BREAKING NEWS

coronavirus : तमिलनाडु में कोविड-19 से 621 लोग संक्रमित, 574 मामलें तबलीगी जमात से जुड़े◾Coronavirus : तेलंगाना मुख्यमंत्री कार्यालय की सफाई, कहा- सीएम ने लॉकडाउन बढ़ाने की सलाह दी लेकिन कोई घोषणा नहीं ◾स्वास्थ्य मंत्रालय : तबलीगी जमात से जुड़े 1,445 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए, 25 हजार से अधिक एकांतवास में◾दिल्ली में कोरोना से अब तक 523 लोग हुए संक्रमित, पिछले 24 घंटे में 20 नए मामले आए सामने ◾कोरोना से हुई कुल मौतों में 73 प्रतिशत पुरुष जबकि 27 प्रतिशत महिलाएं : स्वास्थ्य मंत्रालय◾केंद्र का बड़ा फैसला, PM सहित कैबिनेट मंत्रियों और सांसदों के वेतन में 30 फीसदी की होगी कटौती◾PM मोदी ने की वीडियो लिंक के जरिये पहली बार कैबिनेट की बैठक की अध्यक्षता◾कोरोना की चपेट में आई मुकेश अंबानी की संपत्ति, 2 महीने में 28 प्रतिशत गिरकर हुई 48 अरब डॉलर◾कांग्रेस प्रवक्ता बोले- पेट्रोल-डीजल पर मुनाफा जनता के साथ साझा करें सरकार◾मौलाना साद को क्राइम ब्रांच ने भेजा दूसरा नोटिस, पहले नोटिस में नहीं दिए थे सवालों के जवाब◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी बोले- कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में जीत हो यही देश का लक्ष्य और संकल्प है◾BJP विधायक ने PM मोदी की सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की उड़ाई धज्जियां, समर्थकों के साथ सड़क पर निकाला जुलूस◾इंसानों के बाद जानवरों पर कोरोना की मार, न्यूयॉर्क के चिड़ियाघर की बाघिन हुई संक्रमित ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या 4000 के पार, 109 लोगों की अब तक मौत◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी, नड्डा और शाह ने कार्यकर्ताओं को दी शुभकामनाएं, कहा- एकजुट होकर देश को कोविड-19 से करें मुक्त◾भोपाल में कोविड-19 से 52 वर्षीय व्यक्ति की हुई मौत, कोरोना से मरने वालो का आकंड़ा 14 हुआ ◾ब्रिटेन के PM बोरिस जॉनसन कोरोना वायरस से संबंधी जांचों के लिए अस्पताल में हुए भर्ती ◾अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमितो की संख्या 3,37,274 हुई, पिछले 24 घंटो में 1200 लोगों ने गवाई जान ◾प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर उनकी मां ने भी दीया जलाया◾लॉकडाउन: दिल्ली पुलिस ने शब-ए-बारात के दिन मुस्लिम समुदाय के लोगों से घरों में रहने का आग्रह किया◾

सरकार के ‘छात्र विरोधी’ कदमों के खिलाफ एनएसयूआई ने निकाली रैली

कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई ने राजग सरकार की राष्ट्रीय शिक्षा नीति और कथित छात्र विरोधी कदमों के विरोध में मंगलवार को विरोध मार्च निकाला। 

पुलिस ने मार्च में शामिल लोगों को हालांकि तितर-बितर कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने जंतर-मंतर पर डीटीसी की एक बस को क्षतिग्रस्त कर दिया।

मंडी हाउस से ‘छात्र अधिकार’ रैली की शुरुआत हुई। देश के विभिन्न हिस्सों से आये एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने संसद भवन की ओर मार्च किया। पुलिस ने उन्हें जय सिंह मार्ग पर वाईएमसीए के निकट रोक लिया। 

कुछ प्रदर्शनकारी सड़क पर ही बैठ गये और सड़क जाम करने का प्रयास किया। पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों के जवानों ने उन्हें वहां से हटाया। 

नेशनल स्टूडेन्ट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के नेताओं ने दावा किया कि उनके चार सदस्य घायल हो गये क्योंकि पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिए बल का इस्तेमाल किया। 

एनएसयूआई की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष अक्षय लाकड़ा ने दावा किया, ‘‘पुलिस ने हमारे कई सदस्यों की पिटाई की। कई सदस्यों को पार्लियामेंट स्ट्रीट और मंदिर मार्ग पुलिस थानों में हिरासत में रखा गया।’’ 

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए बल का इस्तेमाल नहीं किया गया। 

उन्होंने कहा, ‘‘जब प्रदर्शनकारी संसद की ओर बढ़ रहे थे और पुलिस के रोके जाने पर सड़क जाम करने का प्रयास कर रहे थे तो उनमें से लगभग 35 को पार्लियामेंट स्ट्रीट पुलिस थाने में हिरासत में रखा गया था।’’ 

उन्होंने कहा कि कुछ प्रदर्शनकारियों ने डीटीसी की एक बस की खिड़की के शीशे तोड़ दिये। 

इससे पूर्व एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने मंडी हाउस से जंतर-मंतर तक मार्च निकाला जहां विरोध मार्च एक जनसभा में बदल गया। 

सभा को संबोधित करते हुए एनएसयूआई नेताओं ने शुल्क वृद्धि, परिसरों के भगवाकरण, शिक्षा के निजीकरण और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर राजग सरकार पर निशाना साधा। 

कांग्रेस नेता दीपेन्द्र हुड्डा ने इस मौके पर कहा कि शुल्क वृद्धि और मोदी सरकार द्वारा शिक्षा के निजीकरण की वजह से गरीब छात्र उच्च शिक्षा के अवसरों से वंचित हो रहे हैं। 

उन्होंने कहा, ‘‘मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण छात्रों और युवाओं के सामने रोजगार के अवसर कम हो रहे हैं। वहीं दूसरी ओर सरकार शुल्क वृद्धि करके उच्च शिक्षा हासिल करने से गरीबों को रोक रही है।’’