BREAKING NEWS

सिद्धू शुक्रवार को पटियाला की अदालत में करेंगे आत्मसमर्पण◾आज का राशिफल ( 20 मई 2022) ◾RCB vs GT ( IPL 2022 ) : कोहली के बल्ले से निकली आरसीबी की जीत और प्लेऑफ की उम्मीद◾पंजाब में कांग्रेस को पड़ी दोहरी मार : सिद्धू को एक साल की सजा, जाखड़ ने थामा भाजपा का दामन◾भारतीय मुक्केबाज निकहत जरीन बनीं विश्व चैंपियन , PM मोदी ने दी बधाई ◾ इंडोनेशिया के ऐलान से भारत को राहत, जल्द ही कम हो सकते हैं खाने के तेल के दाम◾ अदालत में दाखिल याचिका को लेकर भड़के ओवैसी, बोले- मुसलमानों के खिलाफ अविश्वास पैदा करने की हो रही कोशिश◾Gyanvapi News: ज्ञानवापी मस्जिद पर अभिनेत्री कंगना बोलीं- काशी के कण- कण में बसे हुए हैं भगवान शिव◾ RCB vs GT: गुजरात टाइटंस ने टॉस जीतकर किया बल्लेबाजी का फैसला, यहां देखे दोनो टीमों की प्लेइंग इलेवन◾Quad Summit 2022: टोक्यो में शुरू होगा मोदी का मिशन, 24 मई को जाएंगे जापान, दिग्गज नेताओं के साथ होगी बातचीत ◾UP: स्वतंत्रता सेनानियों पर भावुक होकर योगी बोले- पिछली सरकारो ने इनके आदर्शों पर नहीं किया काम◾DU को संबोधित करते हुए शाह ने कहा: नहीं होनी चाहिए राजनीतिक लड़ाई, जिक्र किया- रक्षा नीति का.... ◾Gyanvapi Survey: वाराणसी अदालत में 23 मई को होगी अगली सुनवाई, दर्ज की जा चुकी है सर्वे रिपोर्ट ◾ अमित शाह से मिले CM भगवंत मान, PAK से ड्रोन घुसपैठ को लेकर MHA से की ये बड़ी मांग◾1988 रोड रेज केस : एक साल की सजा पर बोले सिद्धू-कानून का सम्मान करूंगा◾Delhi High Court ने लगाई घर-घर राशन योजना पर रोक, कहा: दिल्ली सरकार नहीं कर सकती केंद्र के राशन का इस्तेमाल ◾'कुछ नेता ही कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व को कर रहे हैं गुमराह', इस्तीफे के बाद बोले हार्दिक◾जिसका शिवपाल को था इंतजार.. वो घड़ी आ गई! आजम की जमानत का चाचा-भतीजे पर कैसा होगा असर? ◾SC से रिहाई के बाद फिर जेल जा सकते हैं आजम खान, जानिए किस मामले में फंस सकते हैं SP नेता ◾Delhi News: राजधानी फिर हुई धुआं-धुंआ! मुस्तफाबाद की फैक्ट्री में लगी भीषण आग, दमकल की गाड़ियां मौके पर मौजूद◾

नरसिंहपुर के किसानों ने सड़क पर फेंके टमाटर

भोपाल : मध्यप्रदेश में नरसिंहपुर जिले के गाडरवारा में टमाटर के भाव दो रूपये प्रति किलोग्राम भी नहीं मिलने से गुस्साए किसानों ने टमाटर वहां सब्जी मंडी में सड़क पर फेंक दिया। किसानों का कहना है कि टमाटर उगाना आजकल नुकसान का धंधा हो गया है, इसलिए इसे सड़क पर बिखेर रहे हैं।

इससे ठीक दो दिन पहले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर स्थित शाहगंज इलाके में भी टमाटर के भाव दो रूपये प्रति किलोग्राम न मिलने पर किसानों को अपने द्वारा कड़ी मेहनत से उगाई गई इस उपज को सड़क पर फेंकने के लिए बाध्य होना पड़ा था। किसान यूनियन संगठन नरसिंहपुर के अध्यक्ष बाबू पटेल ने बताया कि किसान को टमाटर का उत्पादन करने में जो खर्चा आता है, उसे वह भी नहीं मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि कि मध्यप्रदेश में किसानों की वित्तीय हालात बहुत खराब हो गई है और राज्य सरकार उनकी मदद नहीं कर रही है।’’ इसी बीच, मध्यप्रदेश किसान सभा के अध्यक्ष जसविन्दर सिंह ने भी कहा कि प्रदेश में टमाटर पर किसानों को नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को अनाज की तरह साग-सब्जी एवं फलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय करना चाहिए, ताकि उन्हें अपनी इस उपज का भी वाजिब दाम मिले।

मध्यप्रदेश आम आदमी पार्टी के संयोजक आलोक अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश में किसानों की माली हालात बहुत खराब हो गई है, क्योंकि राज्य सरकार उनके हितों की रक्षा करने में असफल रही है। अग्रवाल ने आरोप लगाया कि मध्यप्रदेश में किसानों की इतने बुरी दशा हो गई है कि हर रोज प्रदेश में पांच किसान आत्महत्या कर रहे हैं।

मध्यप्रदेश के कृषि, बागवानी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग के प्रमुख सचिव राजेश राजौरा ने बताया, ‘‘मुझे किसानों द्वारा आज नरसिंहपुर में किये गये विरोध के बारे में पता नहीं है। इसलिए इस पर कुछ कहेंगे।’ मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन से इस पर प्रतिक्रिया के संपर्क किया, लेकिन संपर्क नहीं हो पाया।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