BREAKING NEWS

तृणमूल के विधायक, कई पार्षदों ने थामा BJP का दामन◾‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ पर बुधवार सुबह निर्णय लेंगे कांग्रेस और सहयोगी दल ◾अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के बने नेता◾स्पीकर के चुनाव में बिड़ला का समर्थन करेगा UPA, ''एक राष्ट्र, एक चुनाव'' पर अभी निर्णय नहीं ◾बजट से पहले मोदी के साथ महत्वपूर्ण विभागों के सचिवों की बैठक ◾J&K : पुलवामा में पुलिस थाने पर ग्रेनेड हमला, 5 घायल, 2 की हालत गंभीर◾PM मोदी ने 19 जून को बुलाई सर्वदलीय बैठक, 'एक राष्ट्र एक चुनाव' पर करेंगे चर्चा◾मेरठ : गमगीन माहौल में हुआ शहीद मेजर का अंतिम संस्कार, अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसैलाब ◾WORLD CUP 2019, ENG VS AFG : इंग्लैंड ने अफगानिस्तान के खिलाफ रिकार्डों की झड़ी लगाई ◾विपक्ष ने महाराष्ट्र के वित्त मंत्री के ट्विटर हैंडल पर बजट लीक को लेकर की सरकार आलोचना की◾Top 20 News - 18 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾बिहार के CM नीतीश ने एईएस पीड़ित बच्चों को लेकर दिए आवश्यक निर्देश ◾लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए NDA उम्मीदवार ओम बिड़ला को मिला BJD का समर्थन ◾मेरठ पहुंचा शहीद मेजर का पार्थिव शरीर, झलक पाने को उमड़ी भारी भीड़ ◾2005 अयोध्या आतंकी हमले में 4 आरोपियों को उम्रकैद, एक बरी◾सोनिया गांधी, हेमा मालिनी और मेनका गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ ◾रक्षा मंत्री राजनाथ ने मेजर केतन को दी श्रद्धांजलि ◾बीजेपी सांसद ओम बिड़ला ने लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए पर्चा भरा◾पश्चिम बंगाल : हड़ताल खत्म कर काम पर लौटे डॉक्टर , अस्पताल में सामान्य सेवाएं बहाल ◾व्हील चेयर पर लोकसभा में पहुंचे मुलायम, निर्धारित क्रम से पहले ली शपथ ◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

केवल 22 को मिले यूनिक डिसेबिलिटी कार्ड : विजेंद्र गुप्ता

नई दिल्ली : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को मंगलवार को लिखे गए पत्र में नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने इस बात पर गहरी चिंता व्यक्त की है कि दिल्ली सरकार दिव्यांगों के हितों को विभिन्न लाभ सुलभ कराने वाले यूनिक डिसेबिलिटी (यूडीआईडी) कार्ड उपलब्ध कराने में बुरी तरह विफल रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार के सामाजिक न्याय तथा सशक्तिकरण विभाग ने इसके लिए एक सशक्त सॉफ्टवेयर विकसित किया हुआ है। 

दिल्ली सरकार को इसके माध्यम से ये कार्ड उपलब्ध करवाने हैं। ये कार्ड पूरे भारत में राजधानी में रहने वाले दिव्यांगों को विभिन्न सरकारी समाज कल्याण योजनाओं, इनकम टैक्स छूट, रेलवे तथा अन्य जगह छूट, शिक्षा तथा रोजगार में अवसरों का लाभ उठाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। इनके अभाव में दिव्यांगों को विभिन्न योजनाओं को आरक्षण के अंतर्गत लाभ नहीं मिल पाता। 

दिल्ली सरकार लापरवाही और अकार्यकुशलता के चलते दिल्ली में लगभग 10 लाख दिव्यांगों को उन्हें दिए जाने वाले लाभ से वंचित रख रही है। इनमें से मात्र 22 लोगों के यूडीआईडी कार्ड बनाए गए हैं।  विजेन्द्र गुप्ता ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि समाज कल्याण विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग के आपसी समन्वय में कमी के कारण दिव्यांगजनों तक योजना का लाभ नहीं पहुंच पा रहा है।