करनाल : शुक्रवार को आईटीआई के छात्रों तथा पुलिस के बीच हुए पथराव एवं सड़क दुर्घटना में आईटीआई के छात्र की हुई मौत को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि इस मामले की दोहरी जांच की जाएगी। मुख्यमंत्री ने खुलासा किया कि जिन पुलिस वालों ने पत्थरबाजी की है या फिर हवाई फायरिंग की है उसकी जांच जिले के एडिशनल एस.पी. करेंगे तथा दूसरी जांच एस.डी.एम. करनाल करेंगे। मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

करनाल में पन्ना प्रमुख सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि उन्होंने इस मामले को लेकर एस.पी. से बात की है। यह दुखदायी घटना है। कानून व्यवस्था को लागू करने के लिए पुलिस द्वारा जो भी कार्यवाही की गई है, उसकी निष्पक्ष जांच की जाएगी। यह पता लगाया जाएगा कि आखिर ज्यादती कहां हुई। उन्होंने कहा कि गलती बच्चों से हुई है या पुलिस से, यह जांच में पता चल जाएगा। इस बात का भी पता लगाया जाएगा कि कहीं यह किसी का कोई षड्यंत्र तो नहीं है।

अकाली दल और भाजपा के बीच हुए गठबंधन को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकसभा चुनावों को लेकर दोनों दलों के बीच गठबंधन हुआ है लेकिन विधानसभा चुनावों में दोनों दलों के बीच गठबंधन को लेकर फिर से बात की जाएगी। उन्होंने कहा कि पांच साल में केंद्र की भाजपा सरकार की काफी उपलब्ध्यिां रही हैं, जिसने जनता में विश्वास जताया है। पहले की सरकार और अब की सरकार में बड़ा अंतर है। एंटी कम्बैनशी की बजाय जनता विकास की बात कर रही है। यही कांग्रेस और भाजपा में अंतर है। लोगों में भाजपा के प्रति और भी ज्यादा बदलाव आया है क्योंकि भाजपा का दृष्टिकोण देश के हित में रहा है।

– हरीश चावला