BREAKING NEWS

मोदी की जीत आशाओं तथा अपेक्षाओं की जीत : रविशंकर प्रसाद ◾विकास के कार्य पूरे करने को झारखंड में भाजपा को दें पूर्ण बहुमत : शाह◾राज्यसभा में विपक्षी दलों ने ट्रांसजेन्डर विधेयक को प्रवर समिति में भेजने की मांग की◾शिवसेना सदस्य ने की बिरसा मुंडा, वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग◾TOP 20 NEWS 21 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾महाराष्ट्र : कांग्रेस और NCP के बीच बातचीत पूरी, कल नई सरकार की रुपरेखा पर होगा अंतिम निर्णय◾महाराष्ट्र : कांग्रेस के साथ संयुक्त बैठक से पहले NCP नेताओं की बैठक ◾अमित शाह ने झारखंड में चुनावी रैली को किया संबोधित, राम मंदिर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना◾लोकसभा में कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने उठाया चुनावी बॉन्ड का मुद्दा◾साध्वी प्रज्ञा को रक्षा मंत्रालय की समिति में मिली जगह, कांग्रेस ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण◾दिल्ली : महाराष्ट्र में शिवसेना संग गठबंधन पर सीडब्ल्यूसी ने लगाई मुहर ◾महाराष्ट्र में सरकार गठन की प्रकिया 1 दिसंबर से पहले हो जाएगी पूरी : संजय राउत ◾दिल्ली : सोनिया गांधी के आवास पर सीडब्ल्यूसी की बैठक, महाराष्ट्र पर चर्चा की संभावना◾झारखंड विधानसभा चुनाव : पहले चरण में भाजपा के लिए सीटें बचाना हुआ मुश्किल , 'अपने' दे रहे कड़ी टक्कर ◾पेट्रोल, डीजल के दाम में वृद्धि पर लगा ब्रेक, देखें पूरी लिस्ट◾भारत को सौंपे गए तीन और राफेल विमान, पायलट-टेक्नीशियंस का प्रशिक्षण शुरू : सरकार◾भारत को सौंपे गए तीन और राफेल विमान, पायलट-टेक्नीशियंस का प्रशिक्षण शुरू : सरकार◾दिल्ली में निशुल्क यात्रा की योजना लागू होने के बाद से महिला यात्रियों की हिस्सेदारी 10 फीसदी बढ़ी ◾तीसहजारी कांड : दिल्ली पुलिस ने अदालत में दाखिल की प्रगति रिपोर्ट, SIT जांच में मांगा सहयोग◾लोकसभा से चिट फंड संशोधन विधेयक 2019 को मंजूरी◾

हरियाणा

व्यवस्था नहीं सुधरी तो किया जाएगा घेराव

 btra

रोहतक : भ्रष्टाचार व स्वास्थ्य सेवाओं में अव्यवस्थाओं को लेकर पूर्व मंत्री सुभाष बतरा ने सरकार को कटघरे में खडा किया और सीधे सीधे सरकार को तीस दिन का अल्टीमेटम दिया है। पीजीआई में स्वास्थ्य सेवाएं व नगर निगम में भ्रष्टाचार पर रोक नहीं लगी तो कांग्रेस कार्यकत्र्ता सड़कों पर उतरेंगे। यहीं नहीं अधिकारियों के साथ साथ मंत्रियों के आवास का भी घेराव किया जाएगा। बतरा ने कहा कि भले ही मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार में जीरो टोरलेंस का दावा करते हो, लेकिन सच्चाई यह है कि शहर में जिस सफाई व्यवस्था पर पहले जहां 36 लाख रूपये खर्च होते थे, आज वहीं सफाई पांच करोड़ रूपये से भी ज्यादा में हो रही है। इससे साफ है कि मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय तक इसमें लिप्त है। यहीं हाल पीजीआई का है। पीजीआई के अधिकारियों की मिलीभगत से ही शहर में निजी अस्पताल फल फूल रहे है और ईलाज के अभाव में पीजीआई में रोजाना काफी मौते हो रही है।

सरकार को इसका जबाव देना चाहिए। पूर्व मंत्री ने कानून व्यवस्था पर भी सवाल उठाए और कहा कि कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष की पत्नी अवंतिका को जान से मारने के मामले में उच्च स्तरीय जांच कराई जाए। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में बहु बेटियां तक सुरक्षित नहीं है। रविवार को पूर्व मंत्री सुभाष पार्टी कार्यकत्र्ताओं की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है और जल्द ही वह सबूतों के साथ खुलासा करेगे कि भ्रष्टाचार में कौन कौन सरकार के मंत्री व अधिकारी शामिल है। बतरा ने कहा कि जीरो टोरलेंस का ढिढोरा पीटने का क्या फायदा जब अधिकारी, मंत्री जमकर प्रदेश के खजाने को लूट रहे है और मुख्यमंत्री सबकुछ देखते हुए चुप्पी साधे हुए है।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर मंत्री अनिल विज कभी टंकियों पर चढ़ते थे और कभी औचक निरीक्षण के नाम पर अधिकारियों में अपना खौफ पैदा करते थे, लेकिन आज स्थिति यह है कि प्रदेश में लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं नहीं मिल रही है और इस विभाग में सबसे अधिक भ्रष्टाचार हो रहा है, जिसका जिता जागता उदाहरण पीजीआईएमएस है। बतरा ने कहा कि अगर पीजीआई में लोगों का सही प्रकार से ईलाज होता तो शहर में निजी अस्पतालो की बाढ़ नहीं आती। मामूली सी बीमारी के मरीज को ही तुरंत निजी अस्पताल में भेज दिया जाता है और डाक्टरों के खाते में निजी अस्पताल से कमीशन जमा हो जाता है। बतरा ने बताया कि 31 जनवरी को रोहतक में रविदास जयंती पर दलित महासम्मेलन किया जा रहा है और 12 फरवरी को कांग्रेस कमेटी द्वारा शुरू किए गए मंथन शिविर का समापन्न होगा, जिसकी तैयारियां शुरू कर दी है। इस अवसर पर सतीश बंधु, रमेश खुराना, सुमित सोनी, गौतम बतरा मौजूद रहे।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट। (मनमोहन कथूरिया)