BREAKING NEWS

राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी ने गुरु नानक जयंती की दी शुभकामनाएं◾भारत को गुजरात में बदलने के प्रयास : तृणमूल कांग्रेस सांसद ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने डच समकक्ष के साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा की ◾महाराष्ट्र गतिरोध : राकांपा नेता अजित पवार राज्यपाल से मिलेंगे ◾महाराष्ट्र : शिवसेना का समर्थन करना है या नहीं, इस पर राकांपा से और बात करेगी कांग्रेस ◾महाराष्ट्र : राज्यपाल ने दिया शिवसेना को झटका, और वक्त देने से किया इनकार◾CM गहलोत, CM बघेल ने रिसॉर्ट पहुंचकर महाराष्ट्र के नवनिर्वाचित विधायकों से मुलाकात की ◾दोडामार्ग जमीन सौदे को लेकर आरोपों पर स्थिति स्पष्ट करें गोवा CM : दिग्विजय सिंह ◾सरकार गठन फैसले से पहले शिवसेना सांसद संजय राउत की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती◾महाराष्ट्र: सरकार गठन में उद्धव ठाकरे को सबसे बड़ी परीक्षा का करना पड़ेगा सामना !◾महाराष्ट्र गतिरोध: उद्धव ठाकरे ने शरद पवार से की मुलाकात, सरकार गठन के लिए NCP का मांगा समर्थन ◾अरविंद सावंत ने दिया इस्तीफा, बोले- महाराष्ट्र में नई सरकार और नया गठबंधन बनेगा◾महाराष्ट्र में सरकार गठन पर बोले नवाब मलिक- कांग्रेस के साथ सहमति बना कर ही NCP लेगी फैसला◾CWC की बैठक खत्म, महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर शाम 4 बजे होगा फैसला◾कांग्रेस का महाराष्ट्र पर मंथन, संजय निरुपम ने जल्द चुनाव की जताई आशंका◾महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर कांग्रेस-NCP ने नहीं खोले पत्ते, प्रफुल्ल पटेल ने दिया ये बयान◾BJP अगर वादा पूरा करने को तैयार नहीं, तो गठबंधन में बने रहने का कोई मतलब नहीं : संजय राउत◾महाराष्ट्र सरकार गठन: NCP ने बुलाई कोर कमेटी की बैठक, शरद पवार ने अरविंद के इस्तीफे पर दिया ये बयान ◾संजय राउत का ट्वीट- रास्ते की परवाह करूँगा तो मंजिल बुरा मान जाएगी◾शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने मंत्री पद से इस्तीफे की घोषणा की◾

हरियाणा

आखिर हनीप्रीत ने हिंसा, फंडिंग और वीडियो वायरल करने संबंधी कई जुर्म कबूले

नई दिल्ली: अब तक पंचकूला पुलिस के सवालों का गोलमोल जवाब देने वाली हनीप्रीत ने अपने जुर्म कबूल कर लिए हैं। पंचकूला पुलिस ने यह दावा किया है। पंचकूला पुलिस के मुताबिक- हनीप्रीत ने कबूला है कि 17 अगस्त को सिरसा डेरे में हुई मीटिंग की अध्यक्षता उसी ने की। इसी मीटिंग से पंचकूला में दंगे करवाने की साजिश शुरू हुई।

\"\"

हनीप्रीत ने मैप पर मार्किंग करने, ब्लैकमनी से फंडिंग कराने, देश के खिलाफ वीडियो वायरल करने के साथ ही कई जुर्म कबूले हैं। हालांकि पुलिस कस्टडी में दिए इन बयानों की कोर्ट में वैल्यू न के बराबर है। वहीं पुलिस अभी तक दंगा भड़काने में अहम रोल निभाने वाले आदित्य, पवन, गोबीराम को पकड़ नहीं पाई है।

\"\"

गौरतलब है कि डेरा मुखी पर साध्वी यौन शोषण केस की सुनवाई पंचकूला कोर्ट में चल रही थी। फैसला 25 अगस्त को आना है यह पहले ही तय था। इसी सिलसिले में 17 अगस्त को सिरसा डेरे में एक मीटिंग हुई। जिसकी अध्यक्षता हनीप्रीत ने की. इसी मीटिंग में फाइनल किया कि 25 अगस्त को डेरा प्रमुख को बरी कर दिया जाता, तो पंचकूला में सत्संग करेंगे।

\"\"

डेरा समर्थकों को पहले ही पंचकूला पहुंचने को कहा और सेक्टर-23 में तैयारी करने को कहा. खाली साइट्स पर पहले ही साफ-सफाई करा दी गई। सारी प्लानिंग कोर्ट के फैसले पर टिकी थी, इसलिए इसी मीटिंग में तय किया गया कि गुरमीत सिंह के खिलाफ फैसला आता है तो पंचकूला में दंगा भड़का दिया जाएगा।

\"\"

दंगों को अंजाम देने के लिए पंचकूला में उपद्रवियों की एंट्री कैसे करनी है, उन्हें कैसे निकालना है, कहां फोकस करना है, ये सारी प्लानिंग हनीप्रीत ने लैपटॉप पर की। इसके लिए पंचकूला के मैप पर मार्किंग की गई। यह भी तय किया गया कि इस साजिश में अहम रोल निभाने वाले वॉट्सऐप कॉलिंग के जरिए कॉन्टैक्ट में रहेंगे, नॉर्मल कॉलिंग का इस्तेमाल नहीं करेंगे।

\"\"

दंगे की फंडिंग ब्लैकमनी से की गई थी। इसके फर्जी कागजात तैयार करने का जिम्मा बाबा के पीए राकेश को दिया गया। करीब 5 करोड़ रुपये हनीप्रीत ने चमकौर इंसां के हाथों खुद भिजवाए। डेरा प्रमुख के पीए राकेश ने भी अपने बयान में कहा था कि दंगे के लिए ब्लैकमनी इस्तेमाल की गई। इसे व्हाइट करने के लिए हनीप्रीत ने फर्जी दस्तावेज बनाने को कहा था।