BREAKING NEWS

गोवा माना रहा 36 वा स्थापना दिवस, CM प्रमोद सावंत ने दी बधाई ◾Karnataka: बस और कार की जोरदार टक्कर, दो बच्चों समेत 10 की मौत◾चुनावी वादे पूरा करना हमारी सरकार की जिम्मेदारी : मंत्री सतीश झरकीहोली◾राजस्थान कांग्रेस में उठापटक के बीच खड़गे व राहुल ने की गहलोत के साथ बैठक◾वंदे भारत ट्रेन पीएम मोदी के 'परिवहन के माध्यम से परिवर्तन' लक्ष्य को साकार करने में मदद करेगी - सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ◾मणिपुर हिंसा मामले में कई घरों में आग लगाने के आरोप में 22 गिरफ्तार◾हवाई हमले की चेतावनी खत्म होने के बाद कीव को राहत◾आज भारत को कोई टेढ़ी नजर से नहीं देख सकता - सीएम योगी◾बंद कमरे में Vladimir Putin से मिले बेलारूसी राष्ट्रपति, बाहर आते ही बिगड़ी हालत, अफवाहें- दिया गया जहर!◾पश्चिम बंगाल में कांग्रेस के इकलौते विधायक बायरन बिस्वास ने थामा TMC का हाथ◾पूर्व MCD पार्षद को गलत तरीके से आरोपी बनाने पर कोर्ट ने ACP को पेश होने का आदेश ◾दिल्ली शाहबाद डेयरी में नाबालिग की लड़की हत्या का आरोपी उत्तरप्रदेश के बुलंदशहर से गिरफ्तार◾Karnataka Politics: मंत्री पद न मिलने पर लक्ष्मण सावदी बोले, राजनीति में कोई साधु नहीं होता◾सीबीआई ने भारत के शीर्ष कार्यकारी रोल्स रॉयस के खिलाफ दर्ज किया मामला◾शिवराज सिंह चौहान बोले- मध्य प्रदेश में भाजपा 200 से ज्यादा सीटें जीतेगी ◾एक बार फिर तिहाड़ जेल में कैदियों के बीच खूनी झड़प, कैदी ने राहुल पर ताबड़तोड़ चाकू और टाइल से किया हमला◾पहलवानों के समर्थन में आईं मायवती, बोलीं, बेटियों को न्याय दिलाने के लिए केन्द्र सरकार आए आगे ◾सिंगापुर के मंत्री किम योंग से मिले केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, जानिए क्या हुई खास बात चीत◾CM योगी ने विधान परिषद उपचुनाव में डाला वोट,आज शाम तक होगी नतीजों की घोषणा◾मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में जीतेंगे 150 सीट,कर्नाटक की जीत को दोहराएँगे : राहुल गाँधी ◾

कुमारी सैलजा ने सरकार पर लगाया साजिश का आरोप, कहा- गरीबों से छीनना चाहती है शिक्षा का अधिकार

हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने गरीबों को जो अधिकार दिए थे उन्हें प्रदेश की भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार धीरे-धीरे छीनने की कोशिश में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि गरीब परिवारों के बच्चों को भी कॉन्वेंट स्कूलों में दाखिला मिले, ऐसे इंतजाम कांग्रेस पार्टी ने किए थे। लेकिन प्रदेश की सरकार गरीब परिवारों व उनके बच्चों को शिक्षा के अधिकार से वंचित रखने के कदम उठाने में जुटी है।

सैलजा ने आज कहा कि शिक्षा सत्र एक अप्रैल से शुरू हो चुका है। इसे शुरु हुए 9 महीने बीत चुके हैं, लेकिन आज तक प्राइवेट स्कूलों में गरीब परिवारों के बच्चों के दाखिले नहीं हुए हैं। इन बच्चों के अगले कुछ दिनों में दाखिले हो भी गए तो फिर ये तीन महीने के अंदर किस तरह से अपने सिलेबस को पूरा कर पाएंगे, यह समझ से परे है।

उन्होंने कहा कि गरीब परिवारों को शिक्षा से वंचित रखने के लिए एक सोची-समझी साजिश के तहत उनके बच्चों के दाखिले नहीं होने दिए जा रहे। प्रदेश सरकार की मंशा है कि ये बच्चे पढ़-लिख कर आगे न बढ़े। इसलिए सिर्फ दाखिला कराना या न कराना का निर्णय लेने में ही आधे से ज्यादा शैक्षणिक सत्र निकाल दिया। अब तीन महीने में एक भी बच्चा किसी भी विषय की इतनी पढ़ई नहीं कर पाएगा कि वह पास होने जितना सिलेबस भी कर सके।इन्हें दाखिले न देने की यह साजिश इन्हें कंपीटिशन में न पहुंचने देने की प्लानिंग का हिस्सा है। क्योंकि, गरीबों के बच्चे पढ़-लिख जाएंगे तो फिर न तो इनका शोषण हो सकेगा और न ही इन्हें दबाया जा सकेगा। 

कुमारी सैलजा ने कहा कि हरियाणा एजुकेशन नियम 134ए के तहत जिन स्कूलों का भी सरकार की तरफ बकाया है, उनका भुगतान प्रदेश सरकार को तुरंत करना चाहिए। सरकार के पास पैसा नहीं है, यह कहना गलत होगा। क्योंकि, मौजूदा प्रदेश सरकार अपनी और अपने नेताओं की ब्रॉनि्डंग और मार्केटिंग पर हजारों करोड़ रुपये खर्च कर रही है। ऐसे में महज 700 करोड़ रुपये की राशि न जारी करने के पीछे का षड्यंत्र कुछ और ही नजर आ रहा है।

उन्होंने कहा कि जिन बच्चों के नाम 134ए के तहत दाखिला पाने वालों की सूची में आ गए हैं, उनमें से कुछ के परिजनों ने पुराने स्कूल से उनके एसएलसी कटवा लिए हैं, लेकिन अब नया अलॉट स्कूल उन्हें दाखिला नहीं दे रहे। ऐसे में इनके सामने तो दोहरी परेशानी भी शुरू हो गई है। इन बच्चों को अगर अब दाखिला नहीं मिला तो इनका साल ही बर्बाद हो जाएगा।

कुमारी सैलजा ने कहा कि गरीब बच्चों को दाखिला न देने वाले स्कूल संचालकों को भाजपा व जजपा नेताओं की शह बताई जा रही है। अगर प्रदेश सरकार ने जल्द ही इन दाखिलों को मुकम्मल नहीं करवाया तो कांग्रेस इस मामले में सड़कों पर उतरने में देर नहीं लगाएगी।