BREAKING NEWS

‘जनभागीदारी’ देश की आजादी के 75 वें वर्ष के उत्सव की मूल भावना, भारत के गौरव की भी हो झलक : PM मोदी◾मराठा आरक्षण पर SC का राज्यों से सवाल, क्या आरक्षण सीमा 50 फीसदी से बढ़ाई जा सकती है?◾मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिले विस्फोट मामले की जांच अब NIA करेगी◾रेप के आरोपी को पीड़िता से शादी करने के लिए नहीं कहा, गलत की गई रिपोर्टिंग : CJI◾बाटला हाउस एनकाउंटर मामले में इंडियन मुजाहिदीन आरिज खान दोषी करार, 15 मार्च को सजा सुनाएगी कोर्ट ◾बिहार विधान परिषद में गुस्से में दिखे CM नीतीश, RJD एमएलसी को कहा- 'पहले नियम जान लो' ◾Punjab Budget : 1.13 लाख किसानों का कर्ज माफ, बुजुर्गों की पेंशन 750 रुपए से बढ़ाकर 1500 महीना◾नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रावत दिल्ली तलब ◾सिंघु बॉर्डर पर फायरिंग, कार से आए 4 युवक गोली चलाकर फरार, जांच में जुटी पुलिस◾मेगन और हैरी ने शाही परिवार के साथ विवादों को लेकर खुलकर की बात, कहा- कभी आए थे सुसाइड के खयाल ◾देश में लगातार तीसरे दिन कोरोना के 18 हजार से अधिक मामलों की पुष्टि, एक्टिव केस 1 लाख 88 हजार ◾TOP 5 NEWS 08 MARCH: आज की 5 सबसे बड़ी खबरें◾अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : पीएम मोदी ने नारी शक्ति को किया सलाम, कहा- भारत को महिलाओं पर गर्व◾आज का राशिफल (08 मार्च 2021)◾बंगाल चुनाव : मोदी ने ममता को बताया धोखेबाज, बोलीं- झूठे हैं मोदी ◾उत्तराखंड : भाजपा कोर ग्रुप की अचानक हुई बैठक से प्रदेश में बढ़ी सियासी सरगर्मी ◾हरियाणा ने आपूर्ति घटाई, दिल्ली में जलसंकट का खतरा ◾तेजप्रताप की बहन की रिंग सेरीमनी में एक हुआ यादव परिवार ◾कम हो सकती है संसद सत्र की अवधि ◾PM मोदी भारत और बांग्लादेश के बीच बने ‘मैत्री सेतु’ का मंगलवार को करेंगे उद्घाटन ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

हरियाणा के करनाल में बोरवेल में गिरी 5 साल की बच्ची की मौत

हरियाणा के करनाल जिले के हरसिंघपुरा गांव में 50 फुट गहरे बोरवेल में गिरी पांच साल की बच्ची की मौत हो गई। घरौंदा थाने के थाना प्रभारी निरीक्षक सचिन ने फोन पर बताया कि वह रविवार को खेत में खेलते समस बोरवेल में गिर गई थी। थाना प्रभारी ने कहा, ‘‘बचाव कर्मियों द्वारा बाहर निकाले जाने के बाद उसे करनाल के सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत लाया घोषित कर दिया।’’ 

उन्होंने बताया कि जैसे ही उसके परिवार को बच्ची के लापता होने का पता चला उन्होंने उसे ढूंढ़ना शुरू कर दिया। इसके बाद उन्हें बोरवेल में उसके गिरने का शक हुआ। अधिकारी ने बताया कि जिला प्रशासन और पुलिस को घटना की जानकारी दी गई और बचाव अभियान शुरू किया गया। बाद में एनडीआरएफ को भी घटना की जानकारी दी गई। 

पुलिस ने बताया कि बोरवेल के अंदर ऑक्सीजन पहुंचा दिया गया था। बच्ची का पता लगाने के लिए बचावकर्मियों ने कैमरे का इस्तेमाल किया था, जिससे उन्हें उसका पैर दिखा गया था। बच्ची को यह एहसास कराने के लिए कि वह अकेली नहीं है, उसके माता-पिता की एक ऑडियो रिकॉर्डिंग भी बोरवेल में चलाई गई थी। 

उन्होंने बताया कि बोरवेल में बच्चे की कोई हरकत नहीं दिखी। वह सिर के बल बोरवेल में गिरी थी। अभी कुछ दिन पहले ही तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली जिले नादुकट्टुपट्टी में अपने घर के पास खेलते समय सुजीत विल्सन 88 फुट गहरे बोरवेल में गिर गया था। 80 घंटे की मश्क्कत के बाद भी उसे बचाया नहीं जा सका था। बोरवेल की घटनाएं अब बढ़ती जा रही हैं।

वायु प्रदूषण : गुरुग्राम और फरीदाबाद के स्कूलों में भी चार और पांच को छुट्टी 

पंजाब के संगरूर जिले में जुलाई में 150 फुट गहरे बोरवेल में गिरे दो वर्षीय फतहवीर सिंह की जान चली गई थी। इससे पहले उसे बचाने के लिए करीब चार दिन तक मशक्कत की गई थी। हरियाणा के हिसार में मार्च में बोरवेल में गिरे 18 महीने के बच्चे को बचा लिया गया था, वह करीब दो दिन तक बोरवेल में फंसा रहा था। 

बच्चों के बोरवले में गिरने की सबसे पहली और चर्चित घटना 2006 में हुई थी, जब कुरुक्षेत्र गांव में बोरवेल में गिरे पांच वर्षीय प्रिंस को करीब 48 घंटे चले बचाव अभियान के बाद बचा लिया गया था।