BREAKING NEWS

पंजाब विधान सभा चुनाव - गठबंधन तय लेकिन सीटों को लेकर अभी तक नहीं हो पाया है अंतिम फैसला ◾कांग्रेस ने अरबपतियों की संपत्ति बढ़ने संबंधी रिपोर्ट को लेकर सरकार पर निशाना साधा ◾राज्यों की झांकी न शामिल करने के लिए केंद्र की आलोचना करना गलत परम्परा : सरकारी सूत्र ◾ केजरीवाल आज करेंगे पंजाब में ‘आप’ के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा◾गणतंत्र दिवस झांकी विवाद : ममता के बाद स्टालिन ने PM मोदी का लिखा पत्र ◾भारत वर्तमान ही नहीं बल्कि अगले 25 वर्षों के लक्ष्य को लेकर नीतियां बना रहा है : PM मोदी ◾उद्योग जगत ने WEF में PM मोदी के संबोधन का किया स्वागत ◾ कोरोना से निपटने के योगी सरकार के तरीके को लोग याद रखेंगे और भाजपा के खिलाफ वोट डालेंगे : ओवैसी◾गाजीपुर मंडी में मिले IED प्लांट करने की जिम्मेदारी आतंकी संगठन MGH ने ली◾दिल्ली में कोविड-19 के मामले कम हुए, वीकेंड कर्फ्यू काम कर रहा है: सत्येंद्र जैन◾कोविड-19 से उबरने का एकमात्र रास्ता संयुक्त प्रयास, एक दूसरे को पछाड़ने से प्रयासों में होगी देरी : चीनी राष्ट्रपति ◾ ओवैसी की पार्टी AIMIM ने जारी की उम्मीदवारों की दूसरी सूची, 8 सीटों पर किया ऐलान◾दिल्ली में कोरोना का ग्राफ तेजी से नीचे आया, 24 घंटे में 12527 नए केस के साथ 24 मौतें हुई◾अखिलेश के ‘अन्न संकल्प’ पर स्वतंत्र देव का पलटवार, ‘गन’ से डराने वाले किसान हितैषी बनने का कर रहे ढोंग ◾12-14 आयु वर्ग के बच्चों के लिए फरवरी अंत तक हो सकती है टीकाकरण की शुरुआत :NTAGI प्रमुख ◾ अबू धाबी में एयरपोर्ट के पास ड्रोन से अटैक, यमन के हूती विद्रोहियों ने UAE में हमले की ली जिम्मेदारी ◾कोरोना संकट के बीच देश की पहली एमआरएनए आधारित वैक्सीन, खास तौर पर Omicron के लिए कारगर◾CM चन्नी के भाई को टिकट न देने से सिद्ध होता है कि कांग्रेस ने दलित वोटों के लिए उनका इस्तेमाल किया : राघव चड्ढा◾उत्तराखंड : हरीश रावत बोले-हरक सिंह मांग लें माफी तो कांग्रेस में उनका स्वागत◾इस साल 75वें गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर 75 एयरक्राफ्ट उड़ान भरेंगे,आसमान से दिखेगी भारत की ताकत◾

मोदी सरकार की नई योजना, ‌जिससे बस में महिला यात्री रहेंगी और सुरक्षित

मोदी सरकार बस, टैक्‍सी में चलने वाले  यात्रियों खासकर  महिलाओं की  सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए एक  नई योजना लेकर आई है। 1 जनवरी 2019 से देश में चलने वाले सभी नए सार्वजनिक परिवहन वाहनों में अब निगरानी और आपात (इमरजेसी) बटन जैसे सुरक्षा उपकरण लगाना अनिवार्य होगा। यह नियम एक जनवरी 2019 या उसके बाद पंजीकृत वाहनों के लिए होगा।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने एक बयान में कहा, 'ऑटो रिक्शा और ई-रिक्शा को छोड़कर सभी नए सार्वजनिक परिवहन वाहनों में आपात बटन के साथ ‘वाहन की स्थिति की वास्तविक समय में जानकारी देने वाले निगरानी उपकरण’ (व्हीकल लोकेशन ट्रैकिंग-वीएलटी) लगाना अनिवार्य होगा। यह नियम एक जनवरी, 2019 या उसके बाद पंजीकृत होने वाले वाहनों के लिए होगा।'

अधिसूचना जारी कर वीएलटी और आपात बटन लगाने को अनिवार्य बनाया जाएगा। मंत्रालय ने कहा, 'वीएलटी उपकरण बनाने वाली कंपनियां निगरानी करने की सेवा प्रदान करने में मदद करेंगी। यह नियम यात्रियों की, विशेषकर महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लाया गया है।'

1 जनवरी के बाद रजिस्‍ट्रेशन में अनिवार्य होगी यह सेवा

पुराने वाहनों के बारे में मंत्रालय ने कहा कि जो वाहन 31 दिसंबर, 2018 तक पंजीकृत होंगे, उनके संबंध में संबंधित राज्य या केंद्र शासित प्रदेश की सरकारें तय करेंगी कि वह किस तिथि तक उनमें वीएलटी उपरकरण और आपातकाल बटन लगा सकते हैं।

इस संबंध में मंत्रालय ने राज्यों को परामर्श जारी किया है। सुरक्षा उपकरणों के विनिर्माताओं को उपकरणों की जांच करने वाली एजेंसी के पहले प्रमाणपत्र जारी करने के बाद हर साल उत्पादित किए जाने वाले उपकरणों का परीक्षण करना होगा।