BREAKING NEWS

भारत ने किया स्वदेशी पृथ्वी-2 मिसाइल का सफल परीक्षण◾म्यांमार के राजदूत ने की विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला से मुलाकात◾KKR vs MI (IPL 2020) : रोहित की धमाकेदार पारी, मुंबई इंडियन्स ने कोलकाता नाइटराइडर्स को 49 रन से हराया◾कोरोना वायरस संक्रमण से रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगडी का निधन, PM मोदी ने दुख व्यक्त किया◾कोविड-19 के खिलाफ ‘मेरा परिवार- मेरी जिम्मेदारी’ अभियान शुरू किया गया - उद्धव ठाकरे◾KKR vs MI IPL 2020: मुंबई ने कोलकाता को दिया 196 रनों का टारगेट◾महाराष्ट्र में कोरोना के 21 हजार से अधिक नए केस, 479 और लोगों की मौत◾कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- 7 दिन तक 1 घंटा लोगों से सीधे करें बात◾ड्रग केस में बड़ी कार्यवाही : NCB ने दीपिका, सारा , श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को भेजा समन◾दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की तबीयत बिगड़ी, LNJP हॉस्पिटल में भर्ती◾राहुल गांधी का तीखा वार : मप्र में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ किया, भाजपा ने झूठे वादे किए◾कृषि बिल पर विरोध : दिल्ली की ओर कूच कर रहे युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका, कई हिरासत में◾धोनी पर बरसे गंभीर , कहा - सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करना मोर्चे से अगुवाई नहीं◾DRDO ने टैंक रोधी मिसाइल का किया सफल परीक्षण, रक्षा मंत्री ने दी बधाई ◾कोविड-19: देश में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में लगातार तेजी, रिकवरी रेट 81.25 प्रतिशत ◾कृषि बिल पर विरोध जारी, संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से अंबेडकर प्रतिमा तक विपक्ष का मार्च ◾कृषि बिल : विपक्ष का संसद परिसर में प्रदर्शन, आज शाम 5 बजे 5 नेताओं से मिलेंगे राष्ट्रपति◾बारिश की वजह से डूबी मुंबई, सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित ◾सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया-शोविक की सुनवाई टली, मुंबई में बारिश के चलते आज HC की छुट्टी◾कश्मीर के मुद्दे को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति पर भड़का भारत, कहा- आंतरिक मामलों में दखल स्वीकार नहीं◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दिल्ली पुलिस ने शशि थरूर के खिलाफ हत्या के आरोप में अभियोजन चलाने अनुरोध किया

दिल्ली पुलिस ने शनिवार को शहर की एक अदालत से कांग्रेस सांसद शशि थरूर के खिलाफ उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर की 2014 में मौत के मामले में आत्महत्या के लिए उकसाने या ‘‘इसके विकल्प में’’ हत्या के आरोप में अभियोजन चलाने का अनुरोध किया। 

दिल्ली पुलिस ने विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहर से कहा, ‘‘कृपया आरोपी (थरूर) के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं 498ए, 306 या विकल्प में 302 के तहत आरोप तय करें।’’ 

वरिष्ठ लोक अभियोजक अतुल श्रीवास्तव ने मामले में आरोप तय करने पर दलीलों के दौरान ये अनुरोध किया। पूर्व केंद्रीय मंत्री मामले में वर्तमान समय में जमानत पर हैं। दिल्ली पुलिस ने उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं 498ए और 306 के तहत आरोप लगाये थे। 

अभियोजक ने दम्पति की घरेलू सहायक का एक बयान पढ़ा जो कि मामले में एक गवाह है। अभियोजक ने कहा कि दम्पति के बीच ‘कैटी’ नाम की एक लड़की और कुछ ब्लैकबेरी संदेशों को लेकर झगड़ा हुआ था। अभियोजक ने कहा कि मौत से पहले पुष्कर आईपीएल मुद्दे पर एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करना चाह रही थीं और कहा था, ‘‘मैं उन्हें (थरूर) छोडूंगी नहीं।’’ 

गवाह ने पुलिस को बताया था कि मौत से एक वर्ष पहले दम्पति के बीच काफी झगड़ा होता था। पुलिस ने अदालत को बताया कि पुष्कर परेशान थीं और अपने वैवाहिक जीवन में ‘‘धोखा महसूस’’ कर रही थीं। पुलिस ने अदालत को बताया कि पुष्कर अपने पति के साथ संबंध में तनाव के चलते मानसिक पीड़ा में थीं। उनकी मौत से कुछ दिन पहले उनका उनके पति से झगड़ा हुआ था और उनके शरीर पर चोट के कई निशान थे। 

पुलिस ने थरूर पर अपनी पत्नी को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया जिसने उसे आत्महत्या के लिए उकसाया। पुलिस ने अदालत को बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार पुष्कर की मौत का कारण जहर था और उनके शरीर के विभिन्न हिस्सों में चोट के 15 निशान मिले। 

अभियोजक ने अदालत को बताया कि पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तारड़ के साथ थरूर के संबंधों ने भी पुष्कर की मानसिक पीड़ा को बढ़ाया। अभियोजक ने इसके साथ ही अदालत को पुष्कर की मित्र एवं पत्रकार नलिनी सिंह के बयान में बारे में भी बताया जो कि आरोपपत्र का हिस्सा है कि दम्पति के बीच संबंध तनावपूर्ण एवं खराब थे। 

सिंह ने अपने बयान में कहा, ‘‘उन्होंने (पुष्कर) थरूर की आईपीएल मामले में काफी मदद की। उन्हें तारड़ और थरूर के बीच आदान प्रदान हुए कुछ संदेश मिले थे। उन्होंने (पुष्कर ने) घर जाने से इनकार कर दिया था और इसके बजाय लीला होटल चली गई थीं। दम्पति के बीच संबंध बहुत खराब थे।’’ थरूर के लिए पेश हुए विकास पहवा ने इन बातों का खंडन किया और कहा कि अभियोजक द्वारा लगाये गए आरोप बेतुके हैं। मामले की अगली सुनवायी 17 अक्टूबर तय की गई।