BREAKING NEWS

गृह मंत्री अमित शाह बोले- देश की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता बर्दाश्त नहीं ◾आज देश सरदार पटेल के एक भारत-श्रेष्ठ भारत के सपने को साकार होते हुए देख रहा है : PM मोदी◾मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- गैर भरोसेमंद और धोखेबाज है◾शारदा चिट फंड घोटाला : कोलकाता HC ने राजीव कुमार की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई से किया इनकार◾कपिल सिब्बल ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- कश्मीर में हालात सामान्य तो फारुक अब्दुल्ला गिरफ्तार क्यों ?◾मंदी की मार को लेकर जिम्मेदारी से बचना चाहती है बीजेपी सरकार : प्रियंका गांधी◾भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों से जल्द ही करूंगा मुलाकात : डोनाल्ड ट्रंप ◾राजस्थान : BSP को झटका, छह विधायकों ने थामा कांग्रेस का हाथ ◾प्रधानमंत्री मोदी का 69वां जन्मदिन, राष्ट्रपति कोविंद सहित विपक्ष के अन्य नेताओं ने दी शुभकामनाएं◾सरदार सरोवर का गेट खोलने की मांग को लेकर मेधा पाटकर मंगलवार को निकालेंगी रैली ◾PM मोदी अपने जन्मदिन के मौके पर नर्मदा बांध का करेंगे दौरा ◾नितिन गडकरी बोले- सिर्फ आरक्षण से किसी समुदाय का विकास सुनिश्चित नहीं हो सकता ◾TOP 20 NEWS 16 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर बोले- जल्द ही पूरी दुनिया में उपलब्ध होगा दूरदर्शन इंडिया◾योगी सरकार को इलाहाबाद HC से झटका, 17 OBC जातियों को SC में शामिल करने पर रोक◾शरद पवार का ऐलान- महाराष्ट्र में 125-125 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी NCP और कांग्रेस◾हिंदी को लेकर अमित शाह के बयान पर बोले कमल हासन - कोई 'शाह' नहीं तोड़ सकता, 1950 का वादा◾CJI रंजन गोगोई बोले-जरूरत हुई तो मैं खुद जाऊंगा जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट◾गंगवार के बयान पर प्रियंका का वार, कहा-मंत्री जी, 5 साल में कितने उत्तर भारतीयों को दी हैं नौकरियां◾SC ने गुलाम नबी आजाद को कश्मीर जाने की दी अनुमति, कोई राजनीतिक रैली न करने का दिया आदेश◾

देश

बड़ा खुलासा : एक ही बंदूक से की गई थी गौरी लंकेश और कलबुर्गी की हत्या

नई दिल्ली: लंकेश पत्रिका की संपादक गौरी लंकेश की हत्या 5 सितंबर 2017 में पश्चिमी बंगलूरू में उनके घर के बाहर कर दी गई थी। कन्नड़ कवि और पत्रकार पी लंकेश की बड़ी बेटी पर सात राउंड फायरिंग की गई थी। ‌‌‌जिसमें उनकी मौत हो गई थी।  इस हत्याकांड का फोरेंसिक लैब की रिपोर्ट में अहम खुलासा हुआ है। FSL रिपोर्ट के मुताबिक, गौरी लंकेश की हत्या में उसी बंदूक का इस्तेमाल किया गया, जिससे कर्नाटक के ही प्रख्यात तर्कवादी और लेखक एमएम कलबुर्गी की हत्या की गई थी। इस हत्याकांड में गिरफ्तार मुख्य आरोपी टी नवीनकुमार के खिलाफ दाखिल चार्जशीट के साथ लगाई गई एफएसएल रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक, गौरी लंकेश और एमएम कुलबुर्गी की हत्या में 7.65 एमएम के देसी पिस्तौल का इस्तेमाल किया गया था।

