BREAKING NEWS

हैदराबाद गैंगरेप : एनकाउंटर के बाद पुलिसवालों पर बरसाए गए फूल, महिलाओं ने राखी बांधकर किया धन्यवाद ◾हैदराबाद गैंगरेप: जिस फ्लाईओवर के नीचे जिंदा जलाई गई थी डॉक्टर, उसी जगह मारे गए आरोपी◾हैदराबाद गैंगरेप: आरोपियों के एनकाउंटर पर पीड़िता के परिवार का बयान, कहा- 'न्याय मिला'◾हैदराबाद गैंगरेप केस के चारों आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया◾झारखंड चुनाव : बिना 'कप्तान' के मैदान में डटे JDU के 'खिलाड़ी' मायूस!◾भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथि पर उपराष्ट्रपति, पीएम मोदी और अमित शाह ने दी श्रद्धांजलि◾थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित◾कर्नाटक उपचुनाव में 62.18 प्रतिशत मतदान, 12 सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला ◾प्याज को लेकर भाजपा सांसद ने कांग्रेस पर कसा तंज ◾मोदी को तानाशाह के रूप में बदनाम करने की साजिश : स्वामी◾आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री पहुंचे दिल्ली, मिलेंगे प्रधानमंत्री एवं केंद्रीय मंत्रियों से ◾उन्नाव बलात्कार पीड़िता दिल्ली हवाई अड्डे पहुंची, पुलिस ने अस्पताल तक बनाया ग्रीन कॉरीडोर ◾अनुच्छेद 370 : लाइव स्ट्रीमिंग संबंधी याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾हफ्ते भर बाद भी मंत्रियों को नहीं मिला विभाग, भाजपा ने की आलोचना ◾बैंक धोखाधड़ी : ईडी ने रतुल पुरी की जमानत अर्जी का किया विरोध◾राहुल गांधी ने प्याज पर सीतारमण के बयान को लेकर तंज कसा ◾TOP 20 NEWS 05 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾PNB घोटाला : नीरव मोदी भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित ◾DTC और क्लस्टर बसों में लगेंगे CCTV कैमरे, पैनिक बटन, GPS : केजरीवाल ◾मायावती ने केंद्र द्वारा लाए गए नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और असंवैधानिक◾

हरियाणा

रैली स्थल के पास ही उतरेगा शाह का हेलीकॉप्टर

 amit shah

जींद : भाजपा अध्यक्ष व केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की जींद में 16 अगस्त को होने वाली रैली के लिए तैयारियां जोरों से चल रही हैं। रैली स्थल पर मंच से मात्र 200 मीटर दूर ही हैलीपेड तैयार किया गया है, जहां शाह का हेलीकॉप्टर लैंड करेगा। जींद में अमित शाह की तीसरी रैली के आयोजक पूर्व केंद्रीय मंत्री चौ. बीरेंद्र सिंह हैं। 16 अगस्त 2014 को शाह पहली बार जींद आए थे। तब बीरेंद्र सिंह ने एकलव्य स्टेडियम में ही हरियाणा निर्माण रैली में शाह की मौजूदगी में समर्थकों के साथ भाजपा का दामन थामा था। 

अब 16 अगस्त को भाजपा का भगवा झंडा थामे उन्हें पांच वर्ष पूरे हो जाएंगे, इसलिए इसे आस्था रैली नाम दिया है। बीरेंद्र ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने से पहले कांग्रेस की राज्यसभा सदस्यता छोड़ दी थी। भाजपा ने उन्हें पूरा सम्मान देकर राज्यसभा सदस्य तो बनाया ही, पहली बार मोदी सरकार की पहली पारी में केंद्र में कैबिनेट मंत्री भी बनाया। अब लोकसभा चुनाव में बीरेंद्र के पुत्र बृजेंद्र सिंह भी आइएएस की नौकरी छोड़कर भाजपा की सीट पर हिसार से सांसद बन चुके हैं, लेकिन मोदी की दूसरी पारी की कैबिनेट में न तो बीरेंद्र को जगह मिली और न बृजेंद्र को। 

सियासी गलियारों में चर्चा है कि हरियाणा विधानसभा चुनाव से पहले अपने दम पर जींद में बड़ी रैली के जरिए भाजपा आलाकमान को ताकत दिखाकर बीरेंद्र सिंह खुद या बेटे के लिए मोदी कैबिनेट में जगह बना सकते हैं, इसीलिए सांसद बृजेंद्र सिंह को रैली का संयोजक बनाया गया है। हालांकि प्रदेश के तीन सांसद राव इंद्रजीत, कृष्णपाल गुर्जर व रतनलाल कटारिया मोदी कैबिनेट में जगह पा चुके हैं, लेकिन जाट वोटरों को रिझाने के लिए भाजपा बीरेंद्र या उनके बेटे को मोदी मंत्रिमंडल में शामिल करती है या नहीं, रैली के बाद विधानसभा चुनाव से पहले इसकी तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी।