BREAKING NEWS

आंध्र प्रदेश में कोरोना के 10 हजार से अधिक नए मामले की पुष्टि, 77 की मौत◾लाखों दीपों से जगमगा उठी रामनगरी, पुष्पों से सजा शहर◾जम्मू कश्मीर पर बड़बोली टिप्पणी करने को लेकर भारत ने चीन को दी सख्त नसीहत◾महाराष्ट्र : मुंबई में तेज हवा के साथ भारी बारिश, कई इलाकों में रेड अलर्ट◾महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप जारी, 24 घंटे में 334 लोगों की मौत, 10309 नए मामले◾प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रिया चक्रवर्ती को भेजा सम्मन, सात अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया ◾एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच करेगी सीबीआई, केंद्र ने जारी की अधिसूचना ◾चीन का बड़बोलापन : जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाना अवैध और अमान्य, एकतरफा बदलाव अस्वीकार्य◾भूमि पूजन के बाद भावविभोर हुए योगी, बोले : 'रामराज्य' और 'नए भारत निर्माण' के युग का प्रारंभ◾अयोध्या : भूमि पूजन के दौरान चरम पर पहुंचा रामभक्तों का उत्साह, भावुक हुए श्रद्धालु◾भूमिपूजन पर बोले ओवैसी-यह लोकतंत्र की हार और हिंदुत्व की सफलता का दिन◾अयोध्या में सुनहरा अध्याय रच रहा है भारत, राष्ट्रीय एकता और राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा राम मंदिर : PM मोदी ◾भूमि पूजन के बाद बोले मोहन भागवत-आज देश में सदियों की आस पूरी होने का आनंद◾राम मंदिर भूमि पूजन के बाद राहुल का तंज- घृणा और क्रूरता से प्रकट नहीं हो सकते राम◾500 साल का लंबा इंतजार खत्म, भूमि पूजन के साथ साकार हुआ भव्य राम मंदिर का सपना◾सुशांत सुसाइड केस : केंद्र ने CBI जांच संबंधी सिफारिश की स्वीकार, SC ने कहा- मामले का सच सामने आना चाहिए◾राम मंदिर भूमि पूजन : अयोध्या में PM मोदी ने रामलला के किए दर्शन, कार्यक्रम की हुई शुरुआत ◾अनुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने का एक वर्ष पूरा, लाल चौक पर BJP कार्यकर्ता रम्यसा रफीक ने लहराया तिरंगा◾World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 85 लाख के पार, 7 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾देश में कोरोना संक्रमण के 52 हजार 509 नए मामलों की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 19 लाख के पार◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

ऑड-ईवन : 4,806 लोगों ने किया नियमों का उल्लंघन

नई दिल्ली : प्रदूषण और ट्रैफिक जाम से निपटने के लिए शुरू की गई दिल्ली सरकार की ऑड-ईवन योजना के दौरान 4 नंवबर से लेकर 15 नवंबर के बीच करीब 4,806 लोगों ने नियमों का उल्लंघन किया, जो कि साल 2016 में लागू की गई पिछली दो पारियों के मुकाबले कम रही। ऐसे में अधिकारियों ने इसका श्रेय जनता को दिया है। इस बारे में एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि कि इस बार उल्लंघनकर्ताओं की संख्या कम रही। 

साल 2016 में जहां पहली पारी में 10,000 लोगों ने जुर्माना दिया था, वहीं दूसरी पारी में उससे कम 5000 लोगों ने जुर्माना दिया था। इस बार यह संख्या 5000 से भी कम है। लोगों ने नियमों का पालन करने का निर्णय लिया क्योंकि वे भी प्रदूषण कम करना चाहते थे। वहीं अधिकारी ने यह भी बताया कि जुर्माने की राशि को दोगुना करने के कारण भी ऑड-ईवन में बेहतर परिणाम मिले हैं और कुछ लोगों को ही जुर्माना भरना पड़ा। 

अधिकारी ने कहा कि सरकार इस बात से खुश है कि इस बार अधिकतर लोगों ने नियमों का पालन किया। उन्होंने कहा कि इस बार लोगों के बीच प्रदूषण और उसकी वजह से उनके बिगड़ते स्वास्थ्य को लेकर वे ज्यादा सजग थे। इस बारे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पहले ही कहा था कि अगर दिल्ली-एनसीआर की वायु-गुणवत्ता में सुधार नहीं आती है, तो वह ऑड-ईवन की समय-सीमा बढ़ा सकते हैं। 

हालांकि शुक्रवार को उन्होंने इस पर सोमवार को कोई फैसला लेने की बात की थी। उन्होंने कहा था कि हम ऑड-ईवन योजना की समय-सीमा बेवजह नहीं बढ़ाना चाहते। हम वायु की गुणवत्ता को देखेंगे। अगर उसमें सुधार होता है, तब हम इस योजना की समय-सीमा नहीं बढ़ाएंगे। यहां बता दें कि शहर में साल 2016 में पहली बार ऑड-ईवन 1 से 15 जनवरी और दूसरी बार 15 अप्रैल से 30 अप्रैल तक लागू किया गया था।