BREAKING NEWS

राज्य में कोई भी डिटेंशन सेंटर स्थापित नहीं होगा : CM ममता ◾TOP 20 NEWS 22 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾अयोध्या मामला : सुप्रीम कोर्ट ने ‘निर्वाणी अखाड़ा’ को लिखित नोट दाखिल करने की दी इजाजत ◾राज्यपाल सत्यपाल मलिक बोले- किसी भी आतंकवादी या नौकरशाह ने अपना बच्चा आतंकवाद में नहीं खोया◾PMC बैंक घोटाला : 24 अक्टूबर तक बढ़ी आरोपी राकेश वधावन और सारंग वधावन की हिरासत◾सोशल मीडिया अकाउंट को आधार से जोड़ने के सभी मामले सुप्रीम कोर्ट में ट्रांसफर◾मोदी से मिले नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी, PM ने मुलाकात के बाद किया ये ट्वीट ◾J&K और लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को केंद्र का दिवाली तोहफा, 31 अक्टूबर से मिलेगा 7th पेय कमीशन का लाभ ◾राजनाथ सिंह बोले- नौसेना ने यह सुनिश्चित करने के लिए सतर्कता बरती कि 26/11 दोबारा न होने पाए◾राज्यपाल जगदीप धनखड़ का बयान, बोले-ऐसा लगता है कि पश्चिम बंगाल में किसी प्रकार की सेंसरशिप है◾भारतीय सेना ने पुंछ में LoC के पास मोर्टार के तीन गोलों को किया निष्क्रिय◾INX मीडिया भ्रष्टाचार मामले में पी.चिदंबरम को मिली जमानत◾गृहमंत्री अमित शाह का आज जन्मदिन, PM मोदी सहित कई नेताओं ने दी बधाई◾अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट करेगा तय, समझौता या फैसला !◾पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में भर्ती◾Exit Poll : महाराष्ट्र और हरियाणा में भाजपा की प्रचंड जीत के आसार◾अनुच्छेद 370 हटाने के भारत के उद्देश्य का करते हैं समर्थन, पर कश्मीर में हालात पर हैं चिंतित : अमेरिका◾चुनाव के बाद एग्जिट पोल के नतीजे, भाजपा ने राहुल को मारा ताना ◾पकिस्तान द्वारा डाक मेल सेवा पर रोक लगाने के लिए रवि शंकर प्रसाद ने की आलोचना ◾सम्राट नारुहितो के राज्याभिषेक समारोह में शामिल होने जापान पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद ◾

देश

भारत में युवाओं की विशाल आबादी के बावजूद राजनीति में उनकी बहुत कमी : थरूर

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद शशि थरूर ने बृहस्पतिवार को इस बात पर अफसोस जताया कि भारत में युवाओं की बहुत बड़ी आबादी होने के बावजूद एक पेशे के तौर पर राजनीति युवाओं के लिए बहुत प्रतिनिधिकारी नहीं है यानी राजनीति में युवाओं की कमी है। 

थरूर ने यहां एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, 'युवाओं के बारे में बात करने वाले राजनेता आज के समय में थोड़े अजीब और अतिरंजित हो गए हैं, खासकर एक विशेष आयुवर्ग के नेता।'

तिरुवनंतपुरम से सांसद थरूर ने कहा, 'और यह अपरिहार्य तथ्य है कि भारत का राजनीतिक तबका और उसके नेता सामान्य तौर पर इस पेशे में खुले दिल से युवाओं का स्वागत नहीं करते और इसके तमाम कारण हैं।’’ 

थरूर ने महात्मा गांधी के 150वें जयंती वर्ष और नेल्सन मंडेला के 100वें जयंती वर्ष के मौके पर आयोजित सेमिनार के दौरान अपने भाषण में यह बात कही। 

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'भारत एक ऐसा देश है जहां करीब 65 प्रतिशत आबादी की आयु 35 वर्ष से कम है। अब बारी आती है लोकतंत्र के मंदिर की, जहां सभी सांसदों में से केवल 2.2 प्रतिशत सांसदों की आयु ही 30 वर्ष से कम है और प्रत्येक चार में से एक सांसद की आयु ही 45 वर्ष से कम है।’’ 

उन्होंने कहा कि 16वीं लोकसभा में 25-40 के आयु वर्ग में 'सबसे कम सांसद' निर्वाचित हुए जबकि 2014 के चुनावों में अब तक सबसे अधिक युवा मतदाताओं ने वोट दिया। 

थरूर ने कहा, 'पक्के तौर पर नहीं कहा जा सकता कि हमने उस अंतर को सफलतापूर्वक पाट दिया है, लेकिन चीजों में मामूली सुधार हुआ है। संसद में औसत आयु थोड़ी कम हो गई है, हमारे पास 28 और 27 वर्ष की आयु वाले सांसद हैं।'