BREAKING NEWS

भाजपा नेता ने मोदी को चेताया, देश बढ़ रहा है दूसरे विभाजन की तरफ◾पासवान से मिला ब्राजील का प्रतिनिधिमंडल, एथेनॉल प्रौद्योगिकी साझेदारी पर बातचीत◾हिंदू समाज में साधु-संतों को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती : अखिलेश◾पदाधिकारी पार्टी के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने से बचें : ठाकरे◾दिल्ली की जनता तय करे, कर्मठ सरकार चाहिए या धरना सरकार चाहिए : शाह◾वन्य क्षेत्रों में अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित नहीं किया जा सकता : दिल्ली सरकार◾मानसिक दिवालियेपन से गुजर रहा है कांग्रेस नेतृत्व : नड्डा◾निर्भया के दोषियों से पूछा : आखिरी बार अपने-अपने परिवारों से कब मिलना चाहेंगे , तो नहीं दिया कोई जवाब !◾विपक्ष की तुलना पाकिस्तान से करना भारत की अस्मिता के खिलाफ : कांग्रेस◾ब्राजील के राष्ट्रपति 24-27 जनवरी तक भारत यात्रा पर रहेंगे, गणतंत्र दिवस परेड में होंगे मुख्य अतिथि◾उत्तर प्रदेश : किसानों के मुद्दे पर सड़क पर उतरेगी कांग्रेस ◾कश्मीर मुद्दे पर विदेश मंत्रालय ने कहा-किसी तीसरे पक्ष की कोई भूमिका नहीं◾निर्भया मामले में आरोपियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी करने वाले जज का हुआ ट्रांसफर◾CM नीतीश की चेतावनी पर पवन वर्मा बोले- मुझे चिट्ठी का जवाब नहीं मिला◾भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा बोले- देश हित में लिए प्रधानमंत्री के फैसलों से देश में नई ऊर्जा एवं उत्साह पैदा हुआ◾नेताजी ने हिंदू महासभा की विभाजनकारी राजनीति का विरोध किया था : ममता बनर्जी◾‘हिंदुत्व’ की राह पर निकले राज ठाकरे, MNS का नया झंडा लॉन्च किया◾CM नीतीश कुमार ने पवन वर्मा को लताड़ा, कहा- जिसको जहां जाना है, जाएं◾तिहाड़ जेल प्रशासन ने निर्भया के गुनहगारों से पूछी उनकी अंतिम इच्छा, 1 फरवरी को होगी फांसी◾JNU और जामिया में पश्चिमी यूपी के छात्रों को 10 फीसदी आरक्षण दे दो, सबका इलाज कर देंगे : संजीव बालियान◾

मैं केजरीवाल सरकार की Odd-Even योजना के खिलाफ नहीं : मनोज तिवारी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिल्ली इकाई के प्रमुख मनोज तिवारी ने कहा कि वह आम आदमी पार्टी (आप) सरकार के ऑड-ईवन योजना के खिलाफ नहीं है, लेकिन सार्वजनिक परिवहनों की कमी है, जिसके लिए अरविंद केजरीवाल सरकार ने कुछ नहीं किया। मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली सरकार अगर वाहनों से होने वाले वायु प्रदूषण पर रोक लगाना चाहती है तो पहले उसे सार्वजनिक परिवहन को मजबूत करना चाहिए। 

उन्होंने कहा, 'हम ऑड ईवन के खिलाफ नहीं है, लेकिन सरकार द्वारा सार्वजनिक परिवहन को मजबूत करने के बाद ही हम इसका समर्थन करेंगे।' मनोज तिवारी, उत्तर पूर्व दिल्ली से लोकसभा सांसद भी है। मनोज तिवारी ने केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाया कि वह वायु प्रदूषण को रोकने के लिए कुछ नहीं कर रही है और कहा कि वे ऑड-ईवन कर रहे हैं और फिर भी (वायु गुणवत्ता सूचकांक) एक्यूआई इतना ज्यादा है। 

पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त शेषन की याद में पीठ की स्थापना करेगा निर्वाचन आयोग

मनोज तिवारी ने कहा, 'उन्होंने सिर्फ लोगों के लिए परेशानी पैदा की।' राष्ट्रीय राजधानी में वायु प्रदूषण के बढ़ते स्तर पर चर्चा के लिए संसद की स्थायी समिति की बैठक से पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर के गायब होने के बारे में पूछे जाने पर मनोज तिवारी ने कहा कि आप वायु प्रदूषण के लिए एक सांसद को दोषी नहीं ठहरा सकतीं। संसद की स्थायी समिति की बैठक को ज्यादातर प्रतिभागियों के बैठक में नहीं आने की वजह से बैठक को टाल दिया गया। 

समिति के 29 सदस्यों में से सिर्फ 4 मौजूद थे। हालांकि, गंभीर ने इस दावे को खारिज नहीं किया कि वह भारत व बांग्लादेश के बीच टेस्ट मैच की क्रिकेट कमेंट्री कर रहे थे, लेकिन मनोज तिवारी ने कहा कि गंभीर एक पारिवारिक कार्यक्रम में भाग लेने इंदौर गए थे। उन्होंने कहा कि आप गंभीर पर कटाक्ष कर रही है, जिससे कि लोगों का ध्यान दिल्ली सरकार की विफलता पर न जाए। 

उन्होंने कहा, 'वायु प्रदूषण केजरीवाल की जिम्मेदारी है। अगर सांसदों को दिल्ली चलाना है तो केजरीवाल को पद छोड़ देना चाहिए। सांसद इसे चलाएंगे।' मनोज तिवारी ने यह भी कहा कि गौतम ही संसदीय समिति के अकेले सदस्य नहीं हैं। मनोज तिवारी ने कहा, 'अगर उन्होंने बैठक में भाग नहीं लिया तो क्या आप उन्हें प्रदूषण के लिए जिम्मेदार ठहरा सकते हैं? गंभीर को एक पारिवारिक कार्यक्रम में भाग लेना था। वह उसमें व्यस्त थे।' 

उन्होंने कहा कि केंद्र व दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) सब कुछ कर रहे हैं, लेकिन आखिरकार यह दिल्ली सरकार की जिम्मेदारी है। मनोज तिवारी ने कहा, 'आप सरकार एमसीडी को फंड नहीं दे रही है। हम केंद्र से फंड प्राप्त कर रहे हैं। सांसद प्रदूषण व इसके समाधान के लिए जिम्मेदार नहीं है। हम अपने द्वारा किए गए कार्यो की सूची रखते हैं।'