BREAKING NEWS

कहीं एनआरसी जैसा न हो सीएबी का हाल, आरएसएस बना रही रणनीति ◾झारखंड में रविवार को राजनाथ सिंह और स्मृति ईरानी की चुनाव सभाएं◾सोनिया ने रविवार को बुलाई संसदीय रणनीति समूह की बैठक, नागरिकता विधेयक पर होगी चर्चा ◾PM मोदी ने वैज्ञानिकों का कम लागत वाली प्रौद्योगिकियों के विकास का किया आह्वान ◾NIA ने आईएसआईएस 2 संदिग्धों के खिलाफ आरोप पत्र किया दायर◾उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता ने मरने से पहले कहा-'मुझे बचाओ, मैं मरना नहीं चाहतीं' ◾उन्नाव बलात्कार पीड़िता युवती का शव उसके गांव लाया गया ◾राम मंदिर के ट्रस्ट में संघ प्रमुख भागवत को नहीं होना चाहिए : विहिप◾मेरी मानसिक ताकत तोड़ना चाहती है केंद्र सरकार : चिदंबरम ◾भारत की पहचान 'दुष्कर्म राजधानी' के रूप में बन गई है : राहुल◾TOP 20 NEWS 7 DEC : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा का नारा 'अबकी बार, तीन पार' होगा : केजरीवाल◾एनआरसी के खिलाफ कल जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेगी पार्टी : संजय सिंह◾राकांपा नेता उमाशंकर यादव बोले- नैतिकता के आधार पर तत्काल इस्तीफा दें CM योगी◾बलात्कारी के लिए मृत्युदंड से सख्त सजा कुछ नहीं हो सकती, पालक भी जिम्मेदारी समझें : स्मृति ईरानी◾CM केजरीवाल ने उन्नाव बलात्कार पीड़िता की मौत को बताया शर्मनाक, ट्वीट कर कही ये बात ◾बलात्कार की घटनाओं पर स्वत: संज्ञान लें सुप्रीम कोर्ट : मायावती◾PM मोदी, अमित शाह और अजीत डोभाल पुणे में शीर्ष पुलिस अधिकारियों के सम्मेलन में हुए शामिल ◾केरल में बोले राहुल गांधी- महिलाओं के खिलाफ हिंसा और ज्यादतियों में हुई बढ़ोतरी◾सशस्त्र सेना झंडा दिवस के अवसर PM मोदी ने लोगों से किया अनुरोध, बोले- सशस्त्र बल के कल्याण के लिए योगदान दें◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

दिल्ली प्रदूषण पर बोले प्रकाश जावड़ेकर- राजनीति न करें केजरीवाल

 javadekar

वन, पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्रदूषण के बदतर हालात पर चिंता जताते दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर प्रदूषण को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया है। प्रकाश जावड़ेकर ने शनिवार को एक कार्यक्रम में पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा कि यह बहुत ही गलत बात है कि एक संवैधानिक पद पर आसीन व्यक्ति इस तरह की राजनीतिक कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने पिछले पांच वर्षों में प्रदूषण से निपटने के लिए अनेक कदम उठाए हैं और 17 हजार करोड़ रुपए की लागत से ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेवे बनाया गया है जहां से रोजाना 60 हजार ट्रक गुजरते हैं और इन ट्रकों के दिल्ली नहीं आने से भी प्रदूषण में काफी कमी आई है। इसके अलावा राजधानी में बदरपुर संयंत्र को बंद कराया गया है और तीन हजार उद्योगों को पीएनजी प्रणाली पर लाया गया है। राजधानी से सटे क्षेत्रों में तीन हजार ईंट भट्टों को जिग जैग तकनीक से चलाया गया है। केंद्र सरकार ने पंजाब और हरियाणा सरकार को 1100 करोड़ रुपए दिए हैं और यह राशि किसानों को वितरित की गई है ताकि वे मशीनें खरीद ले और पराली को निपटारा इसमें करें। 

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री प्रदूषण का राजनीतिकरण कर रहे हैं और आरोप-प्रत्यारोप के खेल पर उतर आए हैं। पिछले 15 वर्षों में राजधानी की हवा काफी बिगड़ गई है और इस मसले पर सभी को मिलकर काम करने की जरूरत है लेकिन दिल्ली सरकार प्रदूषण को कम करने का श्रेय खुद ही ले रही है और इस बात को प्रचारित करने के लिए उसने 1500 करोड़ रुपए सिर्फ विज्ञापनों पर खर्च किए है। इसके बजाए अगर दिल्ली सरकार यह राशि पंजाब और हरियाणा के किसानों को दे देती तो वे मशीनें खरीद सकते थे। 

उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली सरकार ने मेट्रो के एक चरण के अपने हिस्से की धनराशि भी नहीं दी थी और इस मामले में अदालत को हस्तक्षेप करना पड़ा था। इसके अलावा ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेवे के लिए जो 3500 करोड़ रुपये देने थे वो नहीं दिए, अगर हम एक-दूसरे पर इसी तरह आरोप लगाते रहे तो कई मुद्दे उठ खड़े होंगे। 

दिल्ली में प्रदूषण के बढ़ते स्तर से हेल्थ इमरजेंसी लागू, UP में आपात बैठक

उन्होंने कहा कि लोगों को प्रदूषण से राहत दिलाना सभी पक्षों की जिम्मेदारी दायित्व है और केजरीवाल हरियाणा और पंजाब सरकार पर आरोप लगाने के बजाय पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली को एक साथ मिलकर प्रदूषण से बचाव का उपाय तलाशना होगा। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि केजरीवाल बच्चों को इस लड़ाई में शामिल कर रहे हैं और हरियाणा तथा पंजाब के मुख्यमंत्री को वह बच्चों के सामने एक खलनायक की तरह पेश कर रहे हैं।