BREAKING NEWS

महाराष्ट्र में कोरोना के 21 हजार से अधिक नए केस, 479 और लोगों की मौत◾कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- 7 दिन तक 1 घंटा लोगों से सीधे करें बात◾KKR vs MI IPL 2020: कोलकाता नाइट राइडर्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का किया फैसला◾ड्रग केस में बड़ी कार्यवाही : NCB ने दीपिका, सारा , श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को भेजा समन◾दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की तबीयत बिगड़ी, LNJP हॉस्पिटल में भर्ती◾राहुल गांधी का तीखा वार : मप्र में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ किया, भाजपा ने झूठे वादे किए◾कृषि बिल पर विरोध : दिल्ली की ओर कूच कर रहे युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका, कई हिरासत में◾धोनी पर बरसे गंभीर , कहा - सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करना मोर्चे से अगुवाई नहीं◾DRDO ने टैंक रोधी मिसाइल का किया सफल परीक्षण, रक्षा मंत्री ने दी बधाई ◾कोविड-19: देश में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में लगातार तेजी, रिकवरी रेट 81.25 प्रतिशत ◾कृषि बिल पर विरोध जारी, संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से अंबेडकर प्रतिमा तक विपक्ष का मार्च ◾कृषि बिल : विपक्ष का संसद परिसर में प्रदर्शन, आज शाम 5 बजे 5 नेताओं से मिलेंगे राष्ट्रपति◾बारिश की वजह से डूबी मुंबई, सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित ◾सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया-शोविक की सुनवाई टली, मुंबई में बारिश के चलते आज HC की छुट्टी◾कश्मीर के मुद्दे को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति पर भड़का भारत, कहा- आंतरिक मामलों में दखल स्वीकार नहीं◾राहुल ने पीएम मोदी पर पड़ोसी देशों के साथ संबंधों को नष्ट करने का लगाया आरोप◾कोरोना संक्रमण के फैलते प्रकोप की वजह से संसद का मानसून सत्र आज से अनिश्चित काल के लिए स्थगित ◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 56 लाख के पार, 90 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾पीएम मोदी की 7 राज्यों के CM के साथ बैठक आज, कोरोना महामारी पर करेंगे चर्चा ◾अमेरिका में वैश्विक महामारी के नए मामलों में कमी, कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 2 लाख के पार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम के साथ आयोजित हुआ स्वतंत्रता दिवस समारोह

देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान ऐतिहासिक लाल किले पर इस वर्ष कोविड-19 महामारी की छाया स्पष्ट रूप से दिखायी दी जहां सभी कुर्सियों पर मास्क, सैनिटाइजर, एक जोड़ा दस्ताने युक्त एक किट रखा गया था तथा कुर्सियों को इस प्रकार से रखा गया था कि सामाजिक दूरी के मानकों का पालन हो सके। 

लाल किले पर आयोजित होने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोह में हर साल काफी भीड़ रहती थी और अलग-अलग आयु वर्ग के लोग काफी उत्साह से इस कार्यक्रम में हिस्सा लेते थे लेकिन इस वर्ष कोविड-19 महामारी के कारण निर्धारित सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए इसके आकार को घटा दिया गया। 

समारोह में मुख्य प्रवेश द्वार पर सीमित संख्या में आमंत्रित अतिथियों की व्यक्तिगत सुरक्षा किट (पीपीई) पहने सुरक्षा कर्मियों द्वारा थर्मल स्कैनिंग की गई। वहीं, सुरक्षा द्वारों के पास हैंड्स फ्री सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई थी। 

समारोह स्थल पर सभी घेरों में कुर्सियों को सावधानीपूर्वक दूरी बनाकर रखा गया था। प्रत्येक सीट पर एक किट रखा था जिसमें मास्क, सैनिटाइजर, एक जोड़ा दस्ताने थे। इसके अलावा कार्यक्रम की जानकारी का पर्चा भी रखा गया था। वीवीआईपी लोगों के बैठने के स्थान पर भी सामाजिक दूरी के मानकों का पालन किया गया। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कहा, ‘‘प्रत्येक वर्ष भव्य समारोह में काफी संख्या में स्कूली बच्चे और ऊर्जावान युवा यहां होते थे लेकिन कोरोना वायरस के खतरे के कारण इस वर्ष वे यहां मौजूद नहीं हैं। आज हमारे बच्चे हमारे साथ यहां नहीं हैं। कोरोना वायरस महामारी ने हम सभी को रोक दिया है। ’’ 

बहरहाल, समारोह स्थल पर बैठने और पैदल चलने के स्थानों पर रंगीन दरियां बिछायी गई थीं और सामाजिक दूरी बनाये रखने के संदेश युक्त पोस्टर भी लगाये गए थे जिनमें ‘छह फीट की दूरी, मास्क पहनने’ जैसे संदेश लिखे हुए थे। 

अतिथि, सुरक्षा कर्मी, वीआईपी आदि सभी निर्धारित सुरक्षा मानकों के अनुरूप मास्क पहने हुए थे। कुछ अतिथि डिजाइनर मास्क पहने हुए थे। कोरोना वायरस महामारी के समय में यह स्थिति सामान्य रूप से देखी जा रही है। 

गौरतलब है कि दिल्ली कोरोना वायरस फैलने के मामले में देश के सबसे अधिक प्रभावित शहरों में शामिल रहा है। राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या 1.5 लाख को पार कर गई है जबकि इसके संक्रमण के कारण 4,178 लोगों की मौत हो चुकी है। 

74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने ‘नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन’ शुरू करने की घोषणा की