BREAKING NEWS

यथास्थिति बहाल होने तक LAC से भारत को एक इंच भी पीछे नहीं हटना चाहिए : कांग्रेस◾राहुल का केंद्र सरकार से सवाल, कहा- भारतीय जमीन पर निहत्थे जवानों की हत्या को कैसे सही ठहरा रहा चीन?◾भारत-चीन बॉर्डर पर IAF ने दिखाया अपना दम, चिनूक और अपाचे हेलीकॉप्टर ने रात में भरी उड़ान◾विकास दुबे की तलाश में जुटी पुलिस की 50 टीमें, चौबेपुर थाने में 10 कॉन्स्टेबल का हुआ तबादला◾कोरोना वायरस : देश में मृतकों का आंकड़ा 20 हजार के पार, संक्रमितों की संख्या सवा सात लाख के करीब ◾पुलवामा में एनकाउंटर के दौरान सुरक्षा बलों ने 1 आतंकी मार गिराया, सेना का एक जवान भी हुआ शहीद ◾चीन मुद्दे पर US ने एक बार फिर किया भारत का समर्थन, कहा- अमेरिकी सेना साथ खड़ी रहेगी◾विश्वभर में कोविड-19 मरीजों की संख्या 1 करोड़ 15 लाख से अधिक, मरने वालों का आंकड़ा 5 लाख 3 हजार के पार ◾US में कोरोना संक्रमितों की संख्या 29 लाख के पार, अब तक 1 लाख 30 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾गृह मंत्रालय से विश्वविद्यालयों को मिली हरी झंडी, परीक्षाएं कराने की मिली अनुमति◾महाराष्ट्र में कोरोना के 5,368 नए मामले आये सामने, 204 और मरीजों की मौत◾वांग - डोभाल बातचीत के बाद बोला चीन - LAC पर सैनिकों को पीछे हटाने का काम जल्द से जल्द किया जाना चाहिए ◾दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1 लाख के पार, देशभर में 7 लाख से ऊपर पहुंची संक्रमितों की संख्या◾कांग्रेस का पलटवार - चीन के खिलाफ मजबूत होती सरकार तो नड्डा को ‘झूठ’ नहीं बोलना पड़ता◾निलंबित DSP देविंदर सिंह समेत छह लोगों खिलाफआतंकी गतिविधियों के लिये NIA द्वारा चार्जशीट दायर ◾चीन के पीछे हटने से एक दिन पहले NSA डोभाल और चीनी विदेश मंत्री के बीच हुई थी बातचीत◾सेना के पीछे हटने पर बोला चीन- दोनों देशों के बीच तनाव कम करने के लिए उठाया गया कदम◾CM केजरीवाल बोले-दिल्ली में अब रोज 20 से 24 हजार हो रहे है कोरोना टेस्ट, मृत्यु दर में आई कमी ◾गलवान घाटी में 1-2 किमी तक पीछे हटी चीनी सेना, झड़प वाले स्थान पर बना बफर जोन◾विकास दुबे के संपर्क में आए तीन और पुलिसकर्मी सस्पेंड, हिस्ट्रीशीटर अब भी पकड़ से दूर◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

लॉकडाउन : NHAI ने प्रवासी श्रमिकों समेत दस हजार लोगों को खाना व जरूरी सामान कराया उपलब्ध

देश भर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को रोकने के प्रयास में पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है जिसके कारण देश के कई हिस्सों में अलग-अलग राज्यों के प्रवासी मजदूर फंसे हुए हैं। लॉकडाउन के कारण अलग अलग राज्यों से प्रवासी श्रमिक जैसे भी संभव हो उसी प्रकार से अपने घर पलायन करने को मजबूर हैं चाहे पैदल ही अपने घर क्यों न जाना पड़े। 


भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने मंगलवार को कहा कि उसने कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान देशभर में प्रवासी मजदूरों सहित दस हजार लोगों को खाना, पानी और अन्य जरूरी सहायता उपलब्ध कराई। प्राधिकरण के पास उपलब्ध ताजा आंकड़ों के मुताबिक 17 मई तक एनएचएआई ने प्रवासी मजदूरों सहित 10,000 लोगों को खाने के पैकेट, पीने का पानी, फल, चावल और अन्य जरूरी सहायता उपलब्ध कराई। इसके साथ ही जरूरी सामान, चिकित्सा सेवाओं का सड़कों के जरिये आवागमन सनुश्चित किया गया। 


कोरोना वायरस महामारी के प्रसार के साथ ही देश में जैसे ही लॉकडाउन शुरू हुआ सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नीतिन गडकरी ने एनएचएआई को संकट में फंसे लोगों को खाना, पानी और जरूरी सहायता उपलबध कराने के निर्देश दिये थे। एनएचएआई ने कहा कि उसने 17 मई तक प्रवासी कामगारों सहित 10,017 लोगों को खाना, पानी और दूसरी सहायता उपलब्ध कराई। यह सहायता एनएचएआई की बेंगलूरू, भोपालन, चंडीगढ़, चेन्नई, देहरादून, दिल्ली, गांधीनगर, गुवाहटी, हैदराबाद, जयपुर, जम्मू, कोलकाता, भुवनेश्वर, मदुरई, मुंबई, नागपुर, पटना, रायपुर, रांची, तिरुवनंतपुरम, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और विजयवाड़ा कार्यालयों ने उपलब्ध कराई। 


प्राधिकरण ने कहा है कि खाने के पैकेट के अलीावा पीने का पानी, फल, चावल, गेहूं और अन्य राशन, मास्क और सेनेटाइजर भी लोगों के बीच वितरित किये गये। इनमें ट्रक ड्राइवर से लेकर सड़कों पर चलने वाले प्रवासी भी शामिल थे। एनएचएआई ने कहा है कि जहां देश एक तरफ कोविड- 19 के बाद आर्थिक मोर्चे पर अपनी लड़ाई लड़ रहा है, वहीं एनएचएआई देश में सड़कों और राजमार्गों का व्यापक ढांचा तैयार कर पृष्टभूमि में रहते हुये देश की सेवा में लगा रहेगा। एनएचएआई ने अब तक देश में 38,000 किलोमीटर का राष्ट्रीय राजमार्ग विकसित किया है।