने को झारखंड में भाजपा को दें पूर्ण बहुमत : शाह◾राज्यसभा में विपक्षी दलों ने ट्रांसजेन्डर विधेयक को प्रवर समिति में भेजने की मांग की◾शिवसेना सदस्य ने की बिरसा मुंडा, वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग◾TOP 20 NEWS 21 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾महाराष्ट्र : कांग्रेस और NCP के बीच बातचीत पूरी, कल नई सरकार की रुपरेखा पर होगा अंतिम निर्णय◾महाराष्ट्र : कांग्रेस के साथ संयुक्त बैठक से पहले NCP नेताओं की बैठक ◾अमित शाह ने झारखंड में चुनावी रैली को किया संबोधित, राम मंदिर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना◾लोकसभा में कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने उठाया चुनावी बॉन्ड का मुद्दा◾साध्वी प्रज्ञा को रक्षा मंत्रालय की समिति में मिली जगह, कांग्रेस ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण◾दिल्ली : महाराष्ट्र में शिवसेना संग गठबंधन पर सीडब्ल्यूसी ने लगाई मुहर ◾महाराष्ट्र में सरकार गठन की प्रकिया 1 दिसंबर से पहले हो जाएगी पूरी : संजय राउत ◾दिल्ली : सोनिया गांधी के आवास पर सीडब्ल्यूसी की बैठक, महाराष्ट्र पर चर्चा की संभावना◾झारखंड विधानसभा चुनाव : पहले चरण में भाजपा के लिए सीटें बचाना हुआ मुश्किल , 'अपने' दे रहे कड़ी टक्कर ◾पेट्रोल, डीजल के दाम में वृद्धि पर लगा ब्रेक, देखें पूरी लिस्ट◾भारत को सौंपे गए तीन और राफेल विमान, पायलट-टेक्नीशियंस का प्रशिक्षण शुरू : सरकार◾भारत को सौंपे गए तीन और राफेल विमान, पायलट-टेक्नीशियंस का प्रशिक्षण शुरू : सरकार◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

ऑड-ईवन के नाम पर केजरीवाल सरकार दिल्ली में अव्यवस्था फैलाने पर उतारू : गुप्ता

 vijendra

नई दिल्ली : दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाया कि वह दिल्ली में 4 नवंबर से 15 नवंबर तक वाहनों के लिए ऑड-ईवन योजना के नाम पर अव्यवस्था फैलाने पर उतारू हैं। केजरीवाल सरकार स्वयं मानती है कि दिल्ली में सावर्जनिक परिवहन व्यवस्था कमजोर है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल इतनी कमजोर सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था के रहते सीएनजी वाहनों, दोपहिया वाहनों और महिलाओं द्वारा चलित गाड़ियों को ऑड-ईवन योजना में छूट न देकर दिल्ली में 12 दिन लोगों को घर बैठाकर अव्यवस्था फैलाने का कुप्रयास कर रहे हैं। 

मुख्यमंत्री केजरीवाल नहीं जानते कि उनकी सरकार चरमराई हुई सावर्जनिक परिवहन व्यवस्था ऑड-ईवन की चुनौती स्वीकार करने में असमर्थ है। गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने पिछले पांच वर्षों में हवा में धूल मिट्टी के कणों को कम करने के लिए कोई इलाज नहीं किया और अब चुनाव नजदीक आते देख लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए ऑड-ईवन योजना के नाम पर सभी अखबारों में पूरे पृष्ठ के विज्ञापन देकर प्रदूषण समाप्त करने का पब्लिक स्टंट कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केवल इस तरह के विज्ञापनों से प्रदूषण कम नहीं किया जा सकता। 

सरकार के निर्णय के पीछे न तो कोई वैज्ञानिक अध्ययन है और न ही कोई व्यापक सर्वे। आम आदमी पार्टी सरकार मनमाने ढंग से प्रदूषण और इससे निपटने के तरीकों को राजनीतिक चश्मे से देख रही है। इससे दिल्ली के लोगों को होने वाली भारी परेशानियों से कोई सरोकार नहीं है। गुप्ता ने कहा कि दिल्ली सरकार ऑड-ईवन जैसी योजना को लागू करने से पहले सार्वजनिकपरिवहन व्यवस्था को मजबूत करे। दिल्ली में सावर्जनिक परिवहन व्यवस्था इतनी मजबूत होनी चाहिए कि लोगों को निजी वाहनों की आवश्यकता ही न महसूस हो और न ही ऑड-ईवन योजना की आवश्यकता रहे।