इस हत्याकांड के आरोपी केटी नवीन कुमार ने पुलिस को कथित तौर पर दिए अपने बयान में एक दक्षिणपंथी कार्यकर्ता को कारतूस देने की बात स्वीकार की है। नवीन कुमार ने अपने बयान में कहा है कि इस दक्षिणपंथी कार्यकर्ता ने उसे बताया था कि कारतूस का इस्तेमाल हिंदू विरोधी गौरी लंकेश की हत्या के लिए होना था।  नवीन कुमार कथित तौर पर आर्म्स डीलर है और उसने माना है कि तर्कशास्त्री प्रोफ़ेसर केएस भगवान की हत्या करने की योजना थी। नवीन कुमार का 12 पेज का क़बूलनामा इस मामले में दाख़िल चार्जशीट का हिस्सा भी है। गौरी लंकेश की हत्या उनके घर के बाहर ही गोली मारकर कर दी गई थी।

गौरतलब है कि एसआईटी ने अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के सामने 650 पेज का आरोप पत्र दायर किया था जिसमें नवीन कुमार आरोपी है। एसआईटी नवीन कुमार को आईपीसी की धाराओं 302 (हत्या), 120 बी (आपराधिक साजिश), 118 (साजिश छिपाना) और 114 (अपराध के लिए उकसाना) और शस्त्र अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों के तहत आरोपी बनाया। आरोपपत्र में करीब 131 गवाहों के बयान दर्ज हैं। एसआईटी ने कहा कि वह भविष्य में इस मामले के संबंध में और दस्तावेज सौंपेगी।

वामपंथ के प्रति झुकाव और हिन्दुत्व विरोधी रुख के लिए प्रसिद्ध लंकेश (55) की पिछले साल पांच सितंबर को यहां उनके आवास के सामने गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। नवीन कुमार को 18 फरवरी को हथियार और विस्फोटक सामग्री गैरकानूनी तरीके से रखने पर गिरफ्तार किया गया था। एसआईटी ने दावा किया कि जांच के दौरान उसे लंकेश की हत्या में उसकी संलिप्तता के संबंध में सबूत मिले हैं।

बता दें कि गोरी लंकेश मर्डर केस में कर्नाटक पुलिस ने तीन दिन पहले 30 मई को चार्जशीट दाखिल कर दी है, जिसमें पुलिस भी इस नतीजे पर पहुंची है कि हिंदू धर्म की आलोचना के चलते ही गौरी लंकेश की हत्या की गई थी। चार्जशीट में केटी नवीन कुमार को मुख्य आरोपी बनाया गया है। इसके साथ ही प्रवीन कुमार को भी आरोपी बनाया गया है, जो कि फिलहाल फरार है। करीब 600 पेज की इस चार्जशीट में 100 लोगों के नाम बतौर गवाह दर्ज है। हालांकि 600 पेज की इस चार्जशीट के 110 पेज सार्वजनिक नहीं किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक, गौरी लंकेश की हत्या की वजहों और साजिश की जानकारी इन्हीं 110 पेज में है। इसके अलावा मुख्य आरोपी नवीन कुमार के बयान को भी सार्वजनिक नहीं किया गया है। पार्क में बैठ रची थी हत्या की साजिश सूत्रो के  मुताबिक, चार्जशीट के इन सार्वजनिक न किए गए पृष्ठों में कहा गया है कि आरोपी गौरी लंकेश द्वारा प्रकाशित साप्ताहिक टेब्लॉयड में हिंदू धर्म की तीखी आलोचना करने, हिंदू देवी-देवताओं और हिंदू धर्म की बुराई किए जाने से नाराज थे। चार्जशीट में जो सबसे अहम खुलासा हुआ है, वह है कि नवीन कुमार गौरी लंकेश की हत्या की साजिश में शामिल था और हत्या की पूरी साजिश बेंगलुरु के विजयनगर में स्थित बीबीएमपी पार्क में बैठकर रची गई थी।     अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।