BREAKING NEWS

चुनावों में जनता के मुद्दे उठाएंगे, लोग भाजपा को सत्ता से बाहर करने को तैयार : कांग्रेस◾चुनाव आयोग का ऐलान, महाराष्ट्र-हरियाणा के साथ इन राज्यों की 64 सीटों पर भी होंगे उपचुनाव◾महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगी वोटिंग, 24 को आएंगे नतीजे◾ISRO प्रमुख सिवन ने कहा - चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर अच्छे से कर रहा है काम◾विमान में तकनीकी खामी के चलते जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में रुके PM मोदी, राजदूत मुक्ता तोमर ने की अगवानी◾जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन◾कपिल सिब्बल बोले- कॉरपोरेट के लिए दिवाली लाई सरकार, गरीबों को उनके हाल पर छोड़ा◾मध्यप्रदेश सरकार ने शराब, पेट्रोल और डीजल पर बढ़ाया 5 फीसदी वैट◾Howdy Modi: 7 दिनों के अमेरिका दौरे पर रवाना हुए पीएम मोदी, ये रहेगा कार्यक्रम◾शरद पवार बोले- केवल पुलवामा जैसी घटना ही महाराष्ट्र में बदल सकती है लोगों का मूड◾नीतीश पर तेजस्वी का पलटवार, कहा- जब एबीसीडी नहीं आती, तो मुझे उपमुख्यमंत्री क्यों बनाया था?◾महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों के लिए आज होगी तारीखों की घोषणा, 12 बजे EC की प्रेस कॉन्फ्रेंस◾विदेश मंत्री जयशंकर ने फिनलैंड के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात की◾सुरक्षा बल और वैज्ञानिक हर चुनौती से निपटने में सक्षम : राजनाथ ◾पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंड़ल से कोई बातचीत नहीं होगी : अकबरुद्दीन◾भारत, अमेरिका अधिक शांतिपूर्ण व स्थिर दुनिया के निर्माण में दे सकते हैं योगदान : PM मोदी◾कॉरपोरेट कर दर में कटौती : मोदी-भाजपा ने किया स्वागत, कांग्रेस ने समय पर सवाल उठाया ◾चांद को रात लेगी आगोश में, ‘विक्रम’ से संपर्क की संभावना लगभग खत्म ◾J&K : महबूबा मुफ्ती ने पांच अगस्त से हिरासत में लिए गए लोगों का ब्यौरा मांगा◾अनुभवहीनता और गलत नीतियों के कारण देश में आर्थिक मंदी - कमलनाथ◾

देश

मद्रास हाई कोर्ट ने दिया TikTok को बड़ा झटका, ऐप को बैन करने के दिए सरकार को आदेश

युवाओं से लेकर बुजुर्गों तक फेमस वीडियो ऐप टिक-टॉक के लिए लोग पागलों की तरह बहुत ही कम समय में दीवाने हो गए हैं। लेकिन टिक-टॉक को लेकर एक ऐसी बड़ी खबर आई है जिसे सुनकर सभी लोगों को सदमा लग सकता है। दरअसल मद्रास हाईकोर्ट ने टिक-टॉक को लेकर एक नया आदेश जारी किया है।

\"\"

सरकार को टिक-टॉक ऐप को बैन करने का हाईकोर्ट ने निर्देश दिया है। कोर्ट ने आदेश में कहा है कि यह चाइनीज वीडियो एप टिक-टॉक आपत्तिजनक कंटेंट को बढ़ावा देती है।

\"\"

टिक-टॉक को बैन करने के निर्देश दिए मद्रास हाईकोर्ट ने

ऐप के खिलाफ दायर याचिका में मद्रास हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए कहा कि जो बच्चे टिक-टॉक का इस्तेमाल कर रहे हैं,वह यौन शिकारियों के संपर्क में आसानी से आ सकते हैं। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि आपत्तिजनक कंटेट के चलते टिक-टॉक का इस्तेमाल करना खतरे से खाली नहीं है।

\"\"

टिक-टॉक एप बीजिंग की एक कंपनी ने बनाई है और यूजर्स अपने छोटे-छोटे वीडियो बनाने के साथ ही वह इन्हें शेयर भी कर सकते हैं। टिक-टॉक एप भारत में बहुत फेमस हो चुका है। इस ऐप के जरिए बॉलीवुड के डॉयलोग, जोकस पर यूजर्स अपने वीडियो बनाते हैं। इसके साथ ही इस ऐप में लिप-सिंक से लेकर फेमस संगीत पर डांस भी किया जाता है।

\"\"

तमिलनाडु के आईटी मंत्री ने पिछले दिनों मीडिया से बात करते हुए कहा था कि ऐप पर कुछ कंटेंट काफी असहनीय होता है। वहीं भारतीय जनता पार्टी के करीबी हिंदू राष्ट्रवादी समूह ने भी ऐप को बैन करने की बात कही है। बीजेपी के आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय ने ने पिछले दिनों कहा था कि पार्टी ने कुछ टिक-टॉक वीडियो देखे और इस प्लेटफार्म को काफी क्रिएटिव बताया था।

\"\"

ये 14 साल का बच्चा 18 घंटे विडियो गेम खेलकर कमा लेता है करोड़ों रुपये