BREAKING NEWS

भारत को गुजरात में बदलने के प्रयास : तृणमूल कांग्रेस सांसद ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने डच समकक्ष के साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा की ◾महाराष्ट्र गतिरोध : राकांपा नेता अजित पवार राज्यपाल से मिलेंगे ◾महाराष्ट्र : शिवसेना का समर्थन करना है या नहीं, इस पर राकांपा से और बात करेगी कांग्रेस ◾महाराष्ट्र : राज्यपाल ने दिया शिवसेना को झटका, और वक्त देने से किया इनकार◾CM गहलोत, CM बघेल ने रिसॉर्ट पहुंचकर महाराष्ट्र के नवनिर्वाचित विधायकों से मुलाकात की ◾दोडामार्ग जमीन सौदे को लेकर आरोपों पर स्थिति स्पष्ट करें गोवा CM : दिग्विजय सिंह ◾सरकार गठन फैसले से पहले शिवसेना सांसद संजय राउत की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती◾महाराष्ट्र: सरकार गठन में उद्धव ठाकरे को सबसे बड़ी परीक्षा का करना पड़ेगा सामना !◾महाराष्ट्र गतिरोध: उद्धव ठाकरे ने शरद पवार से की मुलाकात, सरकार गठन के लिए NCP का मांगा समर्थन ◾अरविंद सावंत ने दिया इस्तीफा, बोले- महाराष्ट्र में नई सरकार और नया गठबंधन बनेगा◾महाराष्ट्र में सरकार गठन पर बोले नवाब मलिक- कांग्रेस के साथ सहमति बना कर ही NCP लेगी फैसला◾CWC की बैठक खत्म, महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर शाम 4 बजे होगा फैसला◾कांग्रेस का महाराष्ट्र पर मंथन, संजय निरुपम ने जल्द चुनाव की जताई आशंका◾महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर कांग्रेस-NCP ने नहीं खोले पत्ते, प्रफुल्ल पटेल ने दिया ये बयान◾BJP अगर वादा पूरा करने को तैयार नहीं, तो गठबंधन में बने रहने का कोई मतलब नहीं : संजय राउत◾महाराष्ट्र सरकार गठन: NCP ने बुलाई कोर कमेटी की बैठक, शरद पवार ने अरविंद के इस्तीफे पर दिया ये बयान ◾संजय राउत का ट्वीट- रास्ते की परवाह करूँगा तो मंजिल बुरा मान जाएगी◾शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने मंत्री पद से इस्तीफे की घोषणा की◾BJP द्वारा सरकार बनाने से इंकार किए जाने के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में उभर रहे नए राजनीतिक समीकरण◾

हरियाणा

हरियाणा: राहुल का PM पर वार, बोले- अडानी और अंबानी के लाउडस्पीकर हैं मोदी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला और आरोप लगाया कि मोदी ''अडानी और अंबानी के लाउडस्पीकर'' हैं तथा उन्होंने अपने अमीर उद्योगपति मित्रों को फायदा पहुंचाया है। मेवात के नूंह में एक चुनावी जनसभा में राहुल ने यह दावा भी किया कि अगर अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी की यही स्थिति बनी रही तो अगले कुछ महीनों में पूरा देश मोदी के खिलाफ खड़ा हो जाएगा। 

उन्होंने आरोप लगाया, ''नरेंद्र मोदी अडानी और अम्बानी का लाउडस्पीकर हैं। दिन भर उनकी बात करते हैं।'' गांधी ने कहा, ''आप युवाओं को बेवकूफ बनाकर सरकार नहीं चला सकते। सच्चाई सामने आएगी। आप देखेंगे कि क्या होगा।'' 

उन्होंने कहा, ''एक के बाद एक झूठे वादे सुनाई देते हैं। बोला गया कि दो करोड़ रोजगार देंगे, किसानों को सही दाम देंगे। लेकिन कुछ नहीं हुआ। करोड़ों युवा बेरोजगार हैं लेकिन मोदी जी और खट्टर जी एक के बाद एक झूठ बोल रहे हैं।'' 

उन्होंने कहा कि आप नरेन्द्र मोदी को ट्रम्प और अंबानी के साथ देखेंगे, लेकिन कभी किसानों के साथ नहीं। उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि भाजपा लोगों को आपस में लड़ाने की राजनीति करती है। राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस लोगों को एकजुट करती है जबकि भाजपा-आरएसएस लोगों को बांटती है और ब्रिटेश की तरह उन्हें एक दूसरे के खिलाफ लड़ाते हैं।

राहुल ने कहा कि अर्थव्यवस्था में रफ्तार लाने के लिए गरीबों और किसानों की जेब तक पैसा पहुंचाना होगा, इसलिए ही हमने न्याय योजना पेश की। उन्होंने कहा, "इनके मीडिया के मित्रों का ठेका लगा हुआ। आपने कभी टीवी पर बेरोजगारी की खबर देखी है? ये लोग बिलकुल नहीं दिखाएंगे, ये बॉलीवुड की बात करेंगे। लेकिन, जनता को सब मालूम है।" 

उन्होंने ने कहा कि आप याद कीजिए हमारी सरकार में हरियाणा में अर्थव्यवस्था कितनी बेहतर थी, किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलता था। आज मोदी के राज में देश में 45 साल की सबसे ज्यादा बेरोजगारी है। 

राजनाथ के फ्रांस दौरे पर राहुल ने कहा- भाजपा नेताओं को राफेल सौदे का हो रहा अपराधबोध

राहुल गांधी ने कहा, "अगर अर्थव्यवस्था में तेजी लानी है, तो गरीब, किसान, मजदूर की जेब में पैसा डालना ही पड़ेगा। यूपीए सरकार की मनरेगा ने यही काम किया था। गरीबों की जेब में पैसा जाते ही, उनकी खरीदने की क्षमता बढ़ी, जिसका फायदा अर्थव्यवस्था को हुआ।" 

उन्होंने आगे कहा, "इस क्षेत्र की कुछ आवश्यकताएं हैं- गुडगांव से अलवर की रेलवे लाइन, नूह इंजीनियरिंग कॉलेज को यूनिवर्सिटी का दर्जा, कोटला झील का विस्तार और मेवात नहर। हरियाणा में कांग्रेस सरकार बनते ही ये काम हो जाएंगे।" 

अपने संबोधन में राहुल ने कहा कि पूरे देश में हर कोई इस भाजपा सरकार से परेशान है। नोटबंदी और गब्बर सिंह टैक्स जैसे फैसलों से सबको बर्बाद कर दिया, उद्योग-धंधे चौपट कर दिए। एक आदमी ऐसा नहीं है, जिसको इससे फायदा हुआ हो। 

राहुल ने कहा कि पीएम मोदी हर रोज मन की बात करते हैं, मैंने सोचा क्यों न मैं मन की बात की जगह यहां काम की बात करूं। उन्होंने आगे कहा, केंद्र सरकार, बॉलीवुड, चांद और चंद्रयान की बात करेंगें लेकिन राफेल पर कुछ नहीं बोलेगी।"