BREAKING NEWS

रॉबर्ट वाड्रा ने BJP सरकार की आलोचना की ,कहा - लोकतंत्र को तानाशाही में न बदलें◾सोनभद्र गोलीकांड : प्रियंका गांधी हिरासत में, कई जगह कांग्रेस का प्रदर्शन ◾किसी विधायक ने मुझसे सुरक्षा नहीं मांगी है : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष◾कर्नाटक में जारी सत्ता का संघर्ष एक बार फिर शीर्ष अदालत की चौखट पर◾Sensex में साल की दूसरी बड़ी गिरावट, निवेशकों ने दो दिन में गंवाये 3.79 लाख करोड़ रुपये ◾ कुमारस्वामी ने स्पीकर से फ्लोर टेस्ट की डेट सोमवार तक बढ़ाने की अपील की , भाजपा बोली- हम तैयार नहीं◾Top 20 News 19 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾चुनाव याचिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नोटिस जारी ◾BJP विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए आतुर है, क्योंकि वह विधायकों को खरीद चुकी : सिद्धारमैया ◾सोनभद्र में पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को रोका, धरने पर बैठीं◾प्रियंका की गैरकानूनी गिरफ्तारी भाजपा सरकार की बढ़ती असुरक्षा का संकेत: राहुल गांधी ◾सरकार बचाने के लिए सत्ता का नहीं करूंगा दुरुपयोग : कुमारस्वामी◾कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष बोले- विश्वास मत पर मतदान में देरी नहीं कर रहा हूं◾सोनभद्र मामले में 3 सदस्यीय समिति का गठन, 10 दिनों के अंदर सौंपेगी रिपोर्ट : योगी ◾कुमारस्वामी शुक्रवार को देंगे अपना विदाई भाषण : येदियुरप्पा◾कर्नाटक : विश्वास मत पर रोक के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे कुमारस्वामी◾बिहार : छपरा में मवेशी चोरी के आरोप में भीड़ ने की युवकों की पिटाई, 3 की मौत◾मोहम्मद मंसूर खान से पूछताछ कर रही है ईडी : SIT◾आयकर विभाग के एक्शन से भड़कीं मायावती, कहा- अपने गिरेबान में झांके भाजपा ◾कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुंच प्रदान करेगा पाकिस्तान◾

हरियाणा

मलिक का रोहतक में विरोध, हंगामा

रोहतक : जाट नेता यशपाल मलिक का रोहतक में उन्हीं के समाज के लोगों ने विरोध किया। समाज के लोगों का कहना है कि मलिक ने जाट समाज द्वारा दिये गये चन्दे का दुरूपयोग किया है। जबकि समाज के लोगों ने चंदा जाट आरक्षण के दौरान जेल में युवाओं की पैरवी के लिये दिया था। मलिक रोहतक में एक संस्थान की आधारशिला रखने आये थे। समाज के लोगों के विरोध के चलते भारी पुलिस बल को मौके पर बुलाया और मलिक को कड़ी सुरक्षा के बीच वहां से निकाला।

जाट समाज द्वारा दिये गये चंदे का यशपाल मलिक ने दुरूपयोग किया है। ये चन्दा मलिक को जाट आरक्षण के दौरान जेल गये युवाओं की रिहाई के लिये दिया था। मलिक ने इस चन्दे को वहां प्रयोग ना कर स्कूल और अन्य संस्थान खोलने में किया। जाट समाज ने धरनों के दौरान दिये गये चन्दे का यशपाल मलिक ने गलत इस्तेमाल किया है। मलिक को ये चन्दा इसलिये दिया था कि वो जेल गये युवाओं की रिहाई के लिये अच्छा वकील करके उनकी पैरवी करे। जबकि ऐसा कुछ नही हुआ।

मलिक ने चंदे के पैसे को कमाई का साधन बना लिया। एक बार भी हमारे बच्चों से मिलने तक जेल नही गये और ना ही उनसे मिले। रविवार को अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल गांव जसिया स्थित छोटूराम परीक्षा संस्थान की शुरुआत के हवन यज्ञ कार्यक्रम में पहुंचे। इसी दौरान वहां पर काफी संख्या में महिलाएं व ग्रामीण एकत्रित हो गए और मलिक के खिलाफ नारेबाजी शुरु कर दी। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि यशपाल मलिक ने अभी तक न तो चंदे का हिसाब-किताब दिया और न ही जेल में बंद युवाओं की रिहाई के लिए कोई कारवाई की है।

साथ ही ग्रामीणों ने मलिक पर चंदे में धांधली करने के भी आरोप लगाएं। मामले का पता चलने पर भारी पुलिस मौके पर पहुंच गई और लोगों का मनाने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण नहीं माने। स्थिति को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस फोर्स को भी बुलवा लिया। करीब एक घंटे तक हंगामा रहा और बाद में कड़ी सुरक्षा के बीच पुलिस ने यशपाल मलिक को कार्यक्रम स्थल से बाहर निकाला।

(मनमोहन कथूरिया)