BREAKING NEWS

भारत-सियेरा लियोन के बीच छह समझौतों पर हस्ताक्षर◾प्रदूषण को लेकर केजरीवाल सरकार के खिलाफ मनोज तिवारी ने बांटे ‘मास्क’◾अखिलेश ने कहा भाजपा कर रही है बदनाम, सरकार ने कहा 'खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे''◾फडणवीस ने ‘नटरंग’ का जिक्र करते हुए पवार पर साधा निशाना◾UP : अयोध्या फिर छावनी में तब्दील, लगाई गई धारा 144, ये है वजह !◾वंदे भारत एक्सप्रेस में आई तकनीकी खामी, एसी और पंखे के बिना करीब एक घंटे तक रहे यात्री ◾Instagram पर PM मोदी के हैं तीन करोड़ से अधिक फॉलोवर ◾फडणवीस ने ‘नटरंग’ का जिक्र करते हुए पवार पर साधा निशाना◾महाराष्ट्र के लोगों को कश्मीर की है फिक्र : रविशंकर प्रसाद ◾राजनाथ के फ्रांस दौरे पर राहुल ने कहा : भाजपा नेताओं को राफेल सौदे का हो रहा अपराधबोध ◾पाकिस्तान ने बारामूला में किया संघर्षविराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद ◾चीन को पीछे छोड़ भारत की जनसंख्या हुई 150 करोड़ : गिरिराज ◾PM मोदी ने जम्मू-कश्मीर को बनाया भारत का अभिन्न अंग : शाह◾एशियाई संसदीय सभा की बैठक में कश्मीर मुद्दा उठाने पर थरूर ने पाकिस्तान की निंदा की ◾पश्चिम बंगाल भाजपा 15 अक्टूबर से गांधी संकल्प यात्रा निकालेगी ◾महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना सरकार की योजनाएं जनकल्याण के लिए : योगी ◾मैसेज की राजनीति की आड़ में लोकतंत्र को खत्म कर रहे हैं PM मोदी : अशोक गहलोत ◾रविशंकर प्रसाद ने फिल्म की कमाई से जोड़ने वाला बयान वापस लिया ◾TOP 20 NEWS 13 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾महाराष्ट्र : लातूर में बोले राहुल-मुख्य मुद्दों से लोगों का ध्यान भटका रही है मोदी सरकार ◾

देश

लक्षद्वीप के गांवों में पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करें : एनजीटी

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने लक्षद्वीप प्रशासन को केंद्र शासित प्रदेश के गांवों में पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने और इस संबंध में केंद्रीय भूजल बोर्ड (सीजीडब्ल्यूबी) द्वारा सुझायी कार्य योजना को लागू करने का शुक्रवार को निर्देश दिया। न्यायमूर्ति रघुवेंद्र एस राठौर और सत्यवान सिंह गार्बियल की पीठ ने प्रशासन को तीन महीने के भीतर कार्य योजना और उसके द्वारा नियुक्त न्यायमित्र के सुझावों को लागू करने के निर्देश दिए।

पीठ ने केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को न्यायमित्र वकील समीर सोढ़ी को उनकी सेवाओं के लिए 15 दिनों के भीतर 50,000 रुपये देने के भी निर्देश दिए। एनजीटी ने कहा, ‘‘चूंकि द्वीप में ताजा पानी की सभी जरुरतें सीमित भूजल संसाधनों से पूरी नहीं की जा सकतीं इसलिए सभी द्वीपों में जल आपूर्ति भूजल, अलवलीकरण जल और बारिश के पानी के संचयन से पूरी करनी चाहिए।’’


 एनजीटी ने केंद्र शासित प्रदेश में कवरत्ती की द्वीप पंचायत के गांववालों द्वारा लिखे पत्र पर संज्ञान लेने के बाद यह फैसला दिया। गांववाले भूजल के गिरते स्तर की चिंताजनक स्थिति का सामना कर रहे हैं। केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप अरब सागर में 32 वर्ग किलोमीटर के इलाके में फैला हुआ है और इसमें आबादी वाले 10 द्वीप, बिना आबादी वाले 17 द्वीप, तीन रीफ और छह डूबे हुए रेत के तट हैं। 


साल 2011 की जनगणना के अनुसार लक्षद्वीप की आबादी 64,473 है। एनजीटी के निर्देश के बाद लक्षद्वीप के जिलाधीश ने हरित अधिकरण के समक्ष स्थिति रिपोर्ट सौंपी और कहा कि द्वीप में कीमती भूजल के संरक्षण और प्रबंधन के लिए प्रशासन द्वारा सभी कदम उठाए जाएंगे। इसी तरह, केंद्रीय भूजल प्राधिकरण ने भी वहां भूजल के स्तर पर स्थिति रिपोर्ट सौंपी है।