BREAKING NEWS

निर्भया : घटना के दिन नाबालिग होने का दावा करते हुए पवन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट◾PM मोदी ने मंत्रियों से कहा, कश्मीर में विकास का संदेश फैलाएं और गांवों का दौरा करें ◾भाजपा ने अब तक 8 पूर्वांचलियों पर लगाया दांव◾यूरोपीय संघ के उच्च प्रतिनिधि ने PM मोदी से भेंट की◾दिल्ली पुलिस आयुक्त को NSA के तहत मिला किसी को भी हिरासत में लेने का अधिकार◾न्यायालय से संपर्क करने से पहले राज्यपाल को सूचित करने की कोई जरूरत नहीं : येचुरी◾ममता ने एनपीआर,जनसंख्या पर केन्द्र की बैठक में नहीं लिया भाग◾सिंध में हिंदू समुदाय की लड़कियों के अपहरण को लेकर भारत ने पाक अधिकारी को किया तलब◾नड्डा का 20 जनवरी को निर्विरोध भाजपा अध्यक्ष चुना जाना तय◾हमें कश्मीर पर भारत के रुख को लेकर कोई शंका नहीं है : रूसी राजदूत◾IND vs AUS : भारत की दमदार वापसी, ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराया, सीरीज में बराबरी◾दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए 48 और नामांकन दाखिल◾राउत को इंदिरा गांधी के बारे में टिप्पणी नहीं करनी चाहिए थी : पवार◾कश्मीर में शहीद सलारिया का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार, दो महीने की बेटी ने दी मुखाग्नि ◾बुलेट ट्रेन परियोजना के लिये भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया के खिलाफ याचिकाओं पर न्यायालय करेगा सुनवाई ◾चुनाव में ‘कांग्रेस वाली दिल्ली’ के नारे के साथ प्रचार में उतरी कांग्रेस◾यूपी सीएम योगी ने हिमस्खलन में कुशीनगर के शहीद जवान की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया◾TOP 20 NEWS 17 January : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾निर्भया के गुनहगारों का नया डेथ वारंट जारी, 1 फरवरी को सुबह 6 बजे होगी फांसी◾दिल्ली चुनाव के लिए BJP ने जारी की 57 उम्मीदवारों की पहली सूची◾

व्यवस्था नहीं सुधरी तो किया जाएगा घेराव

रोहतक : भ्रष्टाचार व स्वास्थ्य सेवाओं में अव्यवस्थाओं को लेकर पूर्व मंत्री सुभाष बतरा ने सरकार को कटघरे में खडा किया और सीधे सीधे सरकार को तीस दिन का अल्टीमेटम दिया है। पीजीआई में स्वास्थ्य सेवाएं व नगर निगम में भ्रष्टाचार पर रोक नहीं लगी तो कांग्रेस कार्यकत्र्ता सड़कों पर उतरेंगे। यहीं नहीं अधिकारियों के साथ साथ मंत्रियों के आवास का भी घेराव किया जाएगा। बतरा ने कहा कि भले ही मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार में जीरो टोरलेंस का दावा करते हो, लेकिन सच्चाई यह है कि शहर में जिस सफाई व्यवस्था पर पहले जहां 36 लाख रूपये खर्च होते थे, आज वहीं सफाई पांच करोड़ रूपये से भी ज्यादा में हो रही है। इससे साफ है कि मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय तक इसमें लिप्त है। यहीं हाल पीजीआई का है। पीजीआई के अधिकारियों की मिलीभगत से ही शहर में निजी अस्पताल फल फूल रहे है और ईलाज के अभाव में पीजीआई में रोजाना काफी मौते हो रही है।

सरकार को इसका जबाव देना चाहिए। पूर्व मंत्री ने कानून व्यवस्था पर भी सवाल उठाए और कहा कि कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष की पत्नी अवंतिका को जान से मारने के मामले में उच्च स्तरीय जांच कराई जाए। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में बहु बेटियां तक सुरक्षित नहीं है। रविवार को पूर्व मंत्री सुभाष पार्टी कार्यकत्र्ताओं की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है और जल्द ही वह सबूतों के साथ खुलासा करेगे कि भ्रष्टाचार में कौन कौन सरकार के मंत्री व अधिकारी शामिल है। बतरा ने कहा कि जीरो टोरलेंस का ढिढोरा पीटने का क्या फायदा जब अधिकारी, मंत्री जमकर प्रदेश के खजाने को लूट रहे है और मुख्यमंत्री सबकुछ देखते हुए चुप्पी साधे हुए है।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर मंत्री अनिल विज कभी टंकियों पर चढ़ते थे और कभी औचक निरीक्षण के नाम पर अधिकारियों में अपना खौफ पैदा करते थे, लेकिन आज स्थिति यह है कि प्रदेश में लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं नहीं मिल रही है और इस विभाग में सबसे अधिक भ्रष्टाचार हो रहा है, जिसका जिता जागता उदाहरण पीजीआईएमएस है। बतरा ने कहा कि अगर पीजीआई में लोगों का सही प्रकार से ईलाज होता तो शहर में निजी अस्पतालो की बाढ़ नहीं आती। मामूली सी बीमारी के मरीज को ही तुरंत निजी अस्पताल में भेज दिया जाता है और डाक्टरों के खाते में निजी अस्पताल से कमीशन जमा हो जाता है। बतरा ने बताया कि 31 जनवरी को रोहतक में रविदास जयंती पर दलित महासम्मेलन किया जा रहा है और 12 फरवरी को कांग्रेस कमेटी द्वारा शुरू किए गए मंथन शिविर का समापन्न होगा, जिसकी तैयारियां शुरू कर दी है। इस अवसर पर सतीश बंधु, रमेश खुराना, सुमित सोनी, गौतम बतरा मौजूद रहे।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट। (मनमोहन कथूरिया)