BREAKING NEWS

सदन नहीं चलने देना चाहती केंद्र, खड़गे का दावा- महंगाई समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा से बच रही सरकार ◾कुन्नूर हेलीकॉप्टर हादसे पर संसद में राजनाथ सिंह देंगे बयान, 4 लोगों के शव बरामद,रेस्क्यू ऑपरेशन जारी ◾राज्यसभा के निलंबित सदस्यों को लेकर विपक्षी नेताओं का समर्थन जारी, संसद परिसर में दिया धरना ◾UP विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने जारी किया 'महिला घोषणापत्र', नौकरियों में 40% आरक्षण समेत कई बड़े वादे◾CDS जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी को ले जा रहा सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश, कुन्नूर में हुआ हादसा ◾मोदी के बयान पर अखिलेश का करारा जवाब- लाल रंग भावनाओं का प्रतिक, हार का डर ला रहा भाषा में बदलाव ◾महंगाई, बेरोज़गारी और कृषि संकट की वजह सरकार की विफलता है, राहुल गांधी ने केंद्र पर लगाया आरोप ◾'पाकिस्तानी-खालिस्तानी' बुलाये जाने पर फारूक अब्दुल्ला ने जताया खेद, बोले- गांधी का भारत लाए वापस◾लालू के घर बजेंगी शहनाई, तेजस्वी यादव की शादी हुई पक्की, दिल्ली में आज या कल होगी सगाई ◾सोनिया ने केंद्र को बताया 'असंवेदनशील', किसानों के साथ रवैये और महंगाई जैसे मुद्दों पर किया सरकार का घेराव ◾World Corona Update : अब तक 26.7 करोड़ से ज्यादा लोग हुए संक्रमित, मृतकों की संख्या 52.7 लाख से अधिक◾RBI ने रेट रेपो 4 प्रतिशत पर रखा बरकरार, लगातार 9वीं बार नहीं हुआ कोई बदलाव◾ओमीक्रॉन पर आंशिक रूप से असरदार है फाइजर वैक्सीन, स्टडी में दावा- बूस्टर डोज कम कर सकती है संक्रमण ◾UP चुनाव : आज योगी और राजभर जनसभा को करेंगे संबोधित, प्रियंका पहला महिला घोषणा पत्र जारी करेंगी ◾बिहार में PM मोदी, अमित शाह और प्रियंका चोपड़ा को लगी वैक्सीन! तेजस्वी यादव ने शेयर की लिस्ट◾मनी लॉन्ड्रिंग केस: ED के सामने आज पेश होंगी जैकलीन फर्नांडीज, गवाह के तौर पर दर्ज कराएंगी बयान ◾Today's Corona Update : भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 8,439 केस सामने आए, 195 लोगों की मौत◾जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच एनकाउंटर शुरू, इलाके की गयी घेराबंदी ◾किसानों की होगी घर वापसी या जारी रहेगा आंदोलन? एसकेएम की बैठक में आज होगा फैसला ◾ओमिक्रॉन के खतरे के बीच ओडिशा के सरकारी स्कूल में 9 छात्र कोरोना से संक्रमित, किया गया क्वारंटीन ◾

सिंघु बॉर्डर हत्याकांड: कृषि मंत्री की वायरल फोटो पर मचा बवाल, तोमर के साथ दिखे निहंग अमनदीप सिंह

कुंडली बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या के बाद निशाने पर आए निहंग अब एक और विवाद में घिर गए हैं। निहंग बाबा अमनदीप सिंह की केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ फोटो वायरल हुई है, जिससे सोशल मीडिया पर बवाल मच गया है। सोशल मीडिया के साथ ही संयुक्त किसान मोर्चा ने भी फोटो पर सवाल उठाते हुए बेअदबी मामले में साजिश की आशंका जताई है। वहीं, बाबा अमनदीप ने इस मामले में अपनी सफाई देने के लिए समय मांगा है। उनका कहना है कि वे पत्रकार वार्ता कर सब कुछ स्पष्ट करेंगे। हालांकि वायरल फोटो पुरानी है। 

