BREAKING NEWS

भारत-चीन सीमा विवाद: गलवान घाटी पर चीन के दावे को भारत ने एक बार फिर ठुकराया, शुक्रवार को हो सकती है वार्ता◾यूपी में कल रात 10 बजे से 13 जुलाई की सुबह 5 बजे तक फिर से लॉकडाउन, आवश्यक सेवाओं पर कोई रोक नहीं ◾दिल्‍ली में 24 घंटे में कोरोना के 2187 नए मामले, 45 की मौत, 105 इलाके सील◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, 24 घंटे 219 लोगों की मौत, 6875 नए मामले◾उप्र एसटीएफ ने उज्जैन से गिरफ्तार विकास दुबे को अपनी हिरासत में लिया, कानपुर लेकर आ रही पुलिस◾वार्ता के जरिए एलएसी पर अमन-चैन का भरोसा, जारी रहेगी सैन्य और राजनयिक बातचीत : विदेश मंत्रालय◾दिल्ली में कोरोना की स्थिति में सुधार, रिकवरी रेट 72% से अधिक : गृह मंत्रालय◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले-देश में नहीं हुआ कोरोना वायरस का कम्युनिटी ट्रांसमिशन◾ इंडिया ग्लोबल वीक में बोले PM मोदी-वैश्विक पुनरुत्थान की कहानी में भारत की होगी अग्रणी भूमिका◾कुख्यात अपराधी विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद मां ने कहा- हर वर्ष जाते है महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए ◾मोस्ट वांटेड गैंगस्टर विकास दुबे के बारे में शुरुआत से लेकर गिफ्तारी तक का जानिए पूरा घटनाक्रम◾काशीवासियों से बोले PM मोदी- जो शहर दुनिया को गति देता हो, उसके आगे कोरोना क्या चीज है◾ कांग्रेस ने PM मोदी से किया सवाल, पूछा- क्या गलवान घाटी पर भारत का दावा कमजोर किया जा रहा?◾उज्जैन पुलिस की पीठ थपथपाते हुए बोले CM शिवराज-जल्दी UP पुलिस को सौंपा जाएगा विकास दुबे◾चित्रकूट की खदानों में बच्चियों के यौन शोषण पर बोले राहुल-क्या यही सपनों का भारत है◾देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमितों के 24,879 नए मामले और 487 लोगों ने गंवाई जान ◾कानपुर में 8 पुलिसर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन में गिरफ्तार◾ दुनिया में कोरोना मरीजों के आंकड़ों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, मरने वालों आंकड़ा 5 लाख 48 हजार के पार ◾कानपुर : हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के सहयोगी प्रभात और बउआ को पुलिस ने एनकाउंटर के दौरान मार गिराया ◾PM मोदी वाराणसी की संस्थाओं के प्रतिनिधियों से आज 11 बजे वीडियो कांफ्रेंस पर संवाद करेंगे◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

अमित शाह के सशक्त कदमों की आहट

सच ही कहा है कि कोई भी गुनहगार मां के पेट से पैदा नहीं होता या तो उसे हालात बनाते हैं या बुरे लोगों का साथ। युवा एक निर्मल बहते पानी की तरह होता है। जिस तरफ रास्ता मिले वह बह जाता है। पंजाब में नशे के आदी युवक हों या कश्मीर में आतंकी बने युवक हों, उन्हें कच्ची उम्र में इस कदर बहला-फुसला कर उनका ‘ब्रेन वाश’ कर दिया जाता है कि उनकी अपनी सोचने-समझने की शक्ति समाप्त हो जाती है। हमारे सामने कई ऐसी मिसालें हैं। 

अभी ताजी मिसाल कश्मीर के एक आतंकी युवक आरिफ की है जो बुरे तत्वों के दुष्प्रचार से गुमराह होकर एक पखवाड़े पहले आरिफ हुसैन बट घर से जिहादी बनने निकला था, उस वक्त उसके जेहन में केवल एक बात भर दी गई थी कि कश्मीरियों और इस्लाम की दुश्मन सिर्फ भारतीय फौज है और उसने ठान लिया था आैर वीडियो जारी करके भी कहा, वह हिन्दोस्तानी फौज को उखाड़ देगा, खदेड़ देगा क्योंकि वह कश्मीर की दुश्मन है।

जिहाद की राह पर चन्द दिन के सफर ने ही आरिफ को सच्चाई से रूबरू करा दिया। उसको अहसास हो गया कि उसे आतंकी वर्दी नहीं बल्कि सुरक्षाकर्मी की वर्दी पहननी चाहिए थी जो देश की रक्षा करती है, युवकों की रक्षा करती है। वह और उसके मित्र आदिल अपने ही आतंकवादी ग्रुप के लोगों के शिकार बने जिन्हें समझा गया कि वह पाक के खिलाफ हैं और उसके सामने उसके मित्र आदिल को गोलियों से भून दिया और वह जब भागने लगा तो उसकी टांग पर गोली मारकर जख्मी कर दिया गया है तब आरिफ ने सोचा कि फौज उसे मार देगी परन्तु जख्मी आरिफ को फौज ने बचाया आैर अस्पताल में भर्ती कराया और उसे सही रास्ते पर चलने के लिए रास्ता दिखाया। जख्मी आरिफ को अब समझ लग गई कि हमारा दुश्मन कौन है, इसलिए वो कहता है कि जब मैं ठीक होकर घर जाऊंगा तो सबसे पहले उन लोगों के खिलाफ जिहाद का ऐलान करूंगा जो मेरे जैसे लड़कों को गुमराह कर जिहादी बनाते हैं।

सच में पाकिस्तान हमारे कश्मीर और पंजाब के युवकों को गुमराह कर उनकी जिन्दगी बर्बाद कर रहा है। पंजाब में ड्रग भेजकर और कश्मीर में धर्म के नाम पर, पंजाब में ड्रग्स के आदी होकर लाखों घर उजड़ रहे हैं और कश्मीर के कई घरों के चिराग बुझ रहे हैं। परन्तु उम्मीद पर दुनिया कायम है। अब जब हमारे देश के गृहमंत्री अमित शाह जी से कुछ उम्मीद जागी है जो कश्मीर की व्यवस्था ठीक करने पर लगे हैं। वहां के राज्यपाल भी सही कदम उठा रहे हैं। 

अगर यह कश्मीर की समस्या को सुलझा पाएं तो सदियों तक इनका नाम जीवंत रहेगा क्योंकि हमारा भारत देश कश्मीर से कन्याकुमारी तक धर्मनिरपेक्ष देश है और सब जगह एक कानून, एक व्यवस्था होनी चाहिए। मुझे लगता है आने वाले समय में यह होगा और किसी घर का बेटा आतंकी नहीं बनेगा। कोई किसी जवान बच्चे को धर्म और लालच के नाम पर आतंकी नहीं बना पाएंगे। शहीद औरंगजेब के दोनों भाइयों ने फौज ज्वाइन कर अद्भुत मिसाल कायम की है। अमित शाह जी के सशक्त कदमों से यही आहट आ रही हैः-

‘‘अब कोई गुलशन न उजड़े,

अब वतन आजाद है।’’