पुन्हाना : स्वास्थ्य निदेशक पंचकूला ड़ॉक्टर असरूदीन खान ने अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जिलेभर के कई अस्पतालों का जायजा लिया गया है। संबंधित अधिकारियों को सुधार के दिशा-निर्देश दिए है। अब पहले बेहतर सुविधाएं मेवातवासियों को मिलने लगी है। जो कुछ कमियां बाकी है उनके सुधार के लिए चुनाव के बाद डिमांड के आधार पर फैसले लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि नूंह के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एक्सरे की सुविधा न होने के कारण लोगों को 25 किलोमीटर दूर जिला अस्पताल अल-आफिया मांड़ीखेड़ा में जाना पड़ता है।

फिलहाल जिला नूंह का प्रभारी होने के नाते पहली बार यहां की स्वास्थ्य सेवाओं को जांचने का मौका मुझे मिला है। स्वास्थ्य निदेशक ड़ॉक्टर असरूदीन खान ने कहा कि वीरवार को मांडीखेडा जिला अस्पताल में ओपीडी, गायनी, लैब, ड्रग स्टोर, ऑप्रेशन थियेटर, क्षयरोग केंद्र के बारे में जानकारी ली गई। शुक्रवार को नूंह सीएचसी का जायजा लेने के बाद अल-आफिया सिविल अस्पताल के आपातकालीन वार्ड, जिला ट्रेनिंग सेंटर, बिजली और पानी जैसी सुविधाओं के बारे में मरीजों से जाना गया।

उन्होंने पत्रकारों को बताया कि एक शिकायत भी बिना नाम के मिली थी जिसकी जांच करने के बाद पाया गया कि तमाम आरोप बैबुनियाद है। कोई भी शिकायत मिलती है तो उसकी जांच हम कराते है। इस अवसर पर सिविल सर्जन ड़ॉक्टर राजीव बातिस, उप सिविल सर्जन ड़ॉक्टर लोकवीर, आरएमओ ड़ॉक्टर रविकांत सिन्हा, व अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।