BREAKING NEWS

हाथरस गैंगरेप : प्रियंका और राहुल के दौरे के मद्देनजर जिले की सभी सीमाएं सील ◾बलरामपुर में गैंगरेप की घटना को लेकर कांग्रेस ने UP सरकार पर साधा निशाना, किया यह दावा ◾देश में पिछले 24 घंटो में कोरोना के 86,821 मामलों की पुष्टि, मरीजों का आंकड़ा 63 लाख के पार ◾रवि किशन को मिली Y प्लस श्रेणी की सुरक्षा, मुख्यमंत्री योगी का किया धन्यवाद ◾कब रुकेगी हैवानियत, हाथरस-बलरामपुर के बाद MP और राजस्थान में नाबालिगों से गैंगरेप◾हाथरस गैंगरेप की घटना SIT ने शुरू की जांच, पीड़ित परिवार से आज प्रियंका गांधी कर सकती है मुलाकात ◾World Corona : दुनियाभर में महामारी का हाहाकार, संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ 38 लाख के पार◾पीएम ने रामनाथ कोविंद को दी जन्मदिन की बधाई, राष्ट्रपति के लम्बे आयु के लिए की प्रार्थना◾हाथरस के बाद बलरामपुर में हुआ गैंगरेप, पुलिस ने कहा - नहीं तोड़े गए पैर और कमर, पीड़िता की हुई मौत ◾आज का राशिफल (01 अक्टूबर 2020)◾हाथरस दुष्कर्म मामले पर विजयवर्गीय बोले - ‘‘UP में कभी भी पलट सकती है कार’’ ◾KKR vs RR ( IPL 2020 ) : केकेआर की ‘युवा ब्रिगेड’ ने दिलाई रॉयल्स पर शाही जीत, राजस्थान को 37 रन से हराया◾पूर्वी लद्दाख में सीमा विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा - दोनों देशों ने छठे दौर की वार्ता के नतीजों का सकारात्मक मूल्यांकन किया◾बंगाल BJP के वरिष्ठ नेता 1 अक्टूबर को करेंगे अमित शाह से मुलाकात◾सोमनाथ ट्रस्ट की बैठक में शामिल हुए PM मोदी◾बाबरी विध्वंस फैसले पर जमीयत का सवाल- जब मस्जिद तोड़ी गई तो फिर सब निर्दोष कैसे, क्या यह न्याय है?◾अनलॉक 5 की गाइडलाइन्स : 15 अक्टूबर से सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल और मनोरंजन पार्क खोलने की अनुमति ◾अनलॉक 5 की गाइडलाइन्स : 15 अक्टूबर से सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल और मनोरंजन पार्क खोलने की अनुमति ◾बाबरी विध्वंस मामला : सीबीआई कानूनी विभाग से विमर्श के बाद करेगी फैसले को चुनौती देने का निर्णय ◾मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर से नहीं हटेगी शाही ईदगाह, अदालत में खारिज हुई याचिका◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

‘पटका पहनने से कोई पार्टी में शामिल नहीं हो जाता’

नई दिल्ली : लोकसभा चुनावों से ठीक पहले भाजपा के पाले में जाने वाले आप के बागी विधायक कर्नल देवेन्द्र सहरावत और अनिल वाजपेयी को लेकर आम आदमी पार्टी (आप) ने बड़ा खुलासा किया है। पार्टी का कहना है कि दोनों विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष को शपथ पत्र देकर आप विधायक होने का दावा किया है और भाजपा में शामिल होने की खबरों को झूठा बताया है। मामले के मुख्य शिकायतकर्ता एवं ग्रेटर कैलाश से आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने एक प्रेसवार्ता कर कहा कि अब इस मामले में पांच समाचार पत्रों के संपादक एवं रिपोर्टर को विधानसभा अध्यक्ष ने नोटिस जारी कर 20 जुलाई को अपना पक्ष रखने के लिए बुलाया है। 

लोकसभा चुनाव से पूर्व 3 और 6 मई को भाजपा कार्यालय में हुई प्रेसवार्ता में आप के दो विधायक अनिल वाजपेयी और कर्नल देवेन्द्र सहरावत पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो गये थे। भाजपा कार्यालय में पार्टी नेता विजय गोयल, श्याम जाजू एवं विजेन्द्र गुप्ता सहित कई बड़े नेताओं ने इन दोनों को पार्टी में शामिल किया था। मैंने दोनों विधायकों की शिकायत विधानसभा अध्यक्ष से की तो जवाब में इन दोनों नेताओं ने विधानसभा अध्यक्ष को शपथ पत्र देकर फिर से आप का विधायक होने का दावा किया है। 

दलील दी है कि समाचार पत्रों और टीवी न्यूज चैनलों में चली खबरें झूठी और भ्रामक हैं। भारद्वाज ने भाजपा में शामिल होने की खबरों की कटिंग भी दिखाई। विजय गोयल बताएं कि ये दोनों विधायक उनकी पार्टी में हैं या नहीं। वहीं भाजपा के वकीलों का तर्क है कि इस बारे में छपी खबरों के लिए पत्रकार और समाचार पत्र जिम्मेदार हैं। 

पहले केजरीवाल और सिसोदिया जवाब दें : अनिल वाजपेयी

दलबदल कानून के तहत विधानसभा की कार्यवाही का सामना कर रहे आप के बागी विधायक अनिल वाजपेयी ने कहा कि सौरभ भारद्वाज कोई अथॉरिटी नहीं है कि हमारे शपथपत्र को प्रकाशित करें। केवल विधानसभा अध्यक्ष ऐसा कर सकते हैं। रही बात भाजपा का मंच साझा करने और पटका पहनने की तो सीएम अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने भी ममता बनर्जी, चन्द्रबाबू नायडू और अखिलेश यादव का मंच साझा किया और पटका पहना। 

इसीलिए पहले डिसक्वालीफिकेशन केजरीवाल और सिसोदिया का होना चाहिए और उन्हें ही पहले जवाब देना चाहिए, इसके बाद मैं अपना जवाब दूंगा। इसके अलावा वाजेपयी ने कहा कि आम आदमी पार्टी का संविधान कहता है कि इस मामले में पहले हमें नोटिस भेजा जाना चाहिए था, जिसका जवाब हम देते लेकिन हम पर सीधे भाजपा में शामिल होने का आरोप लगा दिया गया।