BREAKING NEWS

बृहस्पतिवार शाम छह बजे तक 10 लाख से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया : केंद्र ◾बिहार विधान परिषद उपचुनाव : शाहनवाज हुसैन, मुकेश सहनी निर्विरोध निर्वाचित घोषित◾सुखबीर ने नगर निकाय चुनाव से पहले कांग्रेस सरकार पर साधा निशाना ◾भारत से कोविड-19 टीके की खेप बांग्लादेश, नेपाल पहुंचीं◾कृषि मंत्री ने किसानों के साथ अगले दौर की वार्ता से पहले अमित शाह से मुलाकात की ◾संयुक्त किसान मोर्चा ने सरकार का प्रस्ताव किया खारिज, किसान अपनी मांगों पर अड़े◾मुख्यमंत्री केजरीवाल का आदेश, कहा- झुग्गी झोपड़ी में रहने वालों को जल्दी से जल्दी फ्लैट आवंटित किए जाएं ◾ममता की बढ़ी चिंता, मौलाना अब्बास सिद्दीकी ने बंगाल में बनाई नई राजनीतिक पार्टी, सभी सीटों पर लड़ सकती है चुनाव ◾सीरम इंस्टीट्यूट में भीषण आग से 5 मजदूरों की मौत, CM ठाकरे ने दिए जांच के आदेश◾चुनाव से पहले TMC को झटके पर झटका, रविंद्र नाथ भट्टाचार्य के बेटे BJP में होंगे शामिल◾रोज नए जुमले और जुल्म बंद कर सीधे-सीधे कृषि विरोधी कानून रद्द करे सरकार : राहुल गांधी ◾पुणे : दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता में से एक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में लगी आग◾अरुणाचल प्रदेश में गांव बनाने की रिपोर्ट पर चीन ने तोड़ी चुप्पी, कहा- ‘हमारे अपने क्षेत्र’ में निर्माण गतिविधियां सामान्य ◾चुनाव से पहले बंगाल में फिर उठा रोहिंग्या मुद्दा, दिलीप घोष ने की केंद्रीय बलों के तैनाती की मांग◾ट्रैक्टर रैली पर किसान और पुलिस की बैठक बेनतीजा, रिंग रोड पर परेड निकालने पर अड़े अन्नदाता ◾डेजर्ट नाइट-21 : भारत और फ्रांस के बीच युद्धाभ्यास, CDS बिपिन रावत आज भरेंगे राफेल में उड़ान◾किसानों का प्रदर्शन 57वें दिन जारी, आंदोलनकारी बोले- बैकफुट पर जा रही है सरकार, रद्द होना चाहिए कानून ◾कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में प्रधानमंत्री मोदी और सभी मुख्यमंत्रियों को लगेगा टीका◾दिल्ली में अगले दो दिन में बढ़ सकता है न्यूनतम तापमान, तेज हवा चलने से वायु गुणवत्ता में सुधार का अनुमान ◾देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 15223 नए केस, 19965 मरीज हुए ठीक◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सरकार के प्रति बढ़ा जनता का भरोसा : यूस, रूस, जर्मनी को पछाड़ भारत बना नंबर वन

नई दिल्ली : भारतीयों का अपनी सरकार पर कितना भरोसा है यह फोर्ब्स मैगजीन के ताजा अंक से पता लगता है। मैगजीन में छपे OECD के सर्वे के अनुसार दुनिया में सबसे ज्यादा 75 प्रतिशत भारतीय अपनी सरकार और उसकी नीतियों पर भरोसा करते हैं। सरकार पर भरोसा होना किसी भी देश के आगे बढ़ने के लिए बेहद जरूरी है। देश के आर्थिक विकास के लिए भी यह एक जरूरी चीज है। यह सरकार के फैसलों को और असरदार बनाता है और टैक्स सिस्टम को लेकर भी लोगों को आज्ञापालक बनाता है। आपको यह जानकर हैरानी हो सकती है कि सरकार पर भरोसे के मामले में भारत को विश्व में नंबर-1 बताया गया है।

दुनिया की प्रतिष्ठित मैग्जीन फोर्ब्स ने OECD- Government at a Glance (Organization for Economic Cooperation and Development) की रिपोर्ट का हवाला देते हुए दुनिया के 34 अग्रणी लोकतांत्रिक देशों में रह रहे लोगों पर हुए सर्वे की खबर प्रकाशित की है। इस ट्वीट में फोर्ब्स मैग्जीन ने जानकारी दी है कि भारत के 73 फीसदी लोगों का भरोसा सरकार के साथ है। फोर्ब्स की इस सूची में अमेरिका, रूस, जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया भारत से काफी पीछे हैं। फोर्ब्स की ये रिपोर्ट बताती है कि भारत की वर्तमान सरकार के प्रति लोगों का विश्वास डिगा नहीं है।

हालांकि फोर्ब्स के इस ट्वीट के बाद पूरी दुनिया में इसकी काफी खिल्ली भी उड़ी है। फोर्ब्स की रिपोर्ट ट्वीट को देखने के बाद यही लगता है कि अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी और जापान जैसे देश इस मामले में भारत से कहीं पीछे हैं। भारत के बाद कनाडा इस मामले में दूसरे नंबर पर है फ्रांस जैसा देश कहीं अधिक पीछे है। इन सारे देशों में ग्रीस सबसे नीचे है।

हाल के वर्षों में, ग्रीस यूरोप माइग्रेशन संकट, कई चुनावों, बैंक शटडाउन के दौर से गुजरा है। फोर्ब्स ने ग्रीस को सबसे निचले पायदान पर रखे जाने के पीछे यही वजह गिनाई है। 2016 में, कुल मिलाकर सिर्फ 13 फीसदी ग्रीसवासियों का ही भरोसा सरकार के साथ था। वहीं, अगर अमेरिका की बात की जाए तो फेक न्यूज, स्कैंडल्स और रूस को लेकर तमाम आरोप अभी भी वाइट हाउस को घेरे हुए हैं। सिर्फ 30 फीसदी लोगों का ही भरोसा वहां सरकार के साथ है। युनाइटेड किंग्डम में, जो यूरोपियन यूनियन से अलगाव के दौर से भी गुजरा है, वहां 41 फीसदी लोगों का भरोसा सरकार के साथ है।

रूस और तुर्की में, पुतिन और एर्डोगन की सरकारों को 58 फीसदी लोगों का भरोसा मिला है। भारत में 73 फीसदी लोगों का भरोसा सरकार के साथ ही जबकि कनाडा दूसरे नंबर है। वहां 62 फीसदी लोग सरकार पर विश्वास कर रहे हैं। गौरतलब है कि (OECD- Organization for Economic Cooperation and Development) एक यूनिक फोरम है। यहां 34 लोकतांत्रिक देश आर्थिक स्तर पर एक-दूसरे की मदद करते हैं। इसके अलावा इस संस्था से 70 से अधिक गैर-सदस्यीय इकोनॉमी भी जुड़ी हुई हैं। वे एक-दूसरे के आर्थिक विकास, समृद्धि और टिकाऊ विकास के लिए प्रयासरत हैं।