आखिर कहां है बेअदबी का वीडियो

सवाल यह भी उठ रहे हैं कि आखिर निहंग बेअदबी से संबंधित कोई वीडियो फिलहाल क्यों नहीं पेश कर पाए हैं, जबकि युवक की हत्या से पहले की दर्जनों वीडियो निहंगों ने सोशल मीडिया पर वायरल किए थे। इसके अलावा पंजाब के बहुत से किसानों ने निहंगों का समर्थन करने का फैसला लिया है। उनका कहना है कि निहंग उनकी रक्षा के लिए ही सिंघु बॉर्डर पर डटे हैं। श्री गुरुग्रंथ साहिब जी की जो भी बेअदबी करेगा, उसके साथ ऐसा ही होना चाहिए। वहीं, मामले को लेकर एसकेएम की बैठक चल रही है। बैठक के बाद कोई जानकारी मिल सकती है।

अभी तक बेअदबी के सबूत नहीं मिले: विजय सांपला

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला ने श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह को पत्र लिखा। पत्र में उन्होंने लखबीर सिंह का भोग सिख मार्यादा के अनुसार कराने की अपील की। लखबीर सिंह की सिंघु बॉर्डर में निर्मम हत्या कर दी गई थी। पत्र में सांपला ने कहा कि वायरल वीडियो में कुछ लोग लखबीर सिंह पर बेअदबी का आरोप लगा रहे हैं लेकिन इस संबंध में अभी तक कोई वीडियो या फोटो प्रमाण के रूप में सामने नहीं आया है।

जनमत संग्रह के आधार पर फैसला करेंगे, रुकेंगे या लौटेंगे: निहंग

निहंगों ने धरनास्थल से लौटने या रुकने को लेकर जनमत संग्रह करवाने का फैसला ले रखा है। निहंग 27 अक्तूबर को कुंडली बॉर्डर पर धार्मिक एकत्रता की बैठक करेंगे और इसमें जनमत संग्रह के आधार पर ही फैसला लेंगे कि उन्हें वापस जाना चाहिए या नहीं। निहंग बाबा राजा राम सिंह का कहना है कि वे किसानों की रक्षा के लिए यहां आए हैं।

27 को होने वाली बैठक में सिख कौम के बुद्धिजीवी भी शामिल होंगे। यहां निहंग जो फैसला लेंगे, उसे पूरी संगत मानेगी। साथ ही उन्होंने एसकेएम नेता योगेंद्र यादव पर पलटवार किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि योगेंद्र यादव को एसकेएम ने सिर चढ़ा रखा है। वह भाजपा व आरएसएस का बंदा है।

किसानों ने कहा था -निहंगों को हमने नहीं बुलाया

संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा था कि वह निहंगों को धरनास्थल से लौटने के लिए नहीं कहेंगे। उन्होंने निहंगों को यहां आने के लिए नहीं कहा था। इस मामले में सिख कौम को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए। माना जा रहा था कि किसान मोर्चा निहंगों को धरनास्थल से वापस जाने के लिए कहेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। संयुक्त किसान मोर्चा ने साफ किया था कि हत्या के मामले में पुलिस व कानून अपना काम करे, लेकिन बेअदबी के मामले में भी पुलिस गहराई तक जाए।

कुंडली बॉर्डर पर हुई थी लखबीर की हत्या

कुंडली बॉर्डर पर पंजाब के तरनतारन जिले के गांव चीमा खुर्द निवासी लखबीर सिंह के हाथ व पैर काटकर उसे बैरिकेड से लटकाकर मारा गया था। निहंगों ने घटना की जिम्मेदारी ली थी। उनका कहना था कि युवक ने श्री गुरुग्रंथ साहिब जी की बेअदबी की है, इसलिए उसे मार डाला गया।

क्या किसान आंदोलन छोड़ेंगे निहंग सिख? 27 अक्टूबर को महापंचायत में फैसला