BREAKING NEWS

अनुच्छेद 370 हटाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहीं फारूक अब्दुल्ला की बहन और बेटी को पुलिस ने हिरासत में लिया◾चरखी दादरी में बोले PM मोदी-हरियाणा की बेटियों ने हर क्षेत्र में साबित की है अपनी प्रतिभा ◾डेंगू मरीजों से मिलने पहुंचे केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे पर PMCH में फेंकी गई स्याही, देखें VIDEO◾NSG के स्थापना दिवस समारोह में बोले अमित शाह-आतंकवाद के खिलाफ जारी है निर्णायक लड़ाई ◾महाराष्ट्र : BJP ने जारी किया संकल्प पत्र, 1 करोड़ नौकरी और राज्य को सूखा मुक्त बनाने का किया वादा◾PMC बैंक घोटाला : प्रदर्शन के बाद घर लौटे खाताधारक की हार्ट अटैक से मौत, बैंक में जमा थे 90 लाख◾अभिजीत बनर्जी को लेकर सिब्बल का PM मोदी पर कटाक्ष, कहा- काम पर लग जाइए, तस्वीरें कम खिंचवाइए◾भारत में बड़ी वारदात को अंजाम देने की साजिश, बालाकोट में 50 आतंकियों को दी जा रही है ट्रेनिंग◾प्रियंका ने अभिजीत बनर्जी को दी नोबेल की बधाई, बोलीं- आशा है न्याय योजना वास्तविकता बनेगी◾उत्तर प्रदेश में बेरोजगार हुए 25 हजार होमगार्ड, योगी सरकार ने खत्म की ड्यूटी◾FATF में अलग-थलग पड़ा पाकिस्तान, ‘डार्क ग्रे’ सूची में डाला जा सकता है नाम◾महाराष्ट्र चुनाव: उद्धव ठाकरे की रैली के लिए तोड़ी गई स्कूल की दीवार◾राफेल पर PM मोदी का राहुल को जवाब, कहा- वे चाहते थे नया विमान न आने पाए◾CM नीतीश कुमार ने पटना में भारी बारिश से हुये जलजमाव की उच्चस्तरीय समीक्षा की ◾मोबाइल वैन के जरिए प्याज बेचने की दिल्ली सरकार की योजना बेहद सफल रही : केजरीवाल ◾रविशंकर प्रसाद बोले- अफवाह फैलाने वाले संदेशों के स्रोत तक हो एजेंसियों की पहुंच◾भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार, PM ने ट्वीट कर दी बधाई◾TOP 20 NEWS 14 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ PM नरेंद्र मोदी ने नीदरलैंड के राजा-रानी से वार्ता की ◾हरियाणा विधानसभा चुनाव : PM मोदी बोले- विपक्ष में दम तो कहे कि 370 वापस लाएंगे◾

देश

बिहार में बाढ़ का कहर जारी, 55 प्रखंड के 18 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित

बिहार के उत्तरी हिस्सों के करीब सभी जिलों में शहर से गांव तक बाढ़ का पानी कहर ढा रहा है। लोग अपने घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों पर शरण लिए हुए हैं। इस बीच नदियों के जलस्तर में वृद्घि के बाद नए क्षेत्रों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर रहा है। बिहार के जिन इलाकों में बाढ़ का सबसे ज्यादा असर है, उनमें अररिया, किशनगंज, सुपौल, दरभंगा, शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, मुजफ्फरपुर जिला शामिल हैं। अधिकारिक रिपोर्ट के मुताबिक राज्य के 55 प्रखंड के 352 पंचायत के 18 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। 

इस बीच, नेपाल से आने वाली नदियों के जलस्तर में वृद्घि देखी जा रही है। बिहार जल संसाधन विभाग के प्रवक्ता अरविंद कुमार सिंह ने सोमवार को बताया कि बागमती जहां ढेंग, सोनाखान, डूबाधार, कनसार, बेनीबाद में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है, वहीं कमला बलान नदी जयनगर, झंझारपुर में तथा महानंदा ढेंगराघाट व झावा में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। इधर, कोसी के जलस्तर में सोमवार को वृद्घि देखी जा रही है। कोसी का जलस्तर वीरपुर बैराज के पास सोमवार को सुबह छह बजे 1.94 लाख क्यूसेक था जो आठ बजे 2.01 लाख क्यूसेक हो गया। 

गंडक नदी का जलस्तर बाल्मीकिनगर बराज के पास सुबह छह बजे 75.5 हजार क्यूसेक था जो आठ 79.7 हजार क्यूसेक हो गया। इस बीच आपदा प्रबंधन विभाग का दावा है कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत एवं बचाव कार्य जारी है। बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की 19 टीमें लगाई गई हैं। आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में 152 राहत शिविर स्थापित किए गए हैं, जिसमें 45 हजार से ज्यादा लोग रह रहे हैं। इस बीच, मुजफ्फरपुर जिले में बागमती के उफान से कटरा व औराई में बाढ़ की स्थिति नाजुक बनी है। दो हजार से अधिक घरों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है । 

पूर्वी चंपारण के नए इलाकों में पानी तेजी से प्रवेश कर रहा है। सुपौल में भी नए क्षेत्रों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है। सीतामढ़ी के गांवों की स्थिति और बदतर है। सीतामढ़ी के कई गांवों के बाढ़ पीड़ितों का आरोप है कि अभी तक राहत और बचाव कार्य प्रारंभ नहीं किए गए हैं। शिवहर में भी बाढ़ से हालात खराब हो रहे हैं और कई शहरी इलाकों में भी पानी घुस चुका है। अररिया और किशनगंज में भी बाढ़ का पानी नए क्षेत्रों में फैल रहा है। उल्लेखनीय है कि रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण कर अधिकारियों को राहत अैर बचाव कार्य तेज करने का निर्देश दिया था। 

बीजेपी ने CM कुमारस्वामी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की मांग